खबरें आपकी

सदर अस्पताल के कर्मचारी सहित सात के खिलाफ प्राथमिकी, फोटो व ऑडियो वायरल प्रकरण

Scroll down to content

स्वास्थय कर्मी सहित चार पर केस नहीं उठाने पर धमकी देने का आरोप

आरटीआई कार्यकर्ता सहित तीन पर फोटो व ऑडियो वायरल की शिकायत

आरा। अस्पताल के कर्मचारी व एक महिला का फोटो व ऑडियो वायरल मामले ने काफी तूल पकड़ लिया है। इस मामले में दोनों पक्षों द्वारा नवादा थाने में प्राथमिकी दर्ज करायी गयी है। इसमें आरा सदर अस्पताल के कर्मचारी सहित सात लोगों को आरोपित किया गया है। एक पक्ष केस उठाने के लिए जान मारने की धमकी देने, तो दूसरे ने आपत्तिजनक फोटो व ऑडियो वायरल करने का आरोप लगाया है। पुलिस पूरे मामले की छानबीन में जुट गयी है।

पहली प्राथमिकी एक युवती ने दर्ज करायी है। इसमें युवती ने उसका फोटो व आवाज इडिट कर फेसबुक व व्हाटसएप पर वायरल करने, गंदी बातें करने व जान मारने का आरोप लगाया गया है। इसे ले तीन लोगों को आरोपित किया गया है। इनमें श्यामनंदन शर्मा, राघवेंद्र नारायण राय व शैलेंद्र बिहारी को आरोपित किया गया है। शैलेंद्र बिहारी एक पत्रिका के संपादक बताये जा रहे हैं। कहा गया है कि तीनों आरोपितों द्वारा पिछले दस दिनों से फोन कर परेशान किया जा रहा है। श्यामनंदन शर्मा द्वारा अपने को लंबू शर्मा का भाई बता उठा लेने व जान मारने की धमकी दी जा रही है।

  अतिमी में महिला- पुरुष दंगल प्रतियोगिता की तैयारी हुई तेज

दूसरे पक्ष का आरोप-घर आकर केस उठाने की दी गयी धमकी

इधर, दूसरे पक्ष के कतिरा निवासी राघवेंद्र नारायण राय ने घर आकर केस उठाने व जान मारने की धमकी देने की शिकायत दर्ज करायी गयी है। इनके द्वारा सदर अस्पताल के कर्मचारी सुशील कुमार, उनके भाई सुनील कुमार, निधि कुमारी व एक अन्य पर आरोप लगाया गया है। कहा गया है कि कुछ दिन पूर्व उनके द्वारा आरटीआई के माध्यम से सुशील कुमार के संपत्ति की जानकारी मांगी थी। जानकारी नहीं मिलने पर कोर्ट में केस किया था। गुरुवार की सुबह वे अपने दरवाजे पर बैठे थे। तभी सभी आरोपित पहुंचे और केस उठाने की धमकी देने लगे। पांच लाख रुपये रंगदारी की मांग की गयी। नहीं देने पर रेप के मामले में फंसाने व हत्या करने की धमकी दी गयी।

  कमल किशोर सिंह बने आरा रेल थानाध्यक्ष


खबरें आपकी Copy protect दिलीप ओझा,डॉ कृष्ण, रवि
LATEST NEWS
Copied!