भोजपुर का लाल भी झारखंड में नक्सली हमले में शहीद

भोजपुर का लाल भी झारखंड में नक्सली हमले में शहीद

20191203_1842231377173479065957876.jpg
20191203_1840227409820949545808880.jpg
20191203_1841177176856172725770739.jpg
20191203_1838418927375386882456050.jpg
20191203_183947387901862545275281.jpg
20191203_1836153559210419068013854.jpg
20191203_1837324160554389169720091.jpg
20191203_1840484595941438138935604.jpg
20191203_1839205846938633435901518.jpg

शहीद के पैतृक गांव बाघीपाकड़ में पसरा सन्नाटा

शहीद के पार्थिव शरीर के इंतजार में टकटकी लगाये बैठे लोग

आज होगा शव का अंतिम संस्कार

खबरें आपकी,आरा। झारखंड में शुक्रवार की शाम नक्सली हमले में भोजपुर का लाल गोवर्धन पासवान भी शहीद हो गया। वे धोबहां ओपी के बाघी पाकड़ गांव के रहने वाले थे और झारखंड पुलिस में एएसआई थे। उनकी शहादत की खबर मिलते ही उनके गांव में सन्नाटा पसर गया। शहीद के घर में भी कोहराम मचा है। गोवर्धन की शहादत की खबर मिलते ही उनके घर पर लोग उनके घर पहुंचने लगे थे। अपने गांव के लाल का अंतिम दर्शन करने के लिए शनिवार की सुबह से लोग टकटकी लगाये बैठे थे। शहीद का पार्थिव शनिवार की देर रात तक आने की बात कही जा रही है। बता दें कि सरायकेला-खरसावां जिले के तिरुलडीह थाना के कुकडू हाट में शुक्रवार की शाम नक्सलियों ने नाश्ता कर रहे पुलिस की गश्ती दल पर हमला कर दिया था। घात लगाकर बैठे नक्सलियों ने पांच पुलिसकर्मियों को घेर कर गोलियों से भून दिया। इसके बाद सभी की गला रेत बेरहमी से हत्या कर दी। उनमें भोजपुर के गोवर्धन पासवान भी शामिल हैं। हमले के बाद नक्सली सभी पुलिस कर्मियों के हथियार भी ले भागे थे। बाघी पाकड़ गांव निवासी मोती पासवान के पुत्र गोवर्धन पासवान की वर्ष 1998 में पुलिस की नौकरी ज्वाईन की थी। उनकी पहली पोस्टिंग झारखंड के कोडरमा में हुई थी।

आरा में बाइक सवार युवकों की टोली करेगी शहीद का स्वागत

आरा। शहीद गोवर्धन पासवान के परिजनों ने बताया कि शनिवार को करीब 11 बजे झारखंड में पार्थिव शरीर का पोस्टमार्टम किया जाएगा। इसके बाद शहीद के शव को गार्ड आफ आॅनर दिया जाएगा। इसके बाद शव को पैतृक गांव भोजपुर जिले के धोबहां ओपी के बाघी पकड़ गांव लाया जाएगा। गांव आने के बाद शहीद के पार्थिव शरीर को परिजनों व आम लोगों के अंतिम दर्शन के लिए रखा जाएगा। इसके बाद शव का अंतिम संस्कार रविवार की सुबह गंगा नदी तट पर पूरे राजकीय सम्मान के साथ किया जाएगा। वही गांव के लोग भी शहीद बेटे की अंतिम विदाई देने की तैयारी में जुटे हुए हैं। शहीद जवान के सम्मान में आरा पुलिस लाइन से ही बाइक सवार लोगों का जत्था शव वाहन के साथ गांव पहुंचेगा।

शहादत की खबर सुन बेसूध पड़ी शहीद की पत्नी

आरा। नक्सली हमले में गोवर्धन पासवान के शहीद होने की खबर मिलने के साथ ही उनकी पत्नी निर्मला देवी दहाड़ मार कर रोने लगी। पति के वियोग में वह बार-बार बेहोश हो रही है। आसपास की महिलाएं व नाते-रिश्तेदार के लोग उसे ढांढस बांधते हुए नियति को कोस रहे थे। बेटों व बेटी का हाल भी खराब था। घर के सभी सदस्यों का रो-रोकर बुरा हाल हो चुका है। बताया जाता है कि गोवर्धन पासवान की शादी बिहिया थाना क्षेत्र के करजा गांव कि निर्मला देवी के साथ हुयी थी। उनको दो पुत्र व दो पुत्रियां हैं। एक पुत्री निकी देवी की शादी पिछले साल ही छोटी सासाराम गांव में हुई है। छोटी बेटी शीला कुमारी नौवीं क्लास की छात्रा है। बड़ा पुत्र सुमित कुमार आरा महाराजा कालेज में स्नातक प्रथम वर्ष का छात्र है। वहीं दूसरा पुत्र मनजीत उर्फ लालबाबू कुंवर सिंह कॉलेज में इंटर में पढता है।

शहीद के नाम पर स्कूल बनाने की उठी मांग

आरा। गोवर्धन पासवान ने देश की सुरक्षा में अपनी जान न्योछावर की है। उनके व उनके पूरे परिवार को पूरा सम्मान मिलना चाहिये। इसे लेकर गांव में उनके नाम पर स्कूल व स्मारक बनाने की मांग भी उठने लगी है। शहीद गोवर्धन के जीजा लालजी पासवान सहित अन्य लोगों ने बताया कि शहीद के नाम से गांव में स्कूल बने और परिवार को उचित मुआवजा मिले। उन्होंने शहादत की सूचना के बावजूद शनिवार की दोपहर तक किसी अफसर के नहीं आने पर चिंता भी जतायी है।


Don`t copy text!
LATEST NEWS
आरा सदर अस्पताल में टिक टॉक वीडियो बनाने की जांच के आदेश मजदूर की हत्या के मामले में प्राथमिकी दर्ज, आरोपी गिरफ्तार आरा में लूट की साजिश कर रहे कोढ़ा गिरोह के दो सदस्य गिरफ्तार लापरवाहीः किशोरी का पैर टूटा नहीं और डाक्टर ने चढ़ा दिया प्लास्टर सोनू हत्याकांडः मुख्य आरोपित के घर पर चिपकाया गया इश्तेहार सोशल साइट पर अंंजान व्यक्ति का फ्रेंड्‌स रिक्वेस्ट न करे एक्सेप्ट भोजपुर: शाहपुर में गोलीमार कर युवक की हत्या, दूसरा जख्मी आवेदन पर कार्रवाई नहीं करने में उदवंतनगर थाना इंचार्ज सस्पेंड ये तो हद हो गयीः दूसरे दिन भी महिला वार्ड में बेड पर आराम फरमाते मिले पुरुष पोकलेन की चपेट में आने से सीनियर सर्विस इंजीनियर की मौत