खबरें आपकी

सांप ने डंसा, तो इलाज के बजाय करवाने लगे झाड़-फूंक

Scroll down to content

आरा सदर अस्पताल के इमरजेंसी वार्ड के समीप हुआ वाक्या

पीड़ित के पीठ पर थाली सटाकर चलता रहा झाड़-फूंक का खेल

आरा(डॉ के कुमार)। आईएसो मान्यता प्राप्त आरा सदर अस्पताल अब झाड़-फूंक का केंद्र भी बनता जा रहा है। अस्पताल में इलाज के साथ तंत्र-मंत्र से भी मरीजों का इलाज किया जाता है। इमरजेंसी व ओपीडी में डॉक्टर इलाज करते हैं। वहीं इमरजेंसी वार्ड के बाहर तांत्रिकों की महफिल सजती है। बुधवार की शाम भी अस्पताल में ऐसा ही नजारा देखा गया। इस दौरान सर्पदंश की शिकार दो लोगों का इलाज के बजाय झाड़-फूंक चल रहा था।

हुआ यह कि शहर से सटे अनाइठ गांव में बुधवार की शाम एक युवक को सांप ने डंस लिया। परिजन उसे लेकर इलाज के लिए सदर अस्पताल पहुंचे। हालांकि कुछ देर बाद ही परिजन इलाज के बजाय युवक का झाड़-फूंक कराने लगे। अस्पताल की इमरजेंसी वार्ड के समीप ही ओझा-गुणी को बुला लिया। उसके बाद पीड़ित युवक के पीठ पर थाली सटाकर तंत्र मंत्र का खेल शुरू हो गया। इसे देखने के लिए लोगों की भीड़ उमड़ी रही।

  रसायन मुक्त खेती व जैविक खेती को बढ़ावा देने को कार्यशाला आयोजित

बताया जाता है कि युवक अनाईठ गांव का निवासी है। वह बुधवार की शाम धान की खेत में गया था। तभी विषैले सांप ने डंस लिया। अभी उसका झाड़-फूंक चल ही रहा था कि सांप के डंसने से इलाज कराने पहुंची गड़हनी के पड़रिया निवासी एक बच्ची भी पहुंच गई। उसका भी ओझा गुनी ने तंत्र मंत्र से झाड़-फूंक शुरू किया। हालांकि झाड़-फूंक से दोनों पीड़ितों को कुछ फायदा हुआ कि नहीं इसका पता नहीं चल पाया है। इस सिलसिले में सदर अस्पताल में ऑन ड्यूटी चिकित्सक ने बताया कि सांप के डंसने से युवक व बच्ची को इलाज के लिए सदर अस्पताल लाया गया। दोनों में विषैले सांप के काटने से कोई लक्षण नहीं दिखाई दिए थे। ऐसे स्थिति में दोनों को दोनों को वेट एंड वॉच करने को कहा गया है।

  भोजपुर में चोरी का विरोध करने पर सगे भाइयों पर धारदार हथियार से हमला


https://youtu.be/3fNDAiYnoT0


error: Content is protected !! खबरें आपकी,डॉ कृष्णा जी,दिलीप ओझा,रवि।
LATEST NEWS
Copied!