खबरें आपकी

कीर्तियों को यादगार बनाने वाला का ही जीवन सफल: डॉ. धर्मेंद्र तिवारी

Scroll down to content

दशकों पूर्व स्व जैन ने की थी भोजपुर राज्य गठन की मांगःआदित्य विजय

स्व. पदमराज कुमार जैन की पुण्यतिथि पर कार्यक्रम आयोजित

आरण्य ज्योति पत्रिका के विशेषांक का हुआ लोकार्पण

आरा (डाॅ. कृष्ण कुमार/दिलीप ओझा)। शहर के मैना सुंदर भवन में स्व. पदमराज कुमार जैन की द्वितीय पुण्यतिथि समारोह आयोजित की गई। इस अवसर पर आरण्य ज्योति पत्रिका के संपादकीय संकलन का सारस्वत लोकार्पण किया गया। पत्रिका का लोकार्पण महापौर प्रियम, पूर्व कुलपति डॉ. धर्मेंद्र तिवारी, प्रो. उमाशंकर पांडेय, विश्वनाथ प्रसाद एवं प्रो. विजय कुमार ने संयुक्त रूप से की। स्वागत आदित्य विजन ने करते हुए आरण्य ज्योति के प्रकाशन के पीछे की मंशा व लंबे संघर्ष पर विस्तार से चर्चा की। उन्होंने स्व. पदमराज कुमार जैन द्वारा आरण्य ज्योति के विभिन्न चरणों में लिखे गए संपादकीय लेख का संकलन करते हुए उस समय जैन की अग्रिम सोच, आर्थिक विशेषज्ञता तथा तकनीकी ज्ञान का पता चलता है।

  ब्रेक बाइंडिंग की शिकार हुई फरक्का एक्सप्रेस, मची अफरातफरी

आदित्य विजय ने कहा कि आज से वर्षों पूर्व स्व. जैन ने भोजपुर राज्य के गठन की मांग की थी। पूर्व कुलपति डॉ. धर्मेंद्र तिवारी ने कहा कि इस लोक में वही मनुष्य सफल है। जिसके कीर्तियों को उसके जाने के बाद भी याद किया जाता है।

  संदेहास्पद स्थिति में महिला की मौत, सदर अस्पताल में तोड़ा दम

पूर्व विधायक अमरेंद्र प्रताप सिंह ने पदमराज कुमार जैन के प्रति अपने विचार व्यक्त किए। सभा को पूर्व प्राचार्य पारसनाथ सिंह, पूर्व विधान पार्षद लाल दास राय, भाई बरमेश्वर, परवेज अख्तर, एस. एम. राजा, रामदास राही आदि ने संबोधित किया। इस अवसर पर विपुल कुमार जैन, राकेश चंद जैन, राजेश्वर सिंह, डॉ. एस. के. रूंगटा, डॉ. सविता रुंगटा, डॉ. कमल कुमारी, रामबाबू प्रसाद, डी. राजन, सरदार गुरुचरण सिंह, विष्णु गोयंका एवं अजीत रंजन आदि उपस्थित थे।

  गवाही नहीं देने पर थानाध्यक्ष व चार चौकीदारों के वेतन पर रोक






Don`t copy text! सम्पर्क करें डॉ कृष्ण कुमार,दिलीप ओझा,रवि
LATEST NEWS