खबरें आपकी

जिले के आठ शिक्षकों पर फर्जीवाडे के आरोप में प्राथमिकी दर्ज

Scroll down to content

मामला बड़हरा थाना का जांच में मिला शिक्षकों का फर्जी प्रमाण पत्र

प्रखंड प्रमुख, बीडीओ समेत नियोजन इकाई अन्य सदस्यों पर भी निगरानी विभाग ने कराई प्राथमिकी

आरा। फर्जी प्रमाणपत्रों के आधार पर शिक्षकों को नियोजित करने के मामले में चल रहे जांच के रिपोर्ट में फर्जीवाड़े की कलई खुलने पर संबंधित शिक्षकों व नियोजन इकाई के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कराई गई है। जांच के बाद कुल आठ प्रखंड शिक्षकों तथा प्रखंड नियोजन इकाई के तात्कालिक अध्यक्ष सह प्रखंड प्रमुख, सदस्य सचिव सह बीडीओ व नियोजन इकाई से जुड़े अन्य सदस्यों के खिलाफ जांचकर्ता निगरानी अन्वेषण ब्यूरो के पुलिस निरीक्षक ईश्वर प्रसाद ने बड़हरा थाना में एक मामला दर्ज कराया है।

  पर्यावरण जागरूकता हेतु शिक्षकों को प्रदान किया गया उन्नयन वृक्ष

जानकारी के अनुसार वर्ष 2013 व 2014 में नियोजित प्रखंड शिक्षकों में आशुतोष कुमार (मवि.पकड़ी), इन्द्र कुमार निराला (मवि.सोहरा), निलकंठ नारायण सिंह (मवि. फरना), बिरेंद्र प्रसाद सिंह (मवि.गुंडी), राजबिहारी यादव (उत्क्रमित मवि. दुर्गटोला), अनीता देवी (उत्क्रमित मवि. नवकाटोला खवासपुर), बिन्दू कुमारी (उत्क्रमित मवि. कोल्हरामपुर) तथा संध्या कुमारी (उत्क्रमित मवि.गुंडी) के शैक्षणिक व प्रशैक्षणिक प्रमाण-पत्रों में फर्जीवाड़े का मामला सामने आया। जिसके बाद जांच कर्ता ने दोषी शिक्षकों व तात्कालिक नियोजन इकाई के अध्यक्ष प्रमुख गीता देवी, सचिव बीडीओ निर्मल कुमार सिंह, बीईओ मजिस्टर सिंह व पंचायत प्रतिनिधि के एक सदस्य के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कराया है।

  शिक्षक पति की अनुपस्थिति में महिला को घर आकर छेड़ रहा था युवक






Don`t copy text! सम्पर्क करें डॉ कृष्ण कुमार,दिलीप ओझा,रवि
LATEST NEWS
Copied!