Wednesday, May 18, 2022
No menu items!
HomeUncategorizedभोजपुरः शराब का धंधा बंद करावने का आरोप लगा युवक को मारी...

भोजपुरः शराब का धंधा बंद करावने का आरोप लगा युवक को मारी गोली

गड़हनी थाना के विशंभरा गांव की मंगलवार की रात की घटना

मारपीट में दोनों पक्ष के चार जख्मी, सभी का आरा सदर अस्पताल में चल रहा इलाज

आरा। भोजपुर जिले के गड़हनी थाना क्षेत्र के विशंभरा गांव में शराब का धंधा बंद करवाने के विवाद में मंगलवार की रात दो पक्षों में जमकर मारपीट हुई। इस दौरान एक पक्ष के एक युवक को गोली भी मार दी गयी। गोली उसके पैर में लगी, जो आर-पार हो गयी है। जख्मी युवक अनिल कुमार सिंह है। मारपीट में भी दोनों पक्ष के चार लोग जख्मी हो गये हैं। इनमें एक पक्ष के अनिल कुमार सिंह के अलावे उनका भतीजा मधुकांत सिंह और दूसरे पक्ष के अजीत कुमार, चुन्नू कुमार व विकी कुमार हैं। सभी का इलाज आरा सदर अस्पताल में कराया जा रहा है। दारू का धंधा व फायरिंग करने का आरोप उपमुखिया विजय सिंह पर लगा है।

आरा पहुंचे डीजीपी, पुलिस लाइन का किया निरीक्षण

सूचना मिलते ही थानाध्यक्ष मो. शाजिद हुसैन दलबल के साथ मौके पर पहुंच गये। इस मामले में पुलिस ने विशंभरा गांव निवासी कुरकुरी पंचायत के उप मुखिया विजय सिंह को गिरफ्तार कर लिया। वह मारपीट व फायरिंग का मुख्य आरोपित बताया जा रहा है। इस संबंध में गोली से जख्मी अनिल कुमार सिंह के बयान पर विजय सिंह सहित गांव के 12 लोगों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज करायी गयी है।

उप मुखिया चलवा रहा था दारू का धंधा, उसके इशारे पर की गयी फायरिंग

उसमें कहा गया है कि मंगलवार की रात करीब दस बजे उपमुखिया विजय सिंह उसके दरवाजे पर आ धमके और दारू का धंधा बंद कराने का आरोप लगा गाली-गलौज करने लगे। विरोध करने पर धमकी देते चले और कुछ देर के अपने परिजनों व समर्थकों के साथ आये और मारपीट की जाने लगी। इस दौरान रॉड व लाठी-डंडे से उसे और उसके भतीजे को मारपीट कर जख्मी कर दिया। इसके बाद अंधाधुंध फायरिंग की जाने लगी। इसमें एक गोली उसके पैर में जा लगी। उसके बाद सभी घायलों को इलाज के लिये सदर अस्पताल लाया गया।

उपमुखिया गिरफ्तार, अन्य आरोपितों की गिरफ्तारी को ले चल रही छापेमारी

थानाध्यक्ष मो. शाजिद हुसैन ने बताया कि मुख्य आरोपित उप मुखिया विजय सिंह को गिरफ्तार कर लिया गया है। अन्य आरोपितों की धरपकड़ के लिये छापेमारी की जा रही है। मामले की हर विन्दुओं पर छानबीन की जा रही है।

- Advertisment -

Most Popular