Monday, March 4, 2024
No menu items!
HomeNewsCrimeलूटपाट के दौरान पटना के युवक को गोली मारने में तीन अपराधी...

लूटपाट के दौरान पटना के युवक को गोली मारने में तीन अपराधी गिरफ्तार

लूटपाट के दौरान पटना के युवक को गोली मारने में तीन अपराधी गिरफ्तार
इमादपुर इलाके से पुलिस ने शुक्रवार को तीनों बदमाशों को दबोचा
लूटे गये दोनों मोबाइल और घटना में इस्तेमाल बाइक भी बरामद
सहार थाने के बड़की खड़ाव के पास 21 जुलाई की शाम हुई थी घटना
आरा। नासरीगंज-सकड्डी स्टेट हाईवे पर भोजपुर के सहार थाने के बड़की खड़ांव गांव के समीप
लूटपाट के दौरान पटना के युवक को गोली मारे जाने की घटना का खुलासा हो गया। इस मामले में पुलिस ने तीन लुटेरों को भी गिरफ्तार कर लिया गया है। अपराधियों के पास सेलूटे गये दोनों मोबाइल और घटना में इस्तेमाल बाइक भी बरामद कर ली गयी है। गिरफ्तार लुटेरों में इमादपुर थाना क्षेत्र के इमादपुर गांव के ऋषिकेश कुमार पांडेय उर्फ गुड्डू, केशव कुमार पांडेय उर्फ टाइगर और मोआप खुर्द गांव का निवासी जयप्रकाश उपाध्याय उर्फ मास्टर हैं। पीरो एसडीपीओ राहुल कुमार सिंह के नेतृत्व में टीम ने तीनों को गिरफ्तार किया है।‌ ऋषिकेश कुमार पांडेय उर्फ गुड्डू पांडेय लूटकांड का मुख्य मास्टर माइंड है‌। वह कुख्यात और पेशेवर अपराधी है। एसपी संजय कुमार सिंह की ओर से यह जानकारी दी गयी। उन्होंने बताया कि घटना के बाद अपराधियों की गिरफ्तारी को पीरो एसडीपीओ के नेतृत्व में एक टीम गठित की गयी थी। टीम ने तकनीकी अनुसंधान व मानवीय इनपुट के जरिए तीनों अपराधियों की पहचान की। उसके बाद शुक्रवार को तीनों को गिरफ्तार कर लिया गया। पूछताछ में तीनों ने लूट और गोली मारने में शामिल होने की बात स्वीकार कर ली। हालांकि हथियार नहीं मिल सका है। पुलिस तीनों से हथियार बरामदगी में जुटी है।
टीम में अगिआंव इंस्पेक्टर गौतम कुमार, सहार थाना इंचार्ज प्रमोद कुमार, चौरी थानाध्यक्ष पवन कुमार, सिकरहट्टा थानेदार आशीष कुमार साह, नारायणपुर थानाध्यक्ष नीतू कुमारी, हसन बाजार ओपी इंचार्ज शिवेंद्र कुमार, इमादपुर थानाध्यक्ष प्रभास कुमार, डीआईयू के दारोगा सुदेह कुमार और संजय कुमार यादव शामिल थे।

लूटपाट का विरोध करने पर गुड्डू ने मारी थी युवक को गोली
इमादपुर निवासी ऋषिकेश कुमार पांडेय उर्फ गुड्डू इस लूटकांड का मेन सरगना है। उसने ही लूटपाट का विरोध करने पर युवक को गोली मारी थी। जबकि दो अन्य बाइक पर बैठे थे। गिरफ्तार तीनों अपराधियों से पूछताछ के बाद पीरो एसडीपीओ ने यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि बाइक सवार दो युवक सहार के लोदीपुर से पटना जा रहे थे। उसी बीच नासरीगंज -सकड्डी एसएच 81 पर बड़की खड़ाव के पास तीनों अपराधी पहुंच गये। अपाची बाइक सवार नशे में धूत अपराधियों ने ओवरटेक कर लड़कों को रोक दिया। उसके बाद उनसे मोबाइल, पैसे और बाइक छीनने लगे। इस पर दोनों युवकों ने विरोध किया, तो गुड्डू ने गोली मारी दी। उसके बाद मोबाइल और पर्स लेकर भाग गये। बता दें कि पटना के सिंघाड़ा कोपा गांव निवासी राम प्रवेश सिंह के पुत्र विजेंद्र यादव 21 जुलाई की शाम बहन के घर लोदीपुर से एक युवक के साथ गांव लौट रहा था। तभी बड़की खड़ांव ब्रह्म स्थान के समीप उजला रंग की अपाची बाइक सवार तीन की संख्या में अपराधियों ने रोक दिया और लूटपाट करने लगा। इसी क्रम में बदमाशों द्वारा उसे गोली मार दी गयी थी। घटना को अंजाम देने के बाद अपराधी इमादपुर के बिहटा की ओर भाग गये थे।

गुड्डू मुखिया की बेटी की हत्या और गार्ड से राइफल लूट में भी आरोपित
एसडीपीओ राहुल कुमार सिंह ने बताया कि इमादपुर गांव निवासी ऋषिकेश कुमार पांडेय उर्फ गुड्डू पांडेय एक कुख्यात अपराध कर्मी है। उस पर पूर्व में हत्या और लूट सहित अन्य मामले हैं। वह पूर्व में जेल भी जा चुका है। उन्होंने बताया कि 2005 में उसने सहार के गुलजारपुर गांव में कोरनडिहरी पंचायत के मुखिया की बेटी की गोली मार हत्या कर दी थी। उसके बाद 2011 में चौरी थाने के अटपा गांव के पास रोहतास के नासरीगंज के व्यवसायी से साठ हजार रुपए लूट लिया था। 2012 में नवादा थाना क्षेत्र में एक शोरूम के गार्ड से राइफल लूटने में भी गुड्डू आरोपित रहा। इसके अलावे भी अन्य मामले हैं। दूसरे जिले के थानों से भी उसका आपराधिक इतिहास पता लगाया जा रहा है। उन्होंने बताया कि उसकी गिरफ्तारी एक बड़ी सफलता है।

MD WASIM
MD WASIM
Journalist
- Advertisment -

Most Popular