खबरें आपकी

सरकारी विश्राम गृह व आवासों को किसी दल विशेष का एकाधिकार नही

Scroll down to content

सरकारी परिसर में नही खुलेगा पार्टियों का कार्यालय

सभी को मिलेगा निश्चित कानूनी दायरे में उपयोग की अनुमति

खबरें आपकी,आरा। विश्राम गृह, डाक बंगला या अन्य सरकारी आवासों पर सत्तारूढ़ दल या उसके प्रत्याशियों का एकाधिकार नहीं रहेगा। साथ ही अन्य दलों और प्रत्याशियों को निष्पक्ष ढंग से आवासों का उपयोग करने की अनुमति दी जाएगी। कितु किसी भी दल अथवा प्रत्याशी को सरकारी आवास या उसके परिसर को चुनाव कार्यालय अथवा निर्वाचन प्रचार-प्रसार के लिए उपयोग करने की अनुमति नहीं होगी। इसके विपरीत जाकर कार्य करना चुनाव आदर्श आचार संहिता के दायरे में आएगा और संबंधित के विरुद्ध चुनाव आदर्श आचार संहिता की सुसंगत धाराओं के अंतर्गत कार्रवाई की जाएगी।

  प्रेम प्रसंग में गमछा से गला घोंट की गयी थी कृष्णा की हत्या

जिला प्रशासन जिले में चुनाव आदर्श आचार संहिता लागू होने के बाद आचार संहिता पर अपनी कड़ी नजर बनाए हुए है। जिला निर्वाचन पदाधिकारी सह जिलाधिकारी संजीव कुमार ने राजनीतिक दलों के प्रतिनिधियों के साथ बैठक में आयोग के दिशा-निर्देशों का अक्षरश: पालन करने का निर्देश जारी किया है। बता दें कि जिले में सातवें चरण में लोकसभा का चुनाव होना निर्धारित हुआ है। चुनाव आदर्श आचार संहिता को अक्षरश: पालन करने के लिए जिले में चुनाव आदर्श आचार संहिता कोषांग बनाया गया है। इस कोषांग के नोडल पदाधिकारी श्रम अधीक्षक राकेश रंजन को बनाया गया है। अब तक जिले भर में चुनाव आदर्श आचार संहिता उल्लंघन करने के दर्जन भर से ज्यादा मामले अलग-अलग थानों में दर्ज किए जा चुके हैं।

  अंग्रेजी व देसी शराब के साथ दो गिरफतार, तीन फरार





error: Content is protected !! खबरें आपकी,डॉ कृष्णा जी,दिलीप ओझा,रवि।
LATEST NEWS
सैकड़ों बच्चों की हुई मौत पर सरकार की नाकामी के विरुद्ध राजद ने दिया धरना अंग्रेजी व देसी शराब के साथ दो गिरफतार, तीन फरार कॉलेज से नामांकन के करीब डेढ़ लाख रुपये की चोरी प्रेम प्रसंग में गमछा से गला घोंट की गयी थी कृष्णा की हत्या भाजपा नेता सनोज यादव के बीमार पुत्र को देखने पहुंचे संसद रामकृपाल यादव अपराध मुक्त बिहार बनाने डीजीपी बिहार गुप्तेश्वर पांडेय को लाइव सुने चिमनी भट्ठा पर ठनका गिरने से महिला की मौत, तीन घायल नवजात के शव पड़े रहने से मची सनसनी तृतीय एशियन लीडर्स सम्मेलन भूटान में भोजपुर के प्रो. अशोक राम सम्मानित आर्सेनिकयुक्त पेयजल से मुक्ति को लेकर प्रस्तावित बहुग्रामीण पाइप जलापूर्ति योजना रद्द
Copied!