ऑटो रिफ्रैक्टोमीटर से होगी आंख के रोशनी की जांच

ऑटो रिफ्रैक्टोमीटर से होगी आंख के रोशनी की जांच

आरा सदर अस्पताल में मंगाया गया ऑटो रिफ्रैक्टोमीटर एवं स्लीट लैंप

जांच के बाद प्रिंट होकर निकलेगा दोनो आंख का पावर

खबरें आपकी,आरा। सदर अस्पताल आरा के नेत्र विभाग में सरकार द्वारा रोगियों की चिकित्सा सुविधा के लिए अत्याधुनिक मशीनों मंगाई गई है। इससे रोगियों के आंख के दूर की रोशनी की जांच की जा सकेगी। सदर अस्पताल के नेत्र रोग विशेषज्ञ डॉ. एसके प्रसाद ने बताया कि अब मरीजों के दूर की रोशनी की जांच अति अत्याधुनिक ऑटो रिफ्रैक्टोमीटर के द्वारा की जाएगी। अब तक यह सुविधा शहर के प्राइवेट अस्पतालों में उपलब्ध था।

  पोषण अभियान के अभिसरण कार्य योजना की बैठक में पोषण अभियान में तेजी लाने के दिए गए निर्देश

आरा सदर अस्पताल में इस सुविधा के आ जाने से शहर तथा ग्रामीण इलाकों के गरीब व जरूरतमंद रोगियों को इसका लाभ मिलेगा। इसके अलावा स्लीट लैंम्प मंगाया गया है। जिसे आंख के अन्य रोगों की जांच विस्तारपूर्वक की जा सकेगी। बता दें कि सदर अस्पताल के ओपीडी स्थित नेत्र रोग विभाग में आंख के दूर की रोशनी की जांच पहले ट्रायल मेथड से होता था। यानी दीवाल पर लिखे अक्षरों को पढ़वाया जाता था। तब मरीजों को चश्मा प्रदान किया जाता था। नये मशीन ऑटो रिफ्रैक्टोमीटर से यह काम ऑटोमेटिक होगा। इस दौरान एक स्लिप भी प्रिंट होकर निकलेगा। जिसमें दाहिने एवं बाएं आंख का पावर अंकित होगा। स्लिप पर अंकित पावर के आधार पर ही मरीजों को चश्मा प्रदान किया जाएगा।

  बाढ़ से घिरे शाहपुर के दर्जनों गांव, प्रखंड मुख्यालय से टूटा संपर्क





Don`t copy text! सम्पर्क करें डॉ कृष्ण कुमार,दिलीप ओझा,रवि
LATEST NEWS