शाहपुर में मुख्यपार्षद के विरूद्ध अविश्वास प्रस्ताव लाया गया।

शाहपुर में मुख्यपार्षद के विरूद्ध अविश्वास प्रस्ताव लाया गया।

बड़ी बात है कि वर्तमान नप के उप-मुख्यपार्षद ने ही विपक्षी पार्षदों के साथ मिलकर मोर्चा खोल दिया

खबरें आपकी,आरा/शाहपुर: शाहपुर नगर पंचायत के 10 वार्ड पार्षदों में से 7 वार्ड पार्षदों द्वारा वर्तमान मुख्य पार्षद के विरुद्ध अविश्वास प्रस्ताव लाया गया। पार्षदों द्वारा अविश्वास प्रस्ताव से जुड़े कागजात कार्यपालक पदाधिकारी को दी गई।साथ ही साथ अविश्वास प्रस्ताव की सूचना अन्य माध्यमों से नगर पंचायत के मुख्य पार्षदवशिष्ठ प्रसाद उर्फ मंटू प्रसाद प्रसाद, नगर विकास एवं आवास विभाग तथा जिलाधिकारी को भी दी गई है।

अविश्वास प्रस्ताव में मुख्यपार्षद पर नप के विकास कार्यो में अनियमितता, मनमानी करने तथा समय पर बैठक नही बुलाने सहित कई आरोप पार्षदों द्वारा लगाये गए है। बिहार नगर पालिका अधिनियम के तहत मुख्यपार्षद के विरुद्ध अविश्वास प्रस्ताव उनके द्वारा पूर्व में मुख्यपार्षद के पद पर लिए गए शपथ के दो वर्षों के पश्चात ही लाया जा सकता है। विदित हो कि वर्तमान मुख्यपार्षद द्वारा 9 जून 2017 को उक्त पद की शपथ दिलाई गई थी।

नप के पार्षदों द्वारा जो अविश्वास प्रस्ताव लाया गया है उसमें सबसे बड़ी यह बात है कि वर्तमान नप के उप-मुख्यपार्षद ने ही विपक्षी पार्षदों के साथ मिलकर मोर्चा खोल दिया गया है। ग्यारह वार्ड पार्षदों वालो शाहपुर नगर पंचायत में फिलहाल 10 वार्ड पार्षद है। एक वार्ड पार्षद के निधन के उपरांत वार्ड नं सात के वार्ड पार्षद का पद रिक्त है। इन्ही 10 वार्ड पार्षदों में से उपमुख्यपार्षद समेत 7 वार्ड पार्षदों द्वारा अविश्वास प्रस्ताव लाया गया है।






Don`t copy text!
LATEST NEWS