खबरें आपकी

बाइक व खेत नहीं मिली, तो विवाहिता को गला घोंट मार डाला

Scroll down to content

उदवंतनगर थाना क्षेत्र के असनी गांव की घटना

मृतका के परिजन ससुराल वालों पर लगा रहे हत्या का आरोप

आरा। शक्ति स्वरुपा देवी दुर्गा की आराधना शुरु होने की ठीक एक दिन पहले जिले में एक विवाहिता दहेज की सूली पर चढ़ा दी गयी। बाइक व खेत नहीं मिलने से नाराज ससुराल वालों ने गला घोंटकर उसकी हत्या कर दी। घटना बीती रात उदवंतनगर थाना क्षेत्र के असनी गांव में हुई। विवाहिता का शव उसके घर से ही बरामद किया गया। मृतका असनी गांव निवासी उमेश सिंह उर्फ फागु सिंह की पत्नी रिंकू देवी है। मायके वालों की सूचना पर पुलिस पहुंची और शव का पोस्टमार्टम कराया गया। हत्या का आरोप विवाहिता के ससुराल वालों पर लगाया जा रहा है। घटना के बाद से ही उसके ससुराल वाले घर से फरार हैं। इस संबंध में मृतका के चाचा हरेंद्र सिंह उर्फ हरि सिंह द्वारा स्थानीय थाना में प्राथमिकी दर्ज करायी गयी है। इसमें रिंकू के पति समेत पांच लोगों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज करायी गयी है।

  शादी की नियत से अगवा नौवीं की छात्रा बरामद

चौरी थाना क्षेत्र के डिलिया गांव की रहने वाले हरेंद्र सिंह उर्फ हरि सिंह ने बताया कि करीब नौ साल पहले रिंकू की शादी असनी गांव निवासी उमेश सिंह से हुई थी। रिंकू सिर्फ तीन बहन थी। उसका भाई नहीं था। उसके पिता के पास कुछ जमीन थी। ऐसे में शादी के बाद से ही ससुराल वाले खेत व बाइक की मांग कर रहे थे। उनका कहना था कि बाइक और खेत नहीं दोगे, तो ठीक नहीं होगा। इसी बीच मंगलवार को रिंकू की हत्या की सूचना मिली। इस पर जब उसके ससुराल पहुंचे, तो रिंकू का शव जमीन पर पड़ा हुआ है। बगल में अगरबत्ती जलाया गया था और घर के सभी लोग फरार थे। घर में सिर्फ एक बीमार बुजुर्ग महिला थी। इसके बाद पुलिस को सूचना दी गयी। पुलिस मामले की छानबीन व आरोपितों की धरपकड़ में जुट गयी है।

  समान काम-समान वेतन को लेकर बिहार राज्य प्रारंभिक शिक्षक संघ की संदेश मे हुई बैठक।

सोमवार को फोन कर पति ने दी थी मार डालने की धमकी

डिलिया गांव निवासी हरेंद्र सिंह ने बताया कि सोमवार को रिंकू के पति का फोन आया था। तब उसने खेत व बाइक नहीं मिलने पर मार डालने की धमकी दी थी। कहा था कि उसकी मांग पूरी नहीं हुई तो रिंकू को मार देगा। इसके बाद वे लोग अभी रिंकू के ससुराल जाकर समझाने की तैयारी ही कर रहे थे कि मंगलवार की सुबह हत्या की खबर आ गयी।

मायके में हुआ रिंकू का अंतिम संस्कार

चौरी थाना क्षेत्र के डिलिया गांव निवासी भुवनेश्वर सिंह की तीन बेटियों में रिंकू सबसे बड़ी थी। मांझिल बहन की शादी हो चुकी है, जबकि सबसे छोटी अविवाहित है। रिंकू को तीन बच्चे हैं। इनमें दो जुड़वां हैं। ससुराल वालों द्वारा हत्या किये जाने के बाद मायके वाले शव लेकर चले गये। उसका अंतिम संस्कार मायके में ही किया गया।



https://youtu.be/3fNDAiYnoT0


error: Content is protected !! खबरें आपकी,डॉ कृष्णा जी,दिलीप ओझा,रवि।
LATEST NEWS
Copied!