आठ माह में शहीद हो गये भोजपुर के दो जांबाज

आठ माह में शहीद हो गये भोजपुर के दो जांबाज

बेलगाम हो चुके अपराधियों से मुडभेड़ में गयी दोनों बेटों की जान

पटना में जवान मुकेश, तो सारण में दारोगा मिथिलेश शहीद

खबरें आपकी,आरा। भोजपुर ने महज आठ माह में अपने दो जाबांज बेटों को खो दिया। दोनों बेटे अपराधियों के साथ मुठभेड़ में शहीद हो गये। हद तो यह कि दोनों अपने सीमावर्ती जिले में ही अपराधियों के हाथों मारे गये। पहली घटना राजधानी पटना, तो दूसरी सारण में हुई। पहली घटना सोमवार को हुई थी, उसमें सिपाही शहीद हुआ था। दूसरी घटना मंगलवार को , जिसमें दारोगा की जान चली गयी। विदित हो कि तीन दिसंबर 2018 की शाम पटना के रामकृष्ण नगर थाना क्षेत्र के न्यू बाईपास में पुलिस की अपराधियों के साथ मुठभेड़ हो गयी थी। उसमें जिले के धोबहां ओपी के बेहरा गांव का सिपाही मुकेश कुमार शहीद हो गया था। वह पटना में रंगदारी सेल में तैनात था। उस मुठभेड़ में बिहटा इलाके के उज्ज्वल गिरोह का नाम आया था। बाद में मुठभेड़ में शामिल एक अपराधी मुठभेड़ में मारा गया था। अन्य गिरफ्तार कर लिये गये थे। आठ माह बाद मंगलवार की शाम सारण में मुठभेड़ हो गयी। उसमें भी भोजपुर का जाबांज दारोगा मिथिलेश शहीद हो गया।

  शाहपुर को बाढ़ क्षेत्र घोषित नही करना यथार्थ से परे- राहुल तिवारी





Don`t copy text! सम्पर्क करें-७००४६३२९५९-khabreapki.com डॉ कृष्ण कुमार,दिलीप ओझा,रवि!
LATEST NEWS
बाढ़ पीड़ितों को भोजन, पेयजल, चिकित्सा व नाव उपलब्ध कराये सरकार:-हीरा ओझा प्राथमिकी दर्ज नहीं करने में नप गये धोबहां ओपी अध्यक्ष शाहपुर को बाढ़ क्षेत्र घोषित नही करना यथार्थ से परे- राहुल तिवारी दहेज की खातिर विवाहिता को जिंदा जलाया आरा में रेलवे के निगमीकरण व निजीकरण के खिलाफ प्रदर्शन जेल में बंद कुख्यात बूटन का भतीजा हथियार के साथ गिरफ्तार  देह व्यापार के धंधे के मास्टर माइंड व इंजीनियर समेत चार के विरुद्व चार्जशीट सेक्स रैकेट :- राजद विधायक के घर की होगी कुर्की,कोर्ट पहुंची पुलिस बक्सर के छात्र को गोली मारने में वांटेड ने किया कोर्ट में समर्पण डीएम ने शाहपुर में बाढ़ को लेकर अधिकारियों के साथ की बैठक, क्षेत्र भ्रमण कर लिया बाढ़ का जायज