खबरें आपकी

भगवान भाष्कर को आज अर्पित किया जायेगा पहला अर्ध्य

Scroll down to content

छठ महापर्व का तीसरा दिन

बुधवार को उदीयमान सूर्य को अर्ध्य के साथ समपन्न होगा छठ महापर्व

शहर सहित पूरे जिले में भक्तिमय में हुआ माहौल

झारखंड के बांस से बने दऊरा में घाट तक जाएगा कलसूप

आरा(डॉ. के कुमार)। सूर्योपासना के तीसरे दिन आज (मंगलवार) को भगवान भाष्कर को पहला अर्ध्य अर्पित किया जायेगा। व्रती अस्ताचलगामी भगवान सूर्य को अर्घ्य अर्पित करेंगे। वही बुधवार को उदीयमान सूर्य को अर्ध्य देने के साथ ही चार दिवसीय छठ महापर्व संपन्न हो जाएगा।

महापर्व को लोगो का उत्साह चरम पर

आरा। लोक आस्था के महापर्व को ले उत्साह चरम पर है। आज डूबते सूर्य को अर्ध्य देकर नमन किया जायेगा। इसकी तैयारी काफी तेज हो गयी है। व्रती सूर्य की उपासना में लीन हो गये हैं। छठ का प्रसाद बनाने का काम भी शुरू हो गया है। आम की लकड़ी पर ठेकुआ बनाया जा रहा है। व्रती महिलाएं छठी मईया की गीत के साथ प्रसाद बना रही हैं। इससे पूरा माहौल छठमय हो गया है। वहीं घर के सभी लोग छठ पूजा संपन्न कराने में जुटे हैं। कोई फल व पूजा सामग्री की खरीदारी, तो कुछ साफ-सफाई में लगा है। खरीदारी को लेकर बाजारों में भीड़ उमड़ रही है।

  वाहन ने बाइक में मारी ठोकर, जवान समेत दो घायल

झारखंड के बांस से बने दऊरा में घाट तक जाएगा कलसूप

आरा। इस बार झारखंड के बांस से बने दउरा में अर्ध्य देने के लिए कलसूप घाट तक जाएगा। बताया जाता है कि इस साल बाजार में झारखंड के डाल्टेनगंज के बांस से निर्मित छोटे, मझोले व बड़े साइज के दउरा की बाजार में बिक्री हो रही है। छोटा दउरा 80 रुपये, मझोले किस्म का दउरा 100 रुपये व बड़े साइज का दउरा 120 से 130 रुपये प्रति पीस के हिसाब से बिक रहा है। वहीं बांस से निर्मित कलसुप 50 से लेकर 80 रुपये प्रति जोड़ा बिक रहा है। नारियल छोटे साइज में 50 जोड़ा व बड़े साइज में 80 जोड़ा बिक्री हो रहा है।

  शाहपुर नगर पार्षद को पितृ शोक


खबरें आपकी Copy protect दिलीप ओझा,डॉ कृष्ण, रवि
LATEST NEWS
Copied!