खबरें आपकी

सरकारी विश्राम गृह व आवासों को किसी दल विशेष का एकाधिकार नही

Scroll down to content

सरकारी परिसर में नही खुलेगा पार्टियों का कार्यालय

सभी को मिलेगा निश्चित कानूनी दायरे में उपयोग की अनुमति

खबरें आपकी,आरा। विश्राम गृह, डाक बंगला या अन्य सरकारी आवासों पर सत्तारूढ़ दल या उसके प्रत्याशियों का एकाधिकार नहीं रहेगा। साथ ही अन्य दलों और प्रत्याशियों को निष्पक्ष ढंग से आवासों का उपयोग करने की अनुमति दी जाएगी। कितु किसी भी दल अथवा प्रत्याशी को सरकारी आवास या उसके परिसर को चुनाव कार्यालय अथवा निर्वाचन प्रचार-प्रसार के लिए उपयोग करने की अनुमति नहीं होगी। इसके विपरीत जाकर कार्य करना चुनाव आदर्श आचार संहिता के दायरे में आएगा और संबंधित के विरुद्ध चुनाव आदर्श आचार संहिता की सुसंगत धाराओं के अंतर्गत कार्रवाई की जाएगी।

  विद्युत करंट से सेंटरिंग मिस्त्री की मौत

जिला प्रशासन जिले में चुनाव आदर्श आचार संहिता लागू होने के बाद आचार संहिता पर अपनी कड़ी नजर बनाए हुए है। जिला निर्वाचन पदाधिकारी सह जिलाधिकारी संजीव कुमार ने राजनीतिक दलों के प्रतिनिधियों के साथ बैठक में आयोग के दिशा-निर्देशों का अक्षरश: पालन करने का निर्देश जारी किया है। बता दें कि जिले में सातवें चरण में लोकसभा का चुनाव होना निर्धारित हुआ है। चुनाव आदर्श आचार संहिता को अक्षरश: पालन करने के लिए जिले में चुनाव आदर्श आचार संहिता कोषांग बनाया गया है। इस कोषांग के नोडल पदाधिकारी श्रम अधीक्षक राकेश रंजन को बनाया गया है। अब तक जिले भर में चुनाव आदर्श आचार संहिता उल्लंघन करने के दर्जन भर से ज्यादा मामले अलग-अलग थानों में दर्ज किए जा चुके हैं।

  एनएसयूआई के जिलाध्यक्ष व उसके साथी पर हुए जानलेवा हमले पर जताया आक्रोश


This slideshow requires JavaScript.




Don`t copy text! सम्पर्क करें डॉ कृष्ण कुमार,दिलीप ओझा,रवि
LATEST NEWS
बीएचयू की प्रवेश परीक्षा में नंदिता ने पाया दसवां स्थान प्रदर्श कला सर्टिफिकेट कोर्स के एकवर्षीय पाठ्यक्रम में प्रशिक्षण कार्यक्रम का प्रारम्भ अधिवक्ता की हत्या के मामले में दो को आजीवन कारावास हथियार के बल पर व्यवसायी से मोबाइल व बाइक लूटा संपत्ति बंटवारे के विवाद में मारी गयी एनएसयूआई अध्यक्ष व दोस्त को गोली, एफआईआर दर्ज विद्युत करंट से सेंटरिंग मिस्त्री की मौत सिविल कोर्ट बम ब्लास्ट कांड में दोषियों को आज सुनायी जायेगी सजा कोर्ट की सख्ती व पुलिसिया दबिश से कुख्यात चांद मियां ने किया सरेंडर डीएसपी के निर्देश पर अंगरक्षक ने पत्रकार को पीटा, विरोध में सडक जाम एनएसयूआई के जिलाध्यक्ष व उसके साथी पर हुए जानलेवा हमले पर जताया आक्रोश