जमीन कारोबार से जुड़े अपराधियों की जब्त करें संपत्ति-गुप्तेश्वर पांडेय

जमीन कारोबार से जुड़े अपराधियों की जब्त करें संपत्ति-गुप्तेश्वर पांडेय

आरा पहुंचे पुलिस महानिदेशक ने दिया निर्देश

बोले डीजीपी-जमानत पर घूम रहे बड़े अपराधियों की हर गतिविधियों पर रखें कड़ी नजर

डीएम, एसपी व अन्य अफसरों संग डीजी ने की बैठक

जिले की क्राइम व विधि-व्यवस्था की डीजीपी ने की समीक्षा

खबरें आपकी,आरा। अपराध व अपराधियों को हर हाल में खतम करना है। इसके लिए पुलिस को दिन-रात काम करना होगा। धरपकड़ के साथ अपराधियों की अवैध कमाई के जरिये को भी बंद करना होगा। जमीन कारोबार से जुड़े अपराधियों की हर हाल में संपत्ति जब्त करनी होगी। डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय ने शनिवार को आरा में अफसरों संग बैठक के बाद बातचीत में यह बात कही। डीजीपी भोजपुर के पीरो में आयोजित एक कार्यक्रम में भाग लेने जाने के क्रम में शनिवार की शाम आरा पहुंचे थे। इसी क्रम उन्होंने पुलिस ऑफिस में डीएम व एसपी सहित अन्य अफसरों के साथ बैठक की। इसमें जिले की विधि-व्यवस्था व अपराध की समीक्षा की। इस दौरान उनका मुख्य फोकस जमीन कारोबार व अन्य धंधों से जुड़े अपराधियों पर रहा। कहा कि अपराधियों की संपत्ति की जांच करायी जा रही है। जमानत पर घूम रहे अपराधियों की हर गतिविधियों पर कड़ी नजर रखी जा रही। इस संबंध में भोजपुर सहित सभी जिलों के एसपी को सख्त आदेश दिया गया है। इसकी भी जांच करायी जा रही कि कहीं अपराधियों द्वारा किसी से जबरन जमीन रजिस्ट्री और दूसरे के नाम पर जमीन की खरीद तो नहीं की जा रही है। ऐसा मामला सामने आने पर अपराधियों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कर स्पीडी ट्रायल के तहत मुकदमा चलाया जायेगा। बैठक में डीएम रोशन कुशवाहा, एसपी सुशील कुमार, एएसपी (ऑपरेशन) नितिन कुमार, सदर डीजसपी पंकज कुमार, पीरो डीएसपी अशोक कुमार आजाद व सभी इंस्पेक्टर उपथित थे।

अपराधियों को दौड़ाती नजर आनी चाहिये पुलिस

आरा। शनिवार की शाम आरा पहुंचे डीजीपी के तेवर काफी तल्ख दिख रहे थे। उनका कहना था कि पुलिस को हर हाल में अपना इकबाल दिखाना होगा। इसके लिए पुलिस अपराधियों को दौड़ाती नजर आनी चाहिये। इसे लेकर डीजीपी ने बैठक में आदेश भी दिया। कहा कि हर हाल में अपराध रोकना है। इसके लिए नियमित छापेमारी व पेट्रोलिंग करने का निर्देश दिया। कहा कि सिर्फ थानेदार नहीं बल्कि एसपी तक को रेड करनी होगी।

डीएसपी व इंस्पेक्टर करायें केसों का डिस्पोजल

आरा। समीक्षात्मक बैठक में डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय ने केसों के डिस्पोजल पर काफी जोर दिया। इसके लिए डीजीपी ने सभी अफसरों को टास्क भी दिया। कहा कि एसपी से लेकर इंस्पेक्टर तक को इसके लिए फील्ड में जाना होगा। इस दौरान सभी अफसरों के लिए समय भी निर्धारित किया गया। कहा कि अफसरों को थानों में जाकर केस पेंडिंग होने के कारणों को देखें। उसके बाद उन केसों का जल्द से जल्द डिस्पोजल करायें।


Don`t copy text!
LATEST NEWS