जमीन के विवाद में मारपीट व फायरिंग, सैलून संचालक को लगी गोली

जमीन के विवाद में मारपीट व फायरिंग, सैलून संचालक को लगी गोली

इमादपुर थाना के मोआप कला गांव की शनिवार की घटना

सैलून संचालक पहले किया गया भाला से हमला, फिर मारी गयी गोली

पंचायती के दौरान सैलून संचालक व उसके परिजनों संग की गयी मारपीट

मारपीट में सैलून संचालक की पत्नी, बेटा व भतीजी भी जख्मी

सैलून संचालक के भाई व अन्य परिजनों पर फायरिंग व मारपीट का आरोप

मामले की छानबीन और आरोपितों की धरपकड़ में जुटी पुलिस

आरा। जिले के इमादपुर थाना क्षेत्र के मोआप कला गांव में शनिवार को जमीन के विवाद की पंचायती को ले दो भाइयों के परिजन आपस में भिड़ गये। इस दौरान जमकर मारपीट हुई और उसके बाद गोलियां चल गयी। दो से तीन राउंड गोली चलने की बात कही जा रही है। मारपीट के दौरान एक भाई के परिजनों द्वारा दूसरे पर भाला से भी हमला कर दिया गया। इसमें एक भाई को गोली व भाला लग गया। इसमें वह गंभीर रूप से जख्मी हो गया। उसका इलाज शहर के एक प्राइवेट अस्पताल में कराया जा रहा है। वहीं मारपीट में उसकी पत्नी, बेटा व भतीजी जख्मी हो गयी। तीनों घायलों का इलाज स्थानीय अस्पताल में कराया जा रहा है। गोली व भाला से जख्मी मोआप कला गांव निवासी योगेश ठाकुर है। उसकी खुटहां बाजार में सैलून है।जख्मी योगेश ठाकुर के अनुसार वह तीन भाई है। दो अन्य भाई प्रेमचंद ठाकुर व गौतम ठाकुर है। गौतम ठाकुर व योगेश ठाकुर एक में रहते हैं। गौतम ठाकुर के हिस्से में डेढ़ डिसमिल जमीन है। उसी जमीन को लेकर विवाद चला आ रहा था। पिछले तीन दफे पंचायती हो चुकी थी। लेकिन प्रेमचंद ठाकुर पंचायती की बात नहीं मान रहा था। इसे लेकर शनिवार को चौथी बार भी पंचायती बुलायी गई थी। इसमें अन्य सभी लोग जुटे थे, लेकिन प्रेमचंद ठाकुर फिर नहीं पहुंचा। इसे देखते हुये वह अपने भाई प्रेमचंद ठाकुर को बुलाने गया। तभी दोनों में विवाद हो गया और मारपीट होने लगी। इस दौरान प्रेमचंद ठाकुर ने उस पर पहले भाला से हमला कर दिया। भाला उसके बायां हाथ में कंधे के पास लग गया। इसके बाद प्रेमचंद ठाकुर के पुत्र ने गोली मार दी, जो उसके दाहिने जांघ में लगी है। गोली आर-पार हो गई है। इसके बाद प्रेमचंद ठाकुर के पुत्रों द्वारा परिवार के अन्य सदस्यों की लाठी-डंडे से पिटाई कर दी गई। इसमें उसकी पत्नी गीता देवी, बेटी रूबी कुमारी व बड़े भाई गौतम ठाकुर की पुत्री संगीता देवी चोटिल हो गयी। वहीं गोली व भाला लगने के बाद योगेश ठाकुर को इलाज के लिए आरा सदर अस्पताल लाया गया। प्राइमरी इलाज के बाद उसे पटना रेफर कर दिया गया। हालांकि परिजन उसे इलाज के लिए शहर के बाबू बाजार स्थित प्राइवेट अस्पताल ले जाया गया, जहां डा. विकास सिंह ने उसका इलाज किया। सूचना मिलने पर इमादपुर थाना की पुलिस भी मौके पर पहुंची, लेकिन तबतक आरोपित भाग चुके थे। इधर, थानाध्यक्ष सुनील कुमार ने बताया कि अभी तक आवेदन नहीं मिला है। हालांकि घटना में शामिल लोगों की पहचान करते हुये धरपकड़ के लिए छापेमारी की जा रही है।






This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Don`t copy text!
LATEST NEWS