खबरें आपकी

रेलवे द्वारा खोदे गये गड्ढे में गिरे राजद विधायक, तो भड़के लोग

Scroll down to content

उदवंतनगर के भूपौली रेलवे क्रॉसिंग पर गुरुवार के शाम की घटना

रेलवे व जिला प्रशासन की लापरवाही से नाराज विधायक बैठे धरना पर

विधायक का चढ़ा पारा, तो हरकत में आया जिला प्रशासन व भर दिया गड्ढा

आरा/उदवंतनगर। भोजपुर जिले के संदेश विधान सभा क्षेत्र के राजद विधायक अरुण यादव रेलवे द्वारा खोदे गये गड्ढे में गिर पड़े। घटना गुरुवार की शाम उदवंतनगर थाना क्षेत्र के भूपौली रेलवे क्रॉसिंग के पास हुई। इस हादसे में विधायक को मामूली चोटें भी आयी है। इसके बाद विधायक का पारा चढ़ गया। वे अपने समर्थकों के साथ मौके पर धरना देने बैठ गये। उनका कहना था कि जबतक जिला व रेल प्रशासन द्वारा गड्ढे को भरा नहीं जायेगा। तबतक वे वहां से नहीं हटेंगे। इसकी सूचना से जिला प्रशासन सकते में आ गया। जिला प्रशासन तुरंत हरकत में आ गया। आनन-फानन में आरईओ के कार्यपालक अभियंता प्रमेंद्र नाथ व उदवंतनगर के प्रभारी बीडीओ मदन नारायण सिंह तत्काल मौके पर पहुंचे। इसके बाद गड्ढे को भरने का काम शुरू कर दिया गया। इसके बाद विधायक का कुछ गुस्सा शांत हुआ। हालांकि अभी तक पोल को नहीं हटाया जा सका है।

  जल शक्ति अभियान योजना चयन हेतु मनरेगा भवन में हुई बैठक

दरअसल हुआ यह कि विधायक अरुण यादव गुरुवार की शाम किसी बीमार व्यक्ति का हालचाल जानने भूपौली गांव जा रहे थे। उनके साथ अगिआंव के प्रखंड प्रमुख मुकेश यादव, बीरबल यादव सहित अन्य कार्यकर्ता भी थे। रेलवे क्रॉसिंग के समीप रोड अवरूद्ध होने के कारण वे गाड़ी से उतर पैदल चल दिये। इसी क्रम में वे गहरे गड्ढे में गिर पड़े। इसके बाद विधायक भड़क उठे। इस दौरान विधायक ने केंद्र व बिहार सरकार पर जमकर अपनी भड़ास निकाली। जिला व रेल प्रशासन पर भी विधायक बिफर पड़े। उन्होंने कहा कि एक तरफ गांव को जोड़ा जा रही है। दूसरी ओर रेलवे द्वारा भूपौली गांव के रास्ते को बंद कर रहा है। उन्होंने कहा कि बिहार सरकार की सड़क होने के बावजूद किसी भी सीनियर अफसर को रोड काटे जाने की सूचना नहीं है।

  गुरु कृपा के बिना विद्या की कल्पना अधूरी-विकाश

ट्रेन व मैजिक की टक्कर के बाद खोदा गया गड्ढा

आरा। आरा-सासाराम रेलखंड पर भूपौली गांव के समीप मंगलवार को ट्रेन व मैजिक गाड़ी के बीच टक्कर हो गयी थी। तब आवागमन रोकने के लिए रेलवे द्वारा क्रॉसिंग के दोनों ओर पोल लगा दिया गया था। इस दौरान गड्ढे भी खोद दिये गये थे। उस समय भी ग्रामीणों ने विरोध किया था और हंगामा किया था। ग्रामीणों का कहना था कि उनके गांव जाने का वही एकमात्र रास्ता है। इसके बावजूद सुरक्षा का हवाला व भूपौली को अवैध क्रॉसिंग बताते हुए रेलवे द्वारा पोल लगे दिये गये थे। इधर, आरईओ कार्यपालक अभियंता व उदवंतनगर के बीडीओ ने बताया कि गड्ढे को भर दिया गया है। इस संबंध में डीएम को रिपोर्ट दी जायेगी। उनके आदेश पर आगे की कार्रवाई की जायेगी।

  नाबालिग से दुष्कर्म के आरोपित को सश्रम उम्रकैद






Don`t copy text! सम्पर्क करें डॉ कृष्ण कुमार,दिलीप ओझा,रवि
LATEST NEWS
Copied!