खबरें आपकी

नीतीश क्या गांधी के पक्ष में खड़ा नहीं होंगे!-शिवानंद

Scroll down to content

मधु किश्वर ने सार्वजनिक रूप से गांधी को समलैंगिक करार दिया यह साधारण बात नही है

गांधी के प्रति नफ़रत फैलाने वालो के विरूद्ध नीतीश कुमार को आगे आना चाहिए

खबरे आपकी ब्यूरो। महात्मा गांधी को लेकर फिलहाल कुछ समय से जो बातें सामने आ रही है उसके लेकर पूर्व सांसद शिवानंद तिवारी ने चिंता जाहिर करते हुए नीतीश कुमार को घेरा है। क्योंकि नीतीश कुमार गांधी के नाम को फिलहाल सबसे ज्यादा लेने वालों में से है। श्री तिवारी के अनुसार यह एक अभियान बन गया है गांधी जी को लेकर भ्रम पैदा करने की। जिस प्रकार गांधी जी के चरित्र हनन का अभियान चलाया जा रहा है वह अत्यंत दुर्भाग्यपूर्ण है. अब तो बात यहाँ तक बढ़ गई है कि गांधी को सार्वजनिक रूप से समलैंगिक क़रार दिया जा रहा है. वह भी किसी ऐरे-गैरे के द्वारा नहीं बल्कि है बल्कि मधु किश्वर जैसी विदुषी माने जाने वाली महिला के द्वारा. मधु किश्वर साधारण महिला नहीं हैं. उन चंद विशिष्ट लोगों में शामिल हैं जिन्हें हमारे प्रधानमंत्री जी के साक्षात्कार लेने का गौरव प्राप्त है. ऐसी महिला जब इस तरह की बात करती हैं तो चिंता होती है.
याद होगा जब प्रज्ञा ठाकुर ने नाथूराम गोडसे को देशभक्त बताया था तो उस समय हो हल्ला मचा था. नीतीश कुमार ने भी उनके विरूद्ध कार्रवाई करने का सुझाव दिया था. लेकिन कार्रवाई क्या होगी ! इस बीच मधु किश्वर जी का ट्वीट आ गया.
नीतीश से गांधी के पक्ष में खड़ा होने की अपेक्षा मैं इसलिए कर रहा हूँ क्योंकि देश के किसी भी नेता से ज़्यादा नीतीश कुमार गांधी का नाम लेते हैं. गांधी से जुड़ी स्मृतियों को सहेजने की दिशा में हमेशा सक्रिय रहते हैं. अभी उनकी पहल पर हमलोगों ने चंपारन सत्याग्रह का सौंवा वर्षगाँठ मनाया है. गांधीजी बहुत प्रेम से कहते थे कि बिहार से ही देश ने मुझे जाना. अत: गांधीजी के प्रति बिहार का दायित्व ज़्यादा बनता है. इसलिए नीतीश कुमार से मैं अनुरोध कर रहा हूँ कि गांधी के पक्ष में वे खड़ा हों और गांधी के चरित्र हनन के प्रयास का विरोध करें. जिस ‘आइडिया ऑफ़ इंडिया’ पर चरचा होती है उसकी अवधारणा तो गांधी जी ने स्वतंत्रता आंदोलन के दरम्यान ही स्पष्ट कर दिया था. दरअसल गांधीजी के सपनों का भारत, कट्टर वादियों के समक्ष आज भी अवरोध बना हुआ है. इसलिए लोगों के मन में गांधी के प्रति नफ़रत फैलाने का अभियान चलाया जा रहा है. इसके विरूद्ध नीतीश कुमार को आगे आना चाहिए।

  एनएसयूआई के जिलाध्यक्ष व उसके साथी पर हुए जानलेवा हमले पर जताया आक्रोश


This slideshow requires JavaScript.




Don`t copy text! सम्पर्क करें डॉ कृष्ण कुमार,दिलीप ओझा,रवि
LATEST NEWS
बीएचयू की प्रवेश परीक्षा में नंदिता ने पाया दसवां स्थान प्रदर्श कला सर्टिफिकेट कोर्स के एकवर्षीय पाठ्यक्रम में प्रशिक्षण कार्यक्रम का प्रारम्भ अधिवक्ता की हत्या के मामले में दो को आजीवन कारावास हथियार के बल पर व्यवसायी से मोबाइल व बाइक लूटा संपत्ति बंटवारे के विवाद में मारी गयी एनएसयूआई अध्यक्ष व दोस्त को गोली, एफआईआर दर्ज विद्युत करंट से सेंटरिंग मिस्त्री की मौत सिविल कोर्ट बम ब्लास्ट कांड में दोषियों को आज सुनायी जायेगी सजा कोर्ट की सख्ती व पुलिसिया दबिश से कुख्यात चांद मियां ने किया सरेंडर डीएसपी के निर्देश पर अंगरक्षक ने पत्रकार को पीटा, विरोध में सडक जाम एनएसयूआई के जिलाध्यक्ष व उसके साथी पर हुए जानलेवा हमले पर जताया आक्रोश