बाइक व खेत नहीं मिली, तो विवाहिता को गला घोंट मार डाला

बाइक व खेत नहीं मिली, तो विवाहिता को गला घोंट मार डाला

उदवंतनगर थाना क्षेत्र के असनी गांव की घटना

मृतका के परिजन ससुराल वालों पर लगा रहे हत्या का आरोप

आरा। शक्ति स्वरुपा देवी दुर्गा की आराधना शुरु होने की ठीक एक दिन पहले जिले में एक विवाहिता दहेज की सूली पर चढ़ा दी गयी। बाइक व खेत नहीं मिलने से नाराज ससुराल वालों ने गला घोंटकर उसकी हत्या कर दी। घटना बीती रात उदवंतनगर थाना क्षेत्र के असनी गांव में हुई। विवाहिता का शव उसके घर से ही बरामद किया गया। मृतका असनी गांव निवासी उमेश सिंह उर्फ फागु सिंह की पत्नी रिंकू देवी है। मायके वालों की सूचना पर पुलिस पहुंची और शव का पोस्टमार्टम कराया गया। हत्या का आरोप विवाहिता के ससुराल वालों पर लगाया जा रहा है। घटना के बाद से ही उसके ससुराल वाले घर से फरार हैं। इस संबंध में मृतका के चाचा हरेंद्र सिंह उर्फ हरि सिंह द्वारा स्थानीय थाना में प्राथमिकी दर्ज करायी गयी है। इसमें रिंकू के पति समेत पांच लोगों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज करायी गयी है।

  पोषण अभियान के अभिसरण कार्य योजना की बैठक में पोषण अभियान में तेजी लाने के दिए गए निर्देश

चौरी थाना क्षेत्र के डिलिया गांव की रहने वाले हरेंद्र सिंह उर्फ हरि सिंह ने बताया कि करीब नौ साल पहले रिंकू की शादी असनी गांव निवासी उमेश सिंह से हुई थी। रिंकू सिर्फ तीन बहन थी। उसका भाई नहीं था। उसके पिता के पास कुछ जमीन थी। ऐसे में शादी के बाद से ही ससुराल वाले खेत व बाइक की मांग कर रहे थे। उनका कहना था कि बाइक और खेत नहीं दोगे, तो ठीक नहीं होगा। इसी बीच मंगलवार को रिंकू की हत्या की सूचना मिली। इस पर जब उसके ससुराल पहुंचे, तो रिंकू का शव जमीन पर पड़ा हुआ है। बगल में अगरबत्ती जलाया गया था और घर के सभी लोग फरार थे। घर में सिर्फ एक बीमार बुजुर्ग महिला थी। इसके बाद पुलिस को सूचना दी गयी। पुलिस मामले की छानबीन व आरोपितों की धरपकड़ में जुट गयी है।

  बाढ़ से घिरे शाहपुर के दर्जनों गांव, प्रखंड मुख्यालय से टूटा संपर्क

सोमवार को फोन कर पति ने दी थी मार डालने की धमकी

डिलिया गांव निवासी हरेंद्र सिंह ने बताया कि सोमवार को रिंकू के पति का फोन आया था। तब उसने खेत व बाइक नहीं मिलने पर मार डालने की धमकी दी थी। कहा था कि उसकी मांग पूरी नहीं हुई तो रिंकू को मार देगा। इसके बाद वे लोग अभी रिंकू के ससुराल जाकर समझाने की तैयारी ही कर रहे थे कि मंगलवार की सुबह हत्या की खबर आ गयी।

  पोषण अभियान के अभिसरण कार्य योजना की बैठक में पोषण अभियान में तेजी लाने के दिए गए निर्देश

मायके में हुआ रिंकू का अंतिम संस्कार

चौरी थाना क्षेत्र के डिलिया गांव निवासी भुवनेश्वर सिंह की तीन बेटियों में रिंकू सबसे बड़ी थी। मांझिल बहन की शादी हो चुकी है, जबकि सबसे छोटी अविवाहित है। रिंकू को तीन बच्चे हैं। इनमें दो जुड़वां हैं। ससुराल वालों द्वारा हत्या किये जाने के बाद मायके वाले शव लेकर चले गये। उसका अंतिम संस्कार मायके में ही किया गया।






Don`t copy text! सम्पर्क करें डॉ कृष्ण कुमार,दिलीप ओझा,रवि
LATEST NEWS