खबरें आपकी

आरा में दिनदहाड़े बैग-बेल्ट कारोबारी की गोली मार हत्या

Scroll down to content

बीएसएनएल कर्मी समेत दो लोग जख्मी

घायलों में मृतक का बडा भाई भी शामिल

टाउन थाना क्षेत्र के धर्मन चौक पर घटी घटना

20-22 की संख्या में थे हथियारबंद अपराधी

घटना के बाद इलाके की दुकान में हुई बंद

एसपी समेत तमाम पुलिस अफसर पहुंचे सदर अस्पताल

शव का सदर अस्पताल में कराया गया पोस्टमार्टम

आरा। शहर के धर्मन चौक पर गुरुवार को दिनदहाड़े एक बैग-बेल्ट कारोबारी की गोली मारकर हत्या दी गयी। वही फायरिंगं में बीएसएनएल कर्मी समेत दो लोग घायल हो गये हैं। घटना के बाद इलाके की दुकानों के शटर धड़ाधड़ गिरने लगे। वहीं लोगों में अफरा-तफरी मच गई। जानकारी के अनुसार मृतक कारोबारी टाउन थाना क्षेत्र के दूध कटोरा निवासी 38 वर्षीय इमरान खां हैं। उसे दाहिने आंख, सीने, गर्दन तथा कमर के पास करीब 5 गोली लगी है। मृतक का परिवार बैग व बेल्ट का बड़ा कारोबारी है। इन के दौरान मृतक का भाई अकील अहमद तथा कृष्णगढ थाना के गुण्डी निवासी बीएसएनएल कर्मी मो. फारूक गोली लगने से जख्मी हो गये। अकील अहमद को पेट में गोली लगी है। जबकि बीएसएनएल कर्मी मो. फारुख को बाएं जांघ में गोली लगी है, उसका ऑपरेशन आरा सदर अस्पताल में ही किया गया।

  गुरु-शिष्य परंपरा आज भी कायम- वेद प्रकाश 'सागर'

ऑपरेशन के दौरान सर्जन डॉ. अरुण कुमार ने जख्मी के पैर से गोली का बुलेट निकाला गया। ऑपरेशन में मूर्छक के रुप में डॉ. जेएन मिश्रा थे। बता दें कि इमरान के भाई सोहैल ने धर्मन चौक स्थित चौरसिया मार्केट में 8 दुकानें रजिस्ट्री करायी थी, लेकिन इनमें से कुछ दुकानों में खुर्शीद गिरोह ने ताला जड़ दिया था। इसी को ले विवाद चल रहा था। गुरुवार को 20-25 बदमाश धर्मन चौक पहुंचे। तो इमरान से पहले बाताबाती हुई। फिर बदमाशों ने अंधाधुंध फायरिंग शुरू कर दी। इसमें गोली लगने से इमरान की मौत हो गयी, जबकि उसका भाई अकील अहमद घायल हो गया। फायरिंग में किसी काम से गये बीएसएनएल कर्मी भी घायल हो गये। घटना की सूचना पाकर मौके पर पहुंची नगर पुलिस से स्थानीय लोगों की बकझक भी हुई। पुलिस के खिलाफ लोगों में नाराजगी है और लोगों ने हंगामा भी किया। घटना के बाद तत्काल एएसपी अभियान नितिन कुमार, सदर एसडीपीओ पंकज कुमार, नगर थानाध्यक्ष जेपी सिंह, नवादा थानाध्यक्ष सुबोध कुमार, मुफ्फसिल थानाध्यक्ष रविंद्र कुमार दल बल के साथ सदर अस्पताल पहुंचे। पुलिस लाइन से अतिरिक्त बल को भी सदर अस्पताल बुला लिया गया। बाद में पुलिस अधीक्षक आदित्य कुमार सदर अस्पताल पहुंचे।

  पर्यावरण जागरूकता हेतु शिक्षकों को प्रदान किया गया उन्नयन वृक्ष

उन्होंने मृतक के भाई से पूछताछ की। एसपी ने बताया कि मामला पूर्व से चले आ रहे जमीनी विवाद का है। बदमाशों की संख्या 20-22 बताई जाती है। इसमें कुछ बाइक पर सवार थे। सभी खुर्शीद गिरोह के आदमी थे। चार-पांच लोगों को चिन्हित कर लिया गया है। पुलिस आरोपियों की धरपकड़ के लिए छापेमारी कर रही है। शव का पोस्टमार्टम सदर अस्पताल में कराया गया। जहां चिकित्सको की तीन सदस्यीय मेडिकल बोर्ड ने शव का पोस्टमार्टम किया।

  अपनी ही नाबालिग पुत्री का रेप करने वाला पिता कोलकाता में गिरफ्तार






Don`t copy text! सम्पर्क करें डॉ कृष्ण कुमार,दिलीप ओझा,रवि
LATEST NEWS
Copied!