वारंट तामिला नहीं होने पर बिफरे एसपी, थानाध्यक्षों की लगाई क्लास

वारंट तामिला नहीं होने पर बिफरे एसपी, थानाध्यक्षों की लगाई क्लास

डीजीपी के निर्देश पर एसपी ने शनिवार की रात तीयर थाने का किया निरीक्षण

निरीक्षण के क्रम में गुंडा पंजी नहीं मिला अपडेट, सत्यापन भी नहीं

थानेदार को सभी पंजी अपडेट व थाने की व्यवस्था सुधारने का दिया निर्देश

सूबे के सभी जिलों में एक साथ रात दो से पांच बजे तक चला निरीक्षण अभियान

खबरें आपकी,आरा। सूबे के डीजीपी के निर्देश पर एसपी ने शनिवार की रात तीयर थाने का निरीक्षण किया। इस दौरान थाने की डायरी तो अपडेट मिली, पर गुंडा पंजी का सत्यापन नहीं हो सका था। वारंट का भी तामिला नही किया जा सका था। कुछ आवेदन भी पेंडिंग मिले। इसे देख एसपी भड़क उठे। उन्होंने थानाध्यक्ष की जमकर क्लास लगाई व सभी पंजी को अपडेट रखने का सख्त निर्देश दिया। इस दौरान एसपी ने थानाध्यक्ष को कार्यशैली में सुधार लाने की नसीहत दी। तत्काल सभी वारंट का तामिला और पेंडिंग आवेदनों का निपटारा करने की हिदायत दी। कहा कि इस मामले में किसी तरह की कोताही नहीं चलेगी। बताया जाता है कि एसपी सुशील कुमार रात करीब दो बजे तीयर थाने पहुंचे। उसके साथ ही थाना डायरी सहित सभी पंजियों की जांच शुरू कर दी। इस क्रम में पता चला कि बहुत सारे वारंट व आवेदन पेंडिंग हैं। गुंडा रजिस्टर का ना तो सत्यापन किया गया था और ना ही परेड करायी गयी थी। हालांकि थाना की डायरी अपडेट थी। एसपी के साथ भोजपुर के एएसपी (अॉपरेशन) नितिन कुमार भी थे। देर रात एसपी के पहुंचते ही थाने में खलबली मच गयी। थाने के सभी स्टाफ पहुंच गये। मालूम हो कि डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय ने वीडियो कांफ्रेंसिग के जरिये सभी जिलों के एसपी को सुदूर इलाके के थानों का निरीक्षण करने का निर्देश दिया गया था। इसके तहत देर रात दो से पांच बजे तक निरीक्षण करने का समय निर्धारित किया गया था। बता दें कि डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय पदभार ग्रहण बनने के बाद से ही थानों की स्थिति व पुलिसिंग को दुरुस्त करने के लिए निरीक्षण कर रहे हैं। साथ ही डीजी सेल का गठन भी किया गया है। अब सभी जिलों के एसपी को भी थानों का निरीक्षण करने का निर्देश दिया है।






Don`t copy text!
LATEST NEWS