Thursday, October 6, 2022
No menu items!
HomeNewsCrimeभोजपुर में छपरा निवासी फाइनेंस कंपनी के असिस्टेंट मैनेजर की गोली मार...

भोजपुर में छपरा निवासी फाइनेंस कंपनी के असिस्टेंट मैनेजर की गोली मार हत्या

भोजपुर में छपरा निवासी फाइनेंस कंपनी के असिस्टेंट मैनेजर की गोली मार हत्या

मुफस्सिल थाने के चंदा और कल्याणपुर गांव के बीच के रविवार की दोपहर की घटना

पैसा कलेक्शन कर लौट रहे असिस्टेंट मैनेजर को ताबड़तोड़ मारी गयी तीन गोलियां

घटनास्थल पर पहुंच घटना के कारणों की छानबीन में जुटी पुलिस, तीन खोखे मिले
आरा भोजपुर न्यूज़ । भोजपुर के मुफस्सिल थाना क्षेत्र के चंदा और कल्याणपुर गांव के बीच रविवार की दोपहर
एक फाइनेंस कंपनी के असिस्टेंट मैनेजर की गोली मार हत्या कर दी गयी। बदमाशों द्वारा उन्हें करीब से ताबड़तोड़ तीन गोलियां मारी गयी थी। इसमें एक गोली बाएं साइड गर्दन, दूसरी बाए साइड गाल और तीसरी गोली बाएं साइड सीने में लगी थी। इससे घटनास्थल पर मौके पर ही उनकी मौत हो गई थी। मृतक सारण के मसरख थाना क्षेत्र के मसरख गांव निवासी अलख राय के 28 वर्षीय पुत्र शैलेश कुमार यादव थे। वर्तमान में वह बिहिया बाजार स्थित एक फाइनेंस कंपनी में करीब डेढ़ वर्षो से फील्ड ऑफिसर के पद पर कार्यरत थे। हाल ही में उनका प्रमोशन असिस्टेंट मैनेजर के पद पर हुआ था। हत्या का कारण फिलहाल स्पष्ट नहीं हो सका है‌। सूचना मिलने पर एएसपी हिमांशु और मुफस्सिल थानाध्यक्ष मौके पर पहुंचे और कारणों की छानबीन की। उस दौरान पुलिस को घटनास्थल से तीन खोखे मिले है। पोस्टमार्टम के दौरान भी उनके शरीर से भी दो बुलेट मिला है। वहीं घटनास्थल से मैनेजर की बाइक, हेलमेट और गाड़ी की की डिक्की में पड़े 40 हजार रुपये नगद भी बरामद किया गया है। हालांकि उनका बैग और मोबाइल गायब है। घटना के संबंध में बताया जा रहा है कि असिस्टेंट मैनेजर कलेक्शन कर बिहिया लौट रहे थे। तभी बीच रास्ते में उनकी गोली मार हत्या कर दी गयी। एएसपी ने बताया कि मामले की हर एंगल से जांच की जा रही है। फाइनेंस कर्मी की बाइक की डिक्की में पैसा पड़ा हुआ था। ऐसे में लूटपाट के दौरान हत्या करने की बात स्पष्ट नहीं हो रही है। उनके परिजन के द्वारा ही कुछ स्पष्ट जानकारी मिलेगा। परिजनों के आने के बाद उनके बयान के आधार पर कार्रवाई की जायेगी। पुलिस अपने स्तर से अपराधियों की पहचान और धरपकड़ में जुटी है।

हत्या से आधा घंटे पहले ही उनकी मैनेजर की हुई थी बात

भोजपुर न्यूज़ : बिहिया फाइनेंस कंपनी के ब्रांच मैनेजर विशाल कुमार सिंह ने बताया कि शैलेश कुमार यादव रविवार सुबह कलेक्शन में निकले थे। वह तीन-चार गांवों में कलेक्शन करने गये थे। रविवार दोपहर हत्या से आधा घंटा पहले ही उनकी शैलेश कुमार से फोन पर बात हुई थी। तब उन्होंने बताया था कि कलेक्शन पूरा हो चुका है और वह लौट रहे हैं। इसके कुछ ही देर बाद ही सूचना मिली के उनकी गोली मारकर हत्या कर दी गई है। ब्रांच मैनेजर विशाल कुमार सिंह ने शैलेश कुमार यादव के किसी भी व्यक्ति से किसी भी दुश्मनी एवं विवाद होने से इंकार किया है।

तबादले से पहले चली गयी असिस्टेंट मैनेजर की जान

जानकारी के अनुसार शैलेश कुमार यादव विगत डेढ़ वर्षो से बिहिया में पोस्टेड थे। वह
अपने दो साथी नीरज और मोहन के साथ बिहिया थाना क्षेत्र के साहेब टोला गांव में किराये के मकान लेकर रहता था। पिछले महीने ही उसका प्रमोशन कर फाइनेंस कंपनी का असिस्टेंट ब्रांच मैनेजर बनाया गया था। बताया जा रहा है पिछले माह 22 जुलाई को उनका ट्रांसफर पटना के बिक्रम कर दिया गया था। लेकिन कर्मचारियों की कमी होने के कारण आठ दिन पूर्व उनको कंपनी द्वारा कलेक्शन के लिए बुला लिया गया था। इधर, कंपनी के ब्रांच मैनेजर विशाल कुमार सिंह ने बताया कि जल्द ही उनका तबादला होने वाला था। लेकिन उससे पहले ही उनकी हत्या कर दी गयी।

लूट का विरोध करने पर हत्या की जताई जा रही आशंका

छपरा निवासी फाइनेंस कर्मी की लूटपाट का विरोध करने के दौरान हत्या की आशंका जताई जा रही है। पुलिस भी इस एंगल से तफ्तीश कर रही है‌। लेकिन पुलिस इस मामले को अबतक कोई ठोस क्लू नहीं मिला है। इधर, हत्या की जांच में जुटी पुलिस मोबाइल सर्विलांस और लोकेशन के जरिए भी अपराधियों की पहचान व धरपकड़ में जुटी है। इसके लिए डीआईयू की भी मदद ली जा रही। इधर, हत्या की सूचना मिलते ही मुफस्सिल थानाध्यक्ष संजय कुमार सिंह और गजराजगंज ओपी इंचार्ज चंदन कुमार दल-बल के साथ घटनास्थल पर पहुंचे। उसके बाद शव का पोस्टमार्टम कराया गया और तफ्तीश शुरू कर दी गयी। वहीं बताया जा रहा है कि पोस्टमार्टम के दौरान मृतक की बॉडी से गोली के दो बुलेट बरामद किया गया है। उसे जांच के लिए सुरक्षित रख लिया गया है।

तीन भाइयों में मांझिल था शैलेंद्र, छह माह पहले छोटे भाई की हुई थी मौत

बताया जा रहा है कि शैलेंद्र कुमार यादव बीते माह जुलाई को अपने घर गये थे। उसके बाद एक अगस्त को वापस लौट आये थे। बताया जाता है कि वह अपने तीन भाइयों में मांझिल थे। उनके परिवार में मां बच्ची देवी, एक बड़ा भाई गांधी कुमार और एक बहन अनीता देवी है। उनके छोटे भाई मुकेश कुमार की 6 माह पूर्व हृदय गति रुकने के कारण मौत हो गई थी। घटना के बाद उनके घर में कोहराम मच गया है। मां बच्ची देवी सहित परिवार के सभी सदस्यों का रो-रोकर बुरा हाल था।

MD WASIM
MD WASIM
Journalist
- Advertisment -
shayamji rai
shayamji rai shahpur
9999136320 9308750659
shayamji rai shahpur
k
Untitled design (1)
Untitled design (2)
Untitled design

Most Popular