खबरें आपकी

भोजपुर: ब्रजेश मिश्रा की जमानत याचिका खारिज

Scroll down to content

पुलिस पर गोली चलाने व आर्म्स एक्ट में है मामला दर्ज

षष्टम अपर जिला व सत्र न्यायाधीश ने खारिज की जमानत

ब्रजेश पर गिरफ्तारी के समय पुलिस पर हमला व फायरिंग का आरोप

खबरें आपकी,आरा। बहुचर्चित भाजपा नेता विशेश्वर ओझा व गवाह कमल हत्याकांड के मुख्य आरोपित ब्रजेश मिश्रा को आरा सिविल कोर्ट से झटका लगा है। कोर्ट ने शनिवार को उसकी जमानत याचिका खारिज कर दी। जमानत याचिका आर्म्स एक्ट व पुलिस पर फायरिंग के मामले में दायर की गयी थी। षष्टम अपर जिला व सत्र न्यायाधीश त्रिभुवन यादव ने सुनवाई के बाद उसकी याचिका खारिज कर दी। इस मामले में एपीपी प्रशांत रंजन ने जमानत याचिका का विरोध किया था। ब्रजेश मिश्रा को फिलहाल भागलपुर सेंट्रल जेल में शिफ्ट किया गया है।

  गुरु-शिष्य परंपरा आज भी कायम- वेद प्रकाश 'सागर'

जानकारी के अनुसार भाजपा नेता व उनके गवाह की हत्या में फरार चर रहे इनामी ब्रजेश मिश्रा की गिरफ्तारी के लिए पिछले साल 13 अक्टूबर को करनामेपुर ओपी के सोनवर्षा गांव में पुलिस ने छापेमारी की थी। सूचना के आधार पर पुलिस ने जब एक घर की घेराबंदी की, तो पुलिस पर फायरिंग करते हुए ब्रजेश अपने साथियों संग भागने लगा था। तब पुलिस ने भी उसका पीछा किया। मुठभेड़ के बाद उसे पकड़ा जा सका था। उसके पास से एक नाइन एमएम, एक कट्टा, 14 गोलियां व दो खोखे मिले थे। इस मामले में ब्रजेश व उसके साथियों के खिलाफ पुलिस पर फायरिंग, आर्म्स एक्ट, हत्या का प्रयास व सरकारी कार्य में बाधा डालने की प्राथमिकी दर्ज करायी गयी थी। उसी मामले में ब्रजेश मिश्रा द्वारा जमानत के लिए याचिका दायर की गयी थी।

  गुरु कृपा के बिना विद्या की कल्पना अधूरी-विकाश





Don`t copy text! सम्पर्क करें डॉ कृष्ण कुमार,दिलीप ओझा,रवि
LATEST NEWS
Copied!