Friday, February 26, 2021
No menu items!
Home Uncategorized दोहरीकरण, आमान परिवर्तन एवं नई रेल लाइन निर्माण परियोजनाओं पर कार्य प्रारंभ

दोहरीकरण, आमान परिवर्तन एवं नई रेल लाइन निर्माण परियोजनाओं पर कार्य प्रारंभ

कोविड-19 से बचाव के सभी संसाधन श्रमिकों को कराए जा रहे उपलब्ध

बिहार/पटना। पूर्व मध्य रेल ने देश भर में आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति के साथ-साथ केंद्रीय गृह मंत्रालय द्वारा जारी दिशा-निर्देश के तहत् कुछ महत्वपूर्ण रेल परियोजनाओं पर निर्माण कार्य प्रारंभ किया गया है। श्रमिकों के स्वास्थ्य हित को प्राथमिकता देते हुए निर्माण कार्य में शामिल सभी श्रमिकों का कोविड-19 से बचाव के उपायों का कड़ाई से अनुपालन किया जा रहा है। सभी निर्माण कार्य सीमित कार्यबल द्वारा कराए जा रहे हैं तथा सामाजिक दूरी भी बनाए रखी जा रही है। इसी क्रम में पूर्व मध्य रेल द्वारा 20 अप्रैल से उत्तर बिहार में 146 किलोमीटर दोहरीकरण, 58 किलोमीटर आमान परिवर्तन, 59 किलोमीटर नई लाइन निर्माण परियोजनाओं पर कार्य जारी है। इसी तरह 1 सड़क ऊपरी पुल का कार्य भी प्रारंभ हो गया है।

Railways-started-construction-in-Bihar

दोहरीकरणः

कटरिया-कुरसेला (07 किलोमीटर) दोहरीकरण परियोजना पर कार्य करते हुए इस रेलखंड में पुल संख्या 10 का मिट्टी तथा वेल फाउंडेशन का कार्य शुरू कर दिया गया है।

समस्तीपुर-दरभंगा दोहरीकरण परियोजना के तहत् 27 किलोमीटर लंबे किशनपुर-दरभंगा रेलखंड में मिट्टी कार्य तथा ट्रैक लिकिंग एवं प्लेटफार्म के निर्माण/विस्तारीकरण का कार्य जारी है। साथ ही दरभंगा-थलवाड़ा रेलखंड पर रेलवे ट्रैक से जुड़े कार्य किए जा रहे हैं । इसी तरह नरकटियागंज-साठी (08 किलोमीटर), नरकटियागंज-वाल्मिकीनगर (68 किलोमीटर) रेलखंड में मिट्टी, पुल निर्माण तथा समपारों पर संरक्षा से संबंधित कार्य तीव्रगति से जारी हैं । लगभग 100 किलोमीटरे लंबे मुजफ्फरपुर-सगौली दोहरीकरण परियोजना के तहत मुजफ्फरपुर-जीवधारा (07 किलोमीटर) तथा जीवधारा-सगौली (29 किलोमीटर) पर मिट्टी ब्लैंकेटिंग सहित अन्य कार्य किये जा रहे हैं। कटरिया-कुरसेला दोहरीकरण परियोजना के बुनियादी कार्य भी इस अवधि में पारंभ हो गए हैं।

Railways-started-construction-in-Bihar

आमान परिवर्तन:

घोघरडीहा-निर्मली (11 किमी) रेलखंड में रेल पुल संख्या 133 पर गर्डर लॉचिंग तथा निर्मली स्टेशन में सुधार के कार्य, तमुरिया-घोघरडीहा (12 किमी) रेलखंड में 05 समपारों पर संरक्षा से संबंधित कार्यों का निष्पादन तथा सरायरंजन-राघोपुर (11 किलोमीटर) रेलखंड पर मिट्टी, रेल पुल तथा अन्य विविध कार्य जारी हैं। बड़हराकोठी-बिहारीगंज (12 किमी) तथा नरकटियागंज-अमोलवा-गौनाहा (22 किमी) आमान परिवर्तन कार्य के तहत् इन रेलखंडों में मिट्टी कार्य रेल पुल का निर्माण प्रारंभ कर दिया गया है।

नई लाइन

ऐतिहासिक एवं पर्यटन दृष्टि से महत्वपूर्ण हाजीपुर-सगौली नई रेल लाइन परियोजना के तहत् वैशाली-देवरिया (30 किमी) के बीच रेल पुल और सड़क अंतर्गामी पुल (आर.यू.बी.) का निर्माणकार्य प्रारंभ हो गया है। विदित हो कि वर्ष 2003-04 में 528.65 करोड़ रूपए की लागत से 148.5 किलोमीटर लंबे हाजीपुर-सगौली नई रेल लाइन परियोजना की स्वीकृति प्रदान की गयी थी जिसका शिलान्यास दिनांक 10 फरवरी, 2004 को तत्कालीन माननीय प्रधानमंत्री द्वारा किया गया था। इसका संशोधित लागत 2066.78 करोड़ रूपया है।

इस परियोजना को चार खंडों में बांटकर पूरा किया जा रहा है। प्रथम चरण में हाजीपुर से घोसवर तक (5.5 किलोमीटर) का कार्य 04.12.2016 तक पूरा किया जा चुका है और इसपर ट्रेनों का परिचालन भी प्रारंभ किया जा चुका है। दूसरे चरण में घोसवर से वैशाली तक (30 किलोमीटर) का कार्य भी पूरा कर लिया गया है तथा 19 मार्च 2020 को रेल संरक्षा आयुक्त (पूर्वी परिमंडल) द्वारा इस रेलखंड का निरीक्षण भी किया जा चुका है।

कोरोना पॉजिटिव दामाद बना ससुराल वालों के लिए मुसीबत

निरीक्षण के पश्चात् रेल संरक्षा आयुक्त ने इस नवनिर्मित रेलखंड पर 60 किलोमीटर प्रतिघंटा की गति से ट्रेनों के परिचालन हेतु अपनी स्वीकृति भी दे दी है। घोसवर (हाजीपुर) से वैशाली के बीच हरौली फतेहपुर, घटारो, लालगंज एवं वैशाली स्टेशन बनाए गए हैं तथा इस रेलखंड पर 46 लघु पुलों, 01 आरओबी एवं 16 आरयूबी का निर्माण किया गया है। चौथे तथा अंतिम चरण में देवरिया से सगौली तक (83 किलोमीटर) का कार्य पूरा किया जाएगा।

Railways-started-construction-in-Bihar

हसनपुर-कुशेश्वरस्थान (24.5 किमी) तथा खगड़िया-कुशेश्वरस्थान नई रेल लाइन परियोजना का कार्य प्रारंभ करते हुए इस रेलखंड के निर्माण हेतु छोटे रेल पुल, सड़क अंतर्गामी पुल (आर.यू.बी.), तथा गिट्टी बिछाने का कार्य प्रारंभ कर दिया गया है।त्रइसी क्रम में हाजीपुर-छपरा रेलखंड के मध्य गोल्डेनगंज में सड़क ऊपरी पुल (आर.ओ.बी.) का निर्माण कार्य तथा मुजफ्फरपुर जंक्शन पर आरआरआई के पूर्व की तैयारियां जोरो पर हैं।

जगदीशपुर और बिहिया में भी एक-एक कोरोना पाॅजिटिव

लॉकडाउन के दौरान पूर्व मध्य रेल द्वारा कार्य पर उपस्थित सभी श्रमिकों की नियमित थर्मल स्क्रीनिंग की जा रही है तथा सामाजिक दूरी बनाए रखा जा रहा है साथ ही कोविड-19 से बचाव के सभी संसाधन मुहैया कराए जा रहे हैं। यह जानकारी पूर्व मध्य रेल हाजीपुर के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी राजेश कुमार ने दी।

- Advertisment -
Slider
Slider

Most Popular