खबरें आपकी

बहनों ने पहले दी श्राप और फिर की लंबी उम्र की कामना

Scroll down to content

परम्परागत तरीके से मनाया गया भैया दूज का त्योहार

बहनों ने भाइयों को खिलायी बजड़ी

आरा। भाई व बहन के प्रेम का त्योहार भैया दूज शुक्रवार को परम्परागत तरीके से मनाया गया। इस अवसर पर शहर सहित पूरे जिले में बहनों ने यम की प्रतिक बना कुटाई की। इसके बाद भाइयों के उज्ज्वल भविष्य व दीर्घायु होने की मंगलकामना की। इसको लेकर घरो में सुबह से ही उत्साह का माहौल था। बहने नये-नये परिधान पहनकर गोघन कुटने के लिए घर से निकली। परंपरागत गीतों के बीच पूजा के बाद मूसल से यम, यमनी सहित यमलोक में मौजूद भाई को नुकसान पहुंचाने वाले तत्वों की कुटाई की। ऐसी मान्यता है कि ऐसा करने से भाई को नुकसान पहुंचाने वाले तत्व भाग खड़े होते है। इसके पूर्व महिलाओं और युवतियों ने भाइयों को कोसती हुई मरने का श्राप दिया और इसके प्रयाश्चित के रूप में रेंगनी का कांटा जीभ में चुभोया। बाद में यम लोक से चना निकालकर भाइयों को बजड़ी का चना खिलाया। कहा जाता है कि बजड़ी का चना खाकर भाई ब्रज के समान हो जाता है।

  नाबालिग से दुष्कर्म के आरोपित को सश्रम उम्रकैद






Don`t copy text! सम्पर्क करें डॉ कृष्ण कुमार,दिलीप ओझा,रवि
LATEST NEWS
Copied!