खबरें आपकी

भोजपुर: पखावज सम्राट स्व. शत्रुंजय प्रसाद सिंह जी की पुण्यतिथि मनी

Scroll down to content

पुण्यतिथि पर “ताल तरंग सुर के संग” कार्यक्रम का हुआ आयोजन

खबरें आपकी,आरा। स्थानीय महाजन टोली स्थित आश्रम परिसर में संगीत शिरोमणि बाबू ललन जी के नाम से विख्यात महान पखावज सम्राट स्व. शत्रुंजय प्रसाद सिंह जी के पुण्यतिथि पर “ताल तरंग सुर के संग” कार्यक्रम का आयोजन किया गया। उद्घाटन वरिष्ठ साहित्यकार रंजीत बहादुर माथुर ने दीप प्रज्वलित कर की। मौके पर श्री माथुर ने कहा कि आरा में बाबू ललन जी ने संगीत के स्वर्णिम युग की स्थापना की। इनका योगदान कभी भुलाया नही जा सकता। कथक गुरु बक्शी विकास ने कहा कि ताल शास्त्र के प्रकाण्ड विद्वान बाबू ललन जी की सृजनभूमि आरा संगीतज्ञ के तीर्थ के रुप में जाना गया। लेकिन ऐसी महान शख्सियत के प्रति सरकार व समाज का रवैया हमेशा से उदासीन रहा है। कार्यक्रम में जगदीशपुर से पधारे तबला वादक राणा प्रताप सिन्हा व तबलावादक विनय सिंह की तबला युगलबंदी ने श्रोताओं को मंत्रमुग्ध कर दिया। वही शास्त्रीय गायिका बिमला देवी ने राग मियां मल्हार में बंदिश “बरसों घन मोरे पिया घर आये…” ठुमरी “कटे नाहि रतिया तुम बिन बालम… ” व दादरा “अब मान जाओ सैंया…” प्रस्तुत कर समा बांधा। वही कथक नृत्यांगना सुश्री सोनम कुमारी व शुभांशी जैन ने गणेश वंदना, तीन ताल में शुद्ध कथक व ठुमरी प्रस्तुत कर लोगो की वाहवाही लूटी। संचालन रविशंकर व धन्यवाद ज्ञापन अमित कुमार ने किया। हारमोनियम पर संगत रौशन कुमार व गौरव विशाल सिंह ने किया। इस अवसर पर डॉ. जया जैन, अरुण सहाय, जयप्रकाश शर्मा, अमित उपाध्याय समेत कई संगीत प्रेमी व संगीत प्रशिक्षु उपस्थित थे।

  कोर्ट की सख्ती व पुलिसिया दबिश से कुख्यात चांद मियां ने किया सरेंडर



This slideshow requires JavaScript.




Don`t copy text! सम्पर्क करें डॉ कृष्ण कुमार,दिलीप ओझा,रवि
LATEST NEWS
बीएचयू की प्रवेश परीक्षा में नंदिता ने पाया दसवां स्थान प्रदर्श कला सर्टिफिकेट कोर्स के एकवर्षीय पाठ्यक्रम में प्रशिक्षण कार्यक्रम का प्रारम्भ अधिवक्ता की हत्या के मामले में दो को आजीवन कारावास हथियार के बल पर व्यवसायी से मोबाइल व बाइक लूटा संपत्ति बंटवारे के विवाद में मारी गयी एनएसयूआई अध्यक्ष व दोस्त को गोली, एफआईआर दर्ज विद्युत करंट से सेंटरिंग मिस्त्री की मौत सिविल कोर्ट बम ब्लास्ट कांड में दोषियों को आज सुनायी जायेगी सजा कोर्ट की सख्ती व पुलिसिया दबिश से कुख्यात चांद मियां ने किया सरेंडर डीएसपी के निर्देश पर अंगरक्षक ने पत्रकार को पीटा, विरोध में सडक जाम एनएसयूआई के जिलाध्यक्ष व उसके साथी पर हुए जानलेवा हमले पर जताया आक्रोश