खबरें आपकी

इनामी ब्रजेश मिश्रा को गिरफ्तार करने वाली टीम हुई पुरस्कृत

Scroll down to content

पुरस्कृत टीम के सदस्य एएसपी (अभियान) नितिन कुमार, बिहिया सर्किल इंस्पेक्टर संजय कुमार सिन्हा, दारोगा जेके भारती, राजीव कुमार, रविंद्र कुमार, मनिन्द्र कुमार, जवान शिव कुमार, पप्पू, गोपाल, मनोहर अविनाश व संतोष है

सभी को बतौर पुरस्कार 34-34 सौ रुपये मिले

आरा। भाजपा के कद्दवार नेता विशेश्वर ओझा हत्या के मुख्य आरोपित इनामी ब्रजेश मिश्र को गिरफ्तार करने वाली पुलिस टीम को पुरस्कृत किया गया है। टीम में शामिल सभी अफसरों व जवानों को इनाम की राशि दी गयी है। इसकी जानकरी एसपी ने आदित्य कुमार ने दी। उन्होंने बताया कि टीम में शामिल 12 पुलिसकर्मियों को रिवॉर्ड दिया गया है। इसमें अफसर व जवान भी शामिल है। सभी को 34-34 सौ रुपये दिये गये हैं। उन्होंने बताया कि टीम में एएसपी (अभियान) नितिन कुमार, बिहिया सर्किल इंस्पेक्टर संजय कुमार सिन्हा, दारोगा जेके भारती, राजीव कुमार, रविंद्र कुमार, मनिन्द्र कुमार, जवान शिव कुमार, पप्पू, गोपाल, मनोहर अविनाश व संतोष है।

  गुरु कृपा के बिना विद्या की कल्पना अधूरी-विकाश

बता दें 12 फरवरी 2016 को सोनबरसा बाजार में भाजपा नेता को भून दिया गया था। उस मामले में ब्रजेश मिश्र व हरेश मिश्र सहित अन्य के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज करायी गयी थी। गिरफ्तारी नहीं होने पर दोनों भाइयों के खिलाफ पचास-पचास हजार रुफये का इनाम रखा गया था। बाद में हरेश मिश्रा को गिरफ्तार कर लिया गया, जबकि ब्रजेश मिश्र पकड़ में नहीं आ रहा था। इसी बीच भाजपा नेता हत्याकांड के मुख्य गवाह को भी गोलियों से भून दिया गया। उसमें भी ब्रजेश मिश्र का नाम आया था। उसके बाद उसकी गिरफ्तारी चुनौती बन गयी थी। मामले की गंभीरता को देखते हुए एसपी अवकाश कुमार का तबादला कर दिया गया था। आदित्य कुमार को भोजपुर का एसपी बनाया गया था। उसके बाद 13 अक्टूबर को एसपी के नेतृत्व में पुलिस टीम ने इनामी ब्रजेश मिश्र को मुठभेड़ के बाद गिरफ्तार कर लिया गया था।

  शिक्षक पति की अनुपस्थिति में महिला को घर आकर छेड़ रहा था युवक






Don`t copy text! सम्पर्क करें डॉ कृष्ण कुमार,दिलीप ओझा,रवि
LATEST NEWS
Copied!