खबरें आपकी

रेलकर्मी ने बिछड़े बच्चे को परिजनों से मिलाया

Scroll down to content

रेलकर्मी व टिकट परीक्षक मनोज कुमार पांडेय के प्रयास से परिजनों को खोया बच्चा मिल गया

खबरें आपकी 17 मार्च आरा। रेलवे दूरियां ही नहीं मिटाती है, बल्कि बिछड़ों को अपनों से मिलाने किया भूमिका निभाती है। आरा रेलवे स्टेशन पर शनिवार को एक ऐसा ही मामला सामने आया। स्टेशन पर भटक रहे चार साल के एक बच्चे को उसके माता-पिता से मिला दिया गया। बच्चा भोजपुर जिले के गड़हनी थाना क्षेत्र के बड़ौरा गांव निवासी सहदेव कुमार राज का पुत्र राजा है। रेलकर्मी व टिकट परीक्षक मनोज कुमार पांडेय के प्रयास से परिजनों को खोया बच्चा मिल गया।

  डीएम व डॉक्टरों का टकराव बढ़ा, डॉक्टरों की हड़ताल जारी

उन्होंने बताया कि चार साल का बच्चा स्टेशन पर रोते हुए भटक रहा रहा था। वह बोलने में असमर्थ था। कुछ यात्री उसे लेकर सीआईटी ऑफिस पहुंचे। उसके बाद ने बच्चे को गोद मे लेकर पूछताछ काउंटर पर ले गये और बच्चे के बारे में अनाउंस कराया। फिर बच्चे को लेकर जीआरपी में गए। इधर, बच्चा लगातार को रोये जा रहा था। इसे देखते हुए उन्होंने बच्चे को तीनों प्लेटफार्म पर घुमाया। करीब एक घंटा बाद उसके परिजन आये और बच्चे को पहचान अपने साथ ले गये।

  अतिमी गांव में राज्य स्तरीय महिला- पुरुष दंगल प्रतियोगिता





खबरें आपकी Copy protect दिलीप ओझा,डॉ कृष्ण, रवि
LATEST NEWS
सावधान! चुनाव के दौरान सोशल मीडिया की निगेहबानी करेगा आयोग बस के धक्के से ससुराल जा रही बाइक सवार महिला की मौत ट्रक ने स्कूटी सवार दो युवको को रौंदा, एक की मौत सोने की चेन के लिए विवाहिता की गला घोंट हत्या, देवर गिरफ्तार हथकड़ी के साथ फरार शराब तस्कर ने किया सरेंडर मतदान करने हेतु मतदाताओं के लिए फोटोयुक्त मतदाता पहचान-पत्र के अतिरिक्त 11 अन्य वैकल्पिक दस्तावेज भी मतदाता पहचान-पत्र के रूप में होगें मान्य स्पेशल ऑपरेशन ग्रुप अपराधियों पर कसेगी नकेल सड़क हादसे में जख्मी चाय दुकानदार की मौत मोस्ट वांटेड नइम मियां की गिरफ्तारी पुलिस के लिए बनी चुनौती आरा रेलवे स्टेशन दोहरे हत्याकांड का वांटेड दो साथियों संग दबोचा गया
Copied!