Friday, July 1, 2022
No menu items!
HomeNewsबिहारभोजपुर अब आत्मा का एक हिस्सा, आरा से बंधा अटूट गठजोड़

भोजपुर अब आत्मा का एक हिस्सा, आरा से बंधा अटूट गठजोड़

भोजपुर अब आत्मा का एक हिस्सा, आरा से बंधा अटूट गठजोड़
आईपीएस विनय तिवारी ने फेसबुक पोस्ट के माध्यम से साझा की आरा से जुड़ी यादें
कहा: आरा के साथ उनका आत्मतत्व और शाश्वत संबंध स्थापित

आरा। भोजपुर में बतौर एसपी दस माह के कार्यकाल में लोगों के दिल तक पहुंचने में कामयाब रहे आईपीएस विनय तिवारी ने आरा से जुड़ी यादें साझा की है। पुलिस अधिकारी के साथ युवा कवि विनय तिवारी द्वारा फेसबुक पोस्ट के जरिये आरा से अपने संबंधों को भी बखूबी उजागर किया गया है। फेसबुक पेज पर आरा के लोगों के नाम संदेश में लिखा है कि भोजपुर उनकी आत्मा का एक हिस्सा बन गया है। आरा से अनोखा और शाश्वत संबंध स्थापित हो गया है। लिखा है कि आरा नगर और भोजपुर जिले में सेवा करने का सौभाग्य मिलना गर्व की अनुभूति है। आरा मुझे जितना प्रेम करता है, उससे कहीं अधिक मैं भी आरा से प्रेम करता हूं। एक नगर और एक व्यक्ति के बीच अनोखा प्रेम संबंध बन जाता है। जैसे भोजपुर के साथ एक अद्भुत संबंध बना है। भोजपुर मुझे जितना प्रेम करता है उससे कहीं अधिक प्रेम मैं भोजपुर से करता हूं। ये नगर मुझमें है और मैं इस नगर में हूं। मेरी आत्मा का एक हिस्सा अब आरा है। आरा और मेरे बीच प्रेम का, चाहत का, अनोखा संबंध बन चुका है। एक गठजोड़ बंध गया है, जो किसी भी शक्ति के तोड़ने से नहीं टूटेगा। कोई भी शक्ति कितनी भी शक्तिशाली क्यों न हो पर वो प्रकृति और व्यक्ति के बीच के संबंधों को हिला नहीं सकती है। विनय तिवारी ने लिखा है कि जब तक जीवन है, तब तक मन मस्तिष्क मंदिर में एक हिस्सा भोजपुर का ही रहेगा। अपने संस्मरण में उन्होंने आरा शहर में विराजमान मां आरण्य देवी और शहर के विभिन्न चौक चौराहों मसलन कतिरा मोड़, महुली घाट, शिवगंज चौराहा के अलावे और चंदवा मोड़ सहित अन्य हिस्सों का भी जिक्र किया है। रमना मैदान भी अनकी स्मृतियों में बसी है। फेसबुक पोस्ट के जरिये उन्होंने लोगों को अपनी तरफ से बधाई और शुभकामनाएं भी दी है। साथ ही आरा में किए गए कार्यों को भी इस पोस्ट के माध्यम से जोड़ने का प्रयास किया है। बता दें कि 10 महीने के कार्यकाल में ट्राफिक व्यवस्था में सुधार और चोरी गये मोबाइल एवं बाइक बरामद कर उन्होंने
काफी लोकप्रियता हासिल की है।खासकर युवाओं में उनका काफी क्रेज था।

MD WASIM
Journalist
- Advertisment -

Most Popular