खबरें आपकी

कुख्यात फौजी की हत्या में भोजपुर, सारण व पटना के दस लोगों के खिलाफ प्राथमिकी

Scroll down to content

सारण के रिविलगंज दियारे में गेहूं के खेत से मिला था शव

वर्चस्व की लड़ाई में शनिवार की रात मारा गया था दियारे का आतंक

आरा सदर अस्पताल में कराया गया फौजी के शव का पोस्टमार्टम

अपराधियों की धरपकड़ में जुटी भोजपुर व सारण की पुलिस

खबरें आपकी,आरा। भोजपुर सहित पूरे दियारे के कुख्यात शंकर दयाल सिंह उर्फ फौजी की हत्या में दस लोगो के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज करायी गयी है।
इस मामले में उसके बेटे नीरज कुमार सिंह के फर्दबयान पर नामजद प्राथमिकी दर्ज करायी गयी है। इनमें भोजपुर, सारण व पटना जिले के दस लोगों को आरोपित किया गया है। सारण पुलिस अधीक्षक हरिकिशोर राय ने बताया कि रिविलगंज के दियारे व भोजपुर के सीमावर्ती इलाके में घटना को अंजाम दिया गया है। मामले की छानबीन की जा रही है। घटना में शामिल अपराधियों की गिरफ्तारी की धरपकड़ के लिए छापेमारी की जा रही है। इसमें भोजपुर पुलिस की भी मदद ली जा रही है। बता दे कि बडहरा के फरना गाऔव निवासी शंकर दयाल सिंह उर्फ फौजी की शनिवार की देर रात धारदार हथियार से उसके गर्दन व चेहरे को काट दिया गया था। उसका शव रविवार की सुबह रिविलगंज दियारे इलाके के सिधियरी मौजा स्थित गेहूं एक खेत से बरामद किया गया था। उसकी हत्या की सूचना से भोजपुर, सारण व पटना के दियारे इलाके में सनसनी मच गयी। सूचना मिलते ही भोजपुर के बड़हरा थाने की पुलिस तत्काल मौके पर पहुंच गयी थी। बाद में रिविलगंज थाने की पुलिस भी पहुंची और शव पोस्टमार्टम आरा सदर अस्पताल में करवाया गया।

  एनडीपीएस एक्ट के आरोपित को दिल्ली क्राइम ब्रांच ने पकड़ा

गेहूं की कटनी कराने गये थे बाप-बेटे, तभी कर दी गयी हत्या

आरा। फरना गांव निवासी नीरज कुमार सिंह के अनुसार शनिवार की रात अपने पिता शंकर दयाल सिंह के साथ रिविलगंज के सिधियरी मौजा में गेहूं की कटनी करा रहा था। रात करीब ग्यारह बजे दस लोग धारदार हथियार व राइफल के साथ खेत में आ धमके। इस दौरान धारदार हथियार से उसके पिता के गर्दन व चेहरे पर लगातार वार किया गया। इसमें उसके पिता की मौत हो गयी। वहीं इस मंजर को देख डर के मारे वह थोड़ी दूर पर गेहूं के खेत में छुप गया। सभी हमलावरों के भाग जाने के बाद किसी तरह अपने घर पहुंचा। इसके बाद रविवार की अहले सुबह बड़हरा थाने को सूचना दी। सूचना मिलने पर बड़हरा के थानेदार प्रशांत कुमार दलबल के साथ मौके पर पहुंचे और छानबीन शुरू कर दी। उसके बाद रिवीलगंज थानाध्यक्ष संजय राम भी घटनास्थल पर पहुंचे।

  गांधी जयंती पर जेल में खेलकूद प्रतियोगिता व झांकी

पूरी रात गेहूं के खेत में ही पड़ा रहा फौजी का शव

आरा। कभी दियारे इलाके के लिए आतंक माने जाने वाले फौजी की दियारे में बेरहमी से हत्या कर दी गयी। उसका शव पूरी रात गेहूं के खेत में पड़ा रहा। सूत्रों के अनुसार खेत के बगल में गेहूं की ढेरी के पास फौजी की हत्या की गयी। उसके बाद उसके शव को घसीटकर कुछ दूरी पर स्थित खेत में फेंक दिया गया। घटनास्थल पर गेहूं के ढेरी के पास से खून सने कपड़े व बिछावन भी मिले हैं।






खबरें आपकी Copy protect दिलीप ओझा,डॉ कृष्ण, रवि
LATEST NEWS
संविधान की आत्‍मा और सेक्‍यूलर ताकतों पर हमला करने वाली भाजपा की फॉसीवादी सरकार को उखाड़ फेकें:-राजू यादव क्या प्रज्ञा ठाकुर के लिए भी वोट मांगेंगे नीतीश-शिवानंद विषाक्त चाय पीने से एक की मौत, 4 की तबीयत बिगड़ी वाराणसी में सम्मानित हुए आरा के गुरु बक्सी विकास पीड़ित मानवता की सेवा के लिए तत्पर रहते हैं डॉ. केएन सिन्हा जेल से सिम बरामदगी में कुख्यात बूटन चौधरी के खिलाफ प्राथमिकी अपाची बाइक व सोने की चेन के लिए विवाहिता की हत्या, सनसनी भोजपुर: पुरानी रंजिश में पहले मारी गोली, नहीं लगी तो पकड़ कर पीटा भोजपुर: गैस सिलेंडर फटने से लगी आग, बच्ची की मौत दिवंगत शिक्षक श्रीपति किशोर को दी गयी श्रद्धांजलि
Copied!