खबरें आपकी

सीता-राम विवाह कथा सुन भाव-विभोर हुए लोग

Scroll down to content

राम- परसुराम संवाद, लक्ष्मण के आनंदमय व्यंग्यात्मक शब्द, सीता राम विवाह के उपरांत मिथिला की नारियों के द्वारा हास्य द्विअर्थी गीत के आनंद में झूमते रहे श्रोता

कथावाचक पंडित मारुति किंकर जी महाराज के मुखारविंद से सीता-राम विवाह की कथा श्रोताओं को भाव-विभोर कर दिया

खबरें आपकी,(रवि)आरा/शाहपुर:- नगर के बड़ी मठिया उदासीन आश्रम श्री श्री सिद्धसमाधी बाबा वृन्दावन दास जी महाराज के प्रांगण में श्री राम कथा के पांचवे दिन सीता-राम विवाह कथा सुन भाव-विभोर हुए लोग,राम- परसुराम संवाद, लक्ष्मण के आनंदमय व्यंग्यात्मक शब्द, सीता राम विवाह के उपरांत मिथिला की नारियों के द्वारा हास्य द्विअर्थी गीत, कथावाचक पंडित मारुति किंकर जी महाराज के मुखारविंद से सीता-राम विवाह की कथा श्रोताओं को भाव-विभोर कर दिया।

  कॉलेज से नामांकन के करीब डेढ़ लाख रुपये की चोरी

https://youtu.be/gQcmZfTOzZU

किंकर जी महाराज ने कहा कि राजा जनक के दरबार में भगवान शिव का धनुष रखा हुआ था। एक दिन सीता माता ने घर की सफाई करते हुए उसे उठाकर दूसरी जगह रख दिया। उसे देख राजा जनक को आश्चर्य हुआ, क्योंकि धनुष किसी से उठता नहीं था। राजा ने प्रतिज्ञा किया कि जो इस धनुष पर प्रत्यंचा चढ़ाएगा, उसी से सीता का विवाह होगा। उन्होंने स्वयंवर की तिथि निर्धारित कर सभी देश के राजा और महाराजाओं को निमंत्रण पत्र भेजा।

  सैकड़ों बच्चों की हुई मौत पर सरकार की नाकामी के विरुद्ध राजद ने दिया धरना

तय तिथि समय पर स्वयंवर की कार्रवाई शुरू हुई और एक-एक कर लोगों ने धनुष उठाने की कोशिश की, लेकिन सफलता नहीं मिली। गुरू की आज्ञा से श्रीराम ने धनुष उठा प्रत्यंचा चढ़ाने लगे तो वह टूट गया। इसके बाद धूमधाम से सीता व राम का विवाह हुआ। इस अवसर पर कथा के यजमान शारदानंद सिंह उर्फ गुड्डू यादव,उत्तम प्रसाद,पार्षद विजय सिंह,मुन्ना पांडेय,मुकेश पुरोहित,बदलू दुबे,खखनु साह,संतोष पाण्डे उर्फ माना पांडेय,धनकुमार पांडेय उर्फझामलाल,अशोक कुमार लाल,सहित सैकड़ों श्रोता उपस्थित रहें।

  अंग्रेजी व देसी शराब के साथ दो गिरफतार, तीन फरार

https://khabreapki.com/wp-1555174916098-mp4/Khabreapki.com






error: Content is protected !! खबरें आपकी,डॉ कृष्णा जी,दिलीप ओझा,रवि।
LATEST NEWS
Copied!