अभिभावक व शिक्षक बच्चों में अच्छे संस्कार डाले- डॉ. अर्चना

अभिभावक व शिक्षक बच्चों में अच्छे संस्कार डाले- डॉ. अर्चना

जीवन में परिश्रम का फल अवश्य मिलता है-डॉ. जितेंद्र

नागरी प्रचारिणी का मंच अमूल्य-

डॉ. कुमार द्विजेन्द्र

डीएमसी ने आयोजित किया 30 दिवसीय समर कैंप

खबरें आपकी,आरा : डीएमसी संस्था द्वारा आयोजित 30 दिवसीय समर कैंप का समापन समारोह स्थानीय नागरी प्रचारिणी सभागार में आयोजित किया गया। इसमें कैंप के दौरान विभिन्न विधाओं के प्रतिभागियों ने अपनी कला का प्रदर्शन किया। कार्यक्रम का उद्घाटन मुख्य अतिथि सम्भावना आवासीय उच्च विद्यालय की प्राचार्या डॉ. अर्चना सिंह, निदेशक डॉ. कुमार द्विजेन्द्र, डॉ. कुमार द्विजेन्द्र, हड्डी रोग विशेषज्ञ डॉ. कुमार जितेन्द्र, शाहाबाद ब्राह्मण महासभा के अध्यक्ष अंजनी तिवारी आदि ने संयुक्त रूप से दीप जलाकर किया।

इस अवसर पर डॉ. अर्चना सिंह ने कहा कि बच्चे देश के कर्णधार हैं। इसलिए मां-बाप अथवा शिक्षक इनमें अच्छा संस्कार डालें। कथनी व करनी में फर्क नहीं होना चाहिए। उन्होंने जीवन में सफलता के लिए अर्जुन की तरह लक्ष्य निर्धारित करके काम करने की बात कही। डॉ. कुमार द्विजेन्द्र ने कहा कि आज मैं जो भी नागरी प्रचारिणी सभागार मंच की बदौलत हूं। मंच की सजावट बहुत ही सराहनीय है। डॉ. कुमार जितेन्द्र ने कहा कि यदि जीवन में परिश्रम किया जाए तो सफलता अवश्य मिलेगी। अंजनी तिवारी ने कहा कि यदि बच्चा संस्कारित होगा तो हर क्षेत्र में सफलता हासिल करेगा। शमशाद, वेद प्रकाश सागर, अमित राज आदि ने भी अपना विचार प्रकट किया।

कार्यक्रम का शुभारंभ गणेश वंदना से हुआ। किड्स ग्रुप ने हम पागल नहीं हैं भइया.., छोटा बच्चा जान के हमको..समेत अन्य गीतों पर जमकर झूमे। हर्षिता उर्फ परी ने पल्लो लटके मारो समेत अन्य गीतों पर नृत्य किया। अदिति एण्ड ग्रुप द्वारा मेरा सैंया सुपर स्टार.., हंसिका, रीषिका और कोमल द्वारा घूमर, सोनाक्षी गुप्ता, शोभा रानी, प्रिया गुप्ता, ज्योति कुमारी, सालू कुमारी व नीकू कुमारी द्वारा दीवानी मस्तानी.., पंकज एण्ड ग्रुप द्वारा ऊंचा लंबा कद..प्रस्तुत किया गया। धर्मेन्द्र सिंह ने अपनी मधुर आवाज में एक मुलाकात जरूरी है सनम..और वक्त का ये परिदा रूका है कहां..गीत प्रस्तुत कर सबको मंत्रमुग्ध किया। डीएमसी के डायरेक्टर व अभिनेता ओपी कश्यप द्वारा प्रस्तुत एक अभिनय बुजुर्गों की व्यथा, अंधा युग व रश्मि रथि के अंशों की प्रस्तुति और फैंसी ड्रेस में विभिन्न प्रांतों की दुल्हनों को दर्शकों ने काफी पसंद किया। मंच संचालन प्रगति दूबे ने किया।


Don`t copy text!
LATEST NEWS