खबरें आपकी

पुलिस एनकाउंटर में मारे गये मोस्ट वांटेड ‘हीरो’ के तीन साथी गिरफ्तार

Scroll down to content

हथियार व कारतूस बरामद, बोलेरो वाहन जब्त

पीरो थाना क्षेत्र के बरांव गांव में मंगलवार की देर शाम पुलिस व हीरो के बीच हुई थी मुठभेड़

पकडे गये कुंदन पर यूपी पुलिस द्वारा पचास हजार का है ईनाम

आरा। भोजपुर का मोस्ट वांटेड मनीष कुमार सिंह उर्फ हीरो उर्फ नीरज के मुठभेड़ में मारे जाने के बाद पुलिस ने उसके तीन साथियों को दबोच लिया। भोजपुर पुलिस, एसटीएफ व डीआईयू की संयुक्त टीम ने तीनो को गिरफ्तार कर लिया, उसके पास से 7.65 बोर के तीन पिस्टल, पांच गोली व चार खोखे भी बरामद किये गये हैं। इससे पहले दोपहर बाद जितौरा बाजार में उसकी मुठभेड़ हुई थी। इस दौरान हीरो भाग निकला था, लेकिन पुलिस ने उसके दो गूर्गों को गिरफ्तार कर लिया गया। एक बोलेरो गाड़ी भी जब्त की गयी।

हालांकि दो अपराधी भागने में सफल रहे। पकड़े गये अपराधियों में बक्सर के चरित्रवन निवासी अभिषेक पांडेय उर्फ बिट्टु व भोजपुर के नारायणपुर गांव निवासी कुंदन कुमार उर्फ राजा है। इन दोनों के पास से भी दो पिस्टल व चार गोलियां बरामद की गयी है। इन दोनों की निशानदेही पर शहर के शिवगंज निवासी मोनू उर्फ मुन्नु सिंह को हथियार के साथ गिरफ्तार कर लिया गया। भोजपुर एसपी आदित्य कुमार ने मनीष उर्फ हीरो के मारे जाने की पुष्टि की है। बुधवार को प्रेस कांफ्रेंस में एसपी ने बताया कि मंगलवार को हीरो के जितौरा बाजार में आने की सूचना मिली। इसके बाद उनके नेतृत्व में भोजपुर की एसआईटी, डीआईयू व एसटीएफ की टीम ने जितौरा बाजार घेराबंदी की। पुलिस को देख हीरो फायरिंग करते भागने लगा। जवाब में पुलिस द्वारा भी फायरिंग की गयी। फायरिंग के बीच हीरो तो भाग निकला, लेकिन बोलेरो सवार उसके दो गूर्गे दबोच को लिया गया। वहीं हीरो की तलाश में छापेमारी की जाती रही। इस बीच रात करीब साढ़े नौ बजे सूचना मिली कि हीरो बरांव गांव की ओर भाग रहा है। इस आधार पर फिर से उसकी घेराबंदी की गयी। पुलिस को देख उसने फायरिंग शुरू कर दी थी। जवाबी कार्रवाई में उसे गोली लग गयी और उसकी मौत हो गयी थी। एसपी ने बताया कि फरार दो अपराधियों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी की जा रही है।

  जन समाधान रथ को हरी झंडी दिखाकर डीएम ने किया रवाना
  दिन में दो बार फेल हुआ आरा-सासाराम सवारी गाड़ी का इंजन

एसपी ने बताया कि पकड़ा गया कुंदन पर यूपी पुलिस द्वारा 50 हजार के इनाम की घोषणा की गई थी। छापेमारी टीम में डीआईयू के सुदेह कुमार, राजीव रंजन, एसटीएफ के अजीत कुमार, पीरो थानाध्यक्ष जन्मेजय कुमार, जवान पप्पू कुमार, अमित कुमार शामिल थे। प्रेस कांफ्रेंस के दौरान पीरो डीएसपी रेशु कृष्णा, सदर एसडीपीओ पंकज कुमार मौजूद थे।






खबरें आपकी Copy protect दिलीप ओझा,डॉ कृष्ण, रवि
LATEST NEWS
गांव में हिंसक झड़प व रोडेबाजी के बाद अस्पताल में भी भिड़े दो पक्ष थाना परिसर से पुलिस को चकमा देकर भाग निकला आरोपित बैंक से पैसे निकाल घर लौट रहे मैकेनिक की सड़क दुर्घटना में मौत आर के सिंह ने किया बिहियां के गांवों में जनसंपर्क अभियान, लोगो दिया आशीर्वाद फिर एकबार मोदी सरकार संविधान की आत्‍मा और सेक्‍यूलर ताकतों पर हमला करने वाली भाजपा की फॉसीवादी सरकार को उखाड़ फेकें:-राजू यादव क्या प्रज्ञा ठाकुर के लिए भी वोट मांगेंगे नीतीश-शिवानंद विषाक्त चाय पीने से एक की मौत, 4 की तबीयत बिगड़ी वाराणसी में सम्मानित हुए आरा के गुरु बक्सी विकास पीड़ित मानवता की सेवा के लिए तत्पर रहते हैं डॉ. केएन सिन्हा जेल से सिम बरामदगी में कुख्यात बूटन चौधरी के खिलाफ प्राथमिकी
Copied!