खबरें आपकी

भोजपुर में आग का कहरः तीन दर्जन आशियाने जलकर राख

Scroll down to content

शाहपुर के जवईनियां बिंद टोली में दोपहर में हुई घटना

चूल्हे की चिंगरी दो दिनों में तीस से अधिकघर जल कर राख

गरीबों के आशियाने से निवाले तक छीन गये

आरा/शाहपुर(डॉ के कुमार/दिलीप ओझा)। भोजपुर जिले के दियारे इलाके में आग का कहर जारी है। चूल्हे से निकली चिंगारी ने सोमवार को भी जवईनिया गांव के तीन दर्जन घरों को भस्म कर दिया। इसमें अनाज व कपड़ा समेत लाखों की संपत्ति भी स्वाहा हो गयी। जानकारी के अनुसार सोमवार की दोपहर के करीब एक बजे अचानक खाना बनाने के दौरान एक झोपड़ीनुमा घर के चूल्हे से चिंगारी उड़ गयी। देखते ही देखते वह चिंगारी शोला बन घरों पर गिरी और करीब दो दर्जन घर धू-धूकर जलने लगे। इससे बिंद टोली में हाहाकार व अफरा-तफरी मच गयी। लोग अपने घरों से भागने लगे। मवेशियों की भी रस्सी काट कर घरों से बाहर भगा दिया गया।

  गवाही नहीं देने पर थानाध्यक्ष व चार चौकीदारों के वेतन पर रोक

इसे देख मुखिया प्रतिनिधि मनोज साह सहित गांव के लोग आग पर काबू पाने में जुट गये। इसके लिए लोग आसपास के चापाकल से पानी डाल रहे थे। इधर, अगलगी की सूचना पर सीओ स्वेताभ वर्मा की पहल पर अग्निशमन वाहन भी पहुंचा। लेकिन जबतक दमकल गांव तक पहुंचतती, तब तक सब कुछ स्वाहा हो गया था। दमकल के पानी ने घरों के गर्म राख को बुझाने का काम किया। अग्नि पीड़ित परिवारों में जगेश्वर बिंद, परशुराम बिंद, कमलेश बिंद, गयास बिंद, चंद्रिका बिंद, मुंद्रिका बिंद, कंचन बिंद तथा चंदन बिंद सहित 30 परिवार शामिल हैं। बता दें कि जवईनियां गांव में रविवार की शाम भी आठ घर राख हो गये थे।

चूल्हे की आग ने बदल दी जवईनिया गांव की सूरत

आरा/शाहपुर। चूल्हे की चिंगारी जवईनियां गांव के लिए अभिशाप बनती जा रही है। भूख मिटाने के लिए जलाये जाने वाले चूल्हों से निकल रही चिंगारी घर ही जला दे रही है। दो दिनों में चूल्हे की चिंगारी ने तीन दर्जन घरों को अपनी आगोश में समेट लिया है। इससे जहां जवईनिया गांव की सूरत बदल गयी है। वहीं गरीबों के आशियाने से लेकर निवाले तक छीन गये हैं। लोग आंखों के सामने ही धू-धूकर जल रहे घरों को देखने को विवश हो रहे हैं। अगलगी में सब कुछ गंवा बैठे लोग अब सिर्फ दूसरों की मोहताज हो गये हैं। रविवार को जो लोग अग्निपीड़ितों को ढाढस बंधा रहे थे। आज वे भी पीड़ित बन बैठे। इसी बीच सीओ स्वेताभ वर्मा ने बताया कि सभी अग्नि प्रभावित परिवारों की सूची तैयार कर ली गयी है। सभी को मंगलवार के दिन अग्नि सहाय मद से निर्धारित राशि का चेक या नकद राशि दिया जायेगा। साथ ही पॉलीथिन का डिमांड जिला से की जायेगी।

  संदेहास्पद स्थिति में महिला की मौत, सदर अस्पताल में तोड़ा दम

अग्नि पीडितो से मिले जिला पार्षद

शाहपुर। अगलगी के बाद जवइनिया गांव के अग्नि पीड़ितों से मिलने क्षेत्रीय जिला परिषद सदस्य अशोक राम पहुंचे। उन्होंने आगलगी से हुई क्षति का जायजा लेते हुए लोगों से बातचीत की। उन्होंने कहा कि सरकार को अग्नि पीड़ित परिवारों को जल्द से जल्द राहत देनी चाहिए। सबसे आवश्यक है कि अग्नि पीड़ितों को तिरपाल की व्यवस्था हो जाय ताकि उनके परिवार उनके नीचे रह सके। अन्यथा उन्हें खुले आसमान के नीचे रहना पड़ेगा। वहीं झोपड़ीनुमा घरों में रहनेवाले लोगों को इंदिरा आवास जल्द से जल्द आवंटित किया जाना चाहिये। ताकि लोग ठंड के पहले घरों में रहना शुरू कर देना। उन्होंने कहा कि अगलगी के बहुत देर बाद भी पदाधिकारी नहीं पहुंचे जो अच्छी बात नहीं है। अग्नि पीड़ितों से मिलने पहुंचने वालों में प्रमुख प्रतिनिधि सुनील साह, जय किशुन पासवान, रमेश ठाकुर सहित कई अन्य लोग शामिल थे।

  बच्चो को घटिया एमडीएम परोसने पर भडके डीपीओ





Don`t copy text! सम्पर्क करें डॉ कृष्ण कुमार,दिलीप ओझा,रवि
LATEST NEWS