खबरें आपकी

शिक्षा में संस्कार का होना बेहद जरूरी- जिला जज

Scroll down to content

वशिष्ठ नारायण एंड रश्मि मेमोरियल ट्रस्ट द्वारा छात्र सम्मान समारोह का आयोजन किया गया

पिता के आकांक्षाओं के अनुरुप कार्य करने से आत्म संतुष्टि मिलती है उसे शब्दो मे बयान नही किया जा सकता-अश्वनी पांडे

संतान को हमेशा ही माता पिता को पहला आदर्श मानना चाहिए-डॉ मंजू पांडे

आरा/शाहपुर(दिलीप ओझा): शाहपुर स्थित हरिनारायण उच्च विद्यालय सह इंटर कालेज में स्व बशिष्ठ नारायण पांडे पांडे के पुण्यतिथि के अवसर पर वशिष्ठ नारायण एंड रश्मि मेमोरियल ट्रस्ट द्वारा छात्र सम्मान समारोह का आयोजन किया गया। जिसमें क्षेत्र के अंतर्गत माध्यमिक एवं इंटर में प्रथम, द्वतीय तथा तृतीय आने वाले विभिन्न विद्यालयों के छात्र-छात्राओं को उच्च न्यायालय के अधिवक्ता अश्वनी कुमार पांडे द्वारा पुरस्कार देकर सम्मानित किया गया।

  भोजपुर के कोइलवर में बड़े भाई ने अपने ही अनुज को पीटकर मार डाला

उपस्थित छात्र-छात्राओ एवं अभिभावकों को संबोधित करते हुए जिला एवं सत्र न्यायाधीश अमर पति त्रिपाठी ने कहा कि इस तरह के कार्यक्रम छात्रों के लिए प्रेरणास्रोत है। वर्तमान समय मे शिक्षा का क्षरण हो रहा है, शिक्षा में संस्कार की कमी हो रही। शिक्षा सिर्फ नौकरी के लिए माध्यम बनते जा रही है। शिक्षा के व्यवसायी कारण से रोकना बहुत जरूरी है। छात्र भटकाव के रास्ते पर है इसलिए जरूरी है कि छात्रों को भ्रमित होने के रोका जाय।

वही ट्रस्ट के संचालक उच्च न्यायालय के अधिवक्ता अश्वनी कुमार पांडे एवं डॉ मंजू पांडे ने कहा कि पिता के आकांक्षाओं के अनुरुप कार्य करने के आत्म संतुष्टि मिलती है उसे शब्दो मे बयान नही किया जा सकता। इसलिए संतान को हमेशा ही माता पिता को पहला आदर्श मानना चाहिए। इसके पूर्व जिला एवं सत्र न्यायाधीश को ट्रस्ट के सदस्य विजय कुमार पांडे द्वारा अंगवस्त्र व पुष्पगुच्छ देकर सम्मानित किया गया।

  मोस्टवांटेड 'हीरो' का खातमा अपराधियों के लिए बड़ी सबक

कार्यक्रम के दौरान इंटर, मैट्रिक तथा नवमी कक्षाओं के टॉपर छात्र-छात्राओं सुरज कुमार, शिवानी कुमारी, विकास कुमार, रागिनी कुमारी, अभिषेक ओझा, राजू पाल, रचना कुमारी, सोनू कुमार तथा खुशबू कुमारी सहित अन्य कई छात्रों को पुरस्कार देकर सम्मानित किया गया।

कार्यक्रम में अवकाश प्राप्त बीईओ डी बी माथुर, विद्यालय के प्राचार्य वरुण देव पाठक, प्रज्ञा त्रिपाठी, विजय कुमार पांडे, बृजकिशोर पांडे, सज्जन पांडे, राजेश मिश्र, शिक्षाविद सुशील तिवारी सहित कई गणमान्य व्यक्ति उपस्थित थे।


One Reply to “शिक्षा में संस्कार का होना बेहद जरूरी- जिला जज”

Comments are closed.

खबरें आपकी Copy protect दिलीप ओझा,डॉ कृष्ण, रवि
LATEST NEWS
Copied!