खबरें आपकी

तीन घंटे तक चले उपद्रव का ढाई माह में पूरा हो गया ट्रायल

Scroll down to content

पांच सितंबर को पुलिस ने सौंपी थी चार्जशीट, 13 को हुआ था आरोप का गठन

अभियोजन पक्ष की ओर से आठ व बचाव पक्ष के दो गवाहों का बयान दर्ज

एक आरोपित किशोर घोषित, जुबेनाइल कोर्ट में होगा ट्रायल

आरा। बिहिया में इंटर के छात्र की हत्या के बाद करीब तीन घंटे तक चले उपद्रव के मामले का ढाई माह में ट्रायल पूरा हो गया। सभी पक्षों की दलील सुनने व सबूतों को देखने के बाद कोर्ट ने आरोपितों को दोषी करार दिया। इस मामले में कुल दस लोगों की गवाही हुई। इनमें अभियोजन पक्ष के आठ व बचाव पक्ष के दो गवाह शामिल हैं। पुलिस ने भी मामले को काफी गंभीरता से लेते हुये महज 16 दिनों में जांच पूरी कर ली। 20 अगस्त को हुई घटना के बाद पुलिस ने पांच सितंबर को सभी 21 आरोपितों के खिलाफ कोर्ट में चार्जशीट सौंप दी थी। इस पर कोर्ट ने छह सितंबर को संज्ञान लिया। इसके बाद 13 सितंबर को सभी आरोपितों के खिलाफ आरोप का गठन किया गया। इसके साथ ही ट्रायल शुरू हो गया। इसमें 24 अगस्त को पीड़िता का कोर्ट में बयान दर्ज कराया गया था। आरोपितों का बयान दो नवंबर को दर्ज किया गया।

  तेज हॉर्न के साथ कंट्रोल कर चलेंगी ट्रेनें

एक आरोपित किशोर घोषित, जुबेनाइल कोर्ट में होगा ट्रायल

आरा। महिला डांसर को निर्वस्त्र कर घुमाने में 21 लोगों आरोपित किया गया। पुलिस द्वारा सभी आरोपितों के खिलाफ चार्जशीट दाखिल कर दी गयी। कोर्ट ने 13 सितंबर को एक आरोपित को जुबेनाइल घोषित कर दिया। इसके बाद उसे रिमांड होम भेज दिया गया। ऐसे में उसके खिलाफ कोर्ट में ट्रायल नहीं चला। इस मामले में उसके खिलाफ जुबेनाइल कोर्ट में मामला चलेग।

निर्वस्त्र कांड में शामिल थे 21 आरोपित,15 किये गये थे नामजद

आरा। बहुचर्चित बिहिया निर्वस्त्र कांड में कुल 21 आरोपितों की भूमिका सामने आयी। इनमें 15 आरोपितों के खिलाफ नामजद प्राथमिकी दर्ज की गयी थी। बाद में पुलिसिया जांच में छह आरोपितों का नाम आया। गिरफ्तारी व सरेंडर के बाद पुलिस ने सभी आरोपितों के खिलाफ आरोप पत्र दाखिल कर दिया था। जानकारी के अनुसार वारदात के बाद पीड़िता के बयान पर 15 आरोपितों के खिलाफ नामजद प्राथमिकी दर्ज की गयी थी। इनमें किशोरी यादव, विनोद केशरी उर्फ मड़ई, रंजीत कुमार, राजबली कुमार उर्फ बड़क, सत्यनारायण प्रसाद, लखन कुमार, राजेश शर्मा, इमरती, मुन्नी साह, मो. मूटन अंसारी उर्फ ताज, शुभम शर्मा, अमित कुमार जायसवाल, सोनू कुमार, विक्की सिंह उर्फ दीपक कुमार यादव, गौतम कुमार उर्फ गणेश, सूरज कुमार उर्फ पप्पू शामिल हैं। बाद में पुलिसिया जांच व सीसीटीवी फुटेज के आधार पर विष्णु कुमार, विकास रजक, राकेश राय उर्फ पियुष राय उर्फ विन्नी, राजा साह, सिकंदर कुमार व बबुआ जी उर्फ गूंगा को आरोपित किया गया।

  संत रविदास जयंती पर तेजस्वी यादव के जनसभा की सफलता हेतु राजद की बैठक






खबरें आपकी Copy protect दिलीप ओझा,डॉ कृष्ण, रवि
LATEST NEWS
थाना परिसर से पुलिस को चकमा देकर भाग निकला आरोपित बैंक से पैसे निकाल घर लौट रहे मैकेनिक की सड़क दुर्घटना में मौत आर के सिंह ने किया बिहियां के गांवों में जनसंपर्क अभियान, लोगो दिया आशीर्वाद फिर एकबार मोदी सरकार संविधान की आत्‍मा और सेक्‍यूलर ताकतों पर हमला करने वाली भाजपा की फॉसीवादी सरकार को उखाड़ फेकें:-राजू यादव क्या प्रज्ञा ठाकुर के लिए भी वोट मांगेंगे नीतीश-शिवानंद विषाक्त चाय पीने से एक की मौत, 4 की तबीयत बिगड़ी वाराणसी में सम्मानित हुए आरा के गुरु बक्सी विकास पीड़ित मानवता की सेवा के लिए तत्पर रहते हैं डॉ. केएन सिन्हा जेल से सिम बरामदगी में कुख्यात बूटन चौधरी के खिलाफ प्राथमिकी अपाची बाइक व सोने की चेन के लिए विवाहिता की हत्या, सनसनी
Copied!