आरा में होता रहा आने का उदघोषणा और गया रूट से चली गयी ट्रेन

आरा में होता रहा आने का उदघोषणा और गया रूट से चली गयी ट्रेन

रेलवे की लापरवाही पर यात्रियों ने किया हंगामा व तोडफोड

ट्रेन आने की घोषणा पर सैकड़ों यात्रियों ने खरीद ली थी टिकट

उदघोषणा के बाद भी नहीं आयी ट्रेन तो भड़क उठे यात्री

टिकट के पैसे लौटाने के बाद शांत हुआ यात्रियों का गुस्सा

साप्ताहिक जयनगर-उधना एक्स. को लेकर बिगड़ा मामला

खबरें आपकी,आरा। आरा में शुक्रवार को रेलवे की फिर एक बड़ी लापरवाही सामने आयी। इस दौरान आरा में एक ट्रेन के आने की उदघोषणा की जाती रही और वह ट्रेन गया रूट से चली गयी। इससे टिकट खरीद ट्रेन का इंतजार कर रहे यात्री आक्रोशित हो उठे। गुस्साये यात्रियों ने खूब हंगामा मचाया। यात्री स्टेशन पर घूम-घूमकर नारेबाजी कर रहे थे और टिकट रिफंड करने की मांग कर रहे थे। इसे ले यात्रियों और पूछताछ व टिकट काउंटर पर मौजूद कर्मियों के बीच जमकर नोकझोंक भी हुई। इसके बाद यात्री तोड़फोड़ पर उतर गये। इससे स्टेशन परिसर में अफरातफरी मच गयी। सूचना पर जीआरपी व आरपीएफ के लोग भी पहुंचे। बाद में वरीय टिकट परीक्षक मनोज पांडेय और सीटीआई मनोहर पासवान की पहल पर किसी तरह मामला शांत हुआ। दोनों अधिकारियों ने स्टेशन मैनेजर और कंट्रोल से बात कर पूरी स्थिति की जानकारी दी। इसके बाद छह काउंटर खोलकर टिकट के पैसे रिफंड कराने का काम शुरू किया। हुआ यह कि शुक्रवार को साप्ताहिक जयनगर-उधना एक्सप्रेस ट्रेन जाने वाली थी। इसे लेकर सुबह दस बजे से ही अनाउंस किया जा रहा था। इस आधार पर करीब एक हजार यात्रियों ने टिकट खरीद लिया।करीब एक बजे ट्रेन के गया रूट से चले जाने की घोषणा कर दी गयी। तबतक टिकट रिफंड करने का समय भी बीत चुका था। इस पर यात्री भड़क उठे। यात्रियों का गुस्सा उस समय और भी बढ़ गया, जब उनके टिकट के पैसे लौटाने से इंकार कर दिया। देर शाम तक पैसे लौटाने का काम चलता रहा।

  शाहपुर को बाढ़ क्षेत्र घोषित नही करना यथार्थ से परे- राहुल तिवारी

दस बजे से ही होता रहा अनाउंसः फुलवारी क्रॉस कर रही उधना एक्स.

आरा। यात्रीगण कृप्या ध्यान दें, जयनगर-उधना अंत्योदय एक्सप्रेस फुलवारी क्रॉस कर रही है। आरा स्टेशन के पूछताछ काउंटर पर सुबह करीब दस बजे से ही यह अनाउंस होता रहा। इसके बावजूद ट्रेन करीब एक बजे तक आरा नहीं पहुंच सकी। इससे यात्रियों को संदेह हुआ और हंगामा करने लगे। यात्री बार-बार पूछते रहे कि आखिर ट्रेन कहां रह गयी? बाद में ट्रेन का रूट डायवर्ट कर गया होकर चलाने की घोषणा की गयी। इसके बाद तो यात्रियों का गुस्सा पूरी तरह भड़क गया। बता दें कि यह ट्रेन हर शुक्रवार को आरा होकर चलती है। इसी आधार पर काफी संख्या में यात्री स्टेशन पहुंचे थे। मामला तब बिगड़ गया, जब ट्रेन आने की घोषणा की जाने लगी। इस दौरान ट्रेन के टिकट की बिक्री भी की गयी। करीब एक हजार यात्रियों ने टिकट खरीद लिये। इनमें करीब चार सौ महिलाएं भी शामिल थी। टिकट लेने के बाद यात्री इधर-उधर भटकते रहे।

  बक्सर के छात्र को गोली मारने में वांटेड ने किया कोर्ट में समर्पण

नेट से बिगड़ा सारा खेल, हो रही जांच

आरा। रेलवे सूत्रों के अनुसार नेट के कारण ही सारा मामला बिगड़ गया। बताया गया कि नेट पर लगातार साप्ताहिक जयनगर-उधना अंत्योदय एक्सप्रेस ट्रेन के आरा आने की जानकारी दी जा रही थी। उसी आधार पर आरा में ट्रेन के आने का अनाउंस किया गया और टिकट की बिक्री की गयी। वहीं रेलवे इस पूरे मामले की जांच में जुटी है।

  बाढ़ पीड़ितों को भोजन, पेयजल, चिकित्सा व नाव उपलब्ध कराये सरकार:-हीरा ओझा





Don`t copy text! सम्पर्क करें-७००४६३२९५९-khabreapki.com डॉ कृष्ण कुमार,दिलीप ओझा,रवि!
LATEST NEWS
बाढ़ पीड़ितों को भोजन, पेयजल, चिकित्सा व नाव उपलब्ध कराये सरकार:-हीरा ओझा प्राथमिकी दर्ज नहीं करने में नप गये धोबहां ओपी अध्यक्ष शाहपुर को बाढ़ क्षेत्र घोषित नही करना यथार्थ से परे- राहुल तिवारी दहेज की खातिर विवाहिता को जिंदा जलाया आरा में रेलवे के निगमीकरण व निजीकरण के खिलाफ प्रदर्शन जेल में बंद कुख्यात बूटन का भतीजा हथियार के साथ गिरफ्तार  देह व्यापार के धंधे के मास्टर माइंड व इंजीनियर समेत चार के विरुद्व चार्जशीट सेक्स रैकेट :- राजद विधायक के घर की होगी कुर्की,कोर्ट पहुंची पुलिस बक्सर के छात्र को गोली मारने में वांटेड ने किया कोर्ट में समर्पण डीएम ने शाहपुर में बाढ़ को लेकर अधिकारियों के साथ की बैठक, क्षेत्र भ्रमण कर लिया बाढ़ का जायज