Saturday, October 23, 2021
No menu items!
Homeबिहारआरा भोजपुरबड़े-बड़े प्रतिष्ठान व क्लीनिक बने, पर वाहनो के पार्किंग की व्यवस्था नहीं

बड़े-बड़े प्रतिष्ठान व क्लीनिक बने, पर वाहनो के पार्किंग की व्यवस्था नहीं

Arrah Road Jam-पार्किंग नहीं होने से पुलिस के मास्टर प्लान की रफ्तार पर असर

जिला प्रशासन, नगर निगम और प्रतिनिधि पार्किंग को ले उदासीन 

शहर के बड़े व्यवसाइयों को भी करनी होगी पार्किंग की पहल

खबरे आपकी आरा पतली सड़कें और पार्किंग गायब। उपर से वाहनों की भीड़। फिर सड़क बन जा रही पार्किंग। नतीजा रोड जाम। यह हाल आरा शहर का रोज का है। रोज ऐसा ही नजारा देखने को मिलता है। बावजूद इसके नगर निगम, जिला प्रशासन और प्रतिनिधि उदासीन बने हैं। शहर के बड़े व्यवसायइयों की ओर से भी पार्किंग को पहल नहीं की जा रही। पार्किंग की व्यवस्था नहीं होने के कारण पुलिस का मास्टर प्लान भी रफ्तार नहीं पकड़ रहा है।

शहर में बड़े-बड़े व्यवसायिक प्रतिष्ठान और प्राइवेट अस्पताल तो बन गये। लेकिन पार्किंग की व्यवस्था नहीं की गयी। हालांकि कुछ प्रतिष्ठानों और अस्पतालों की ओर से पार्किंग की मामूली व्यवस्था की गयी है। लेकिन वह पूरी तरह नाकाफी है। इस कारण खरीदारी और इलाज करने आये लोगों को सड़क किनारे ही गाड़ी पार्क करनी पड़ती है। नतीजा जाम के रूप में सामने आता है। बताते चलें कि आरा शहर की आबादी काफी अधिक है। दो पहिया और चार पहिया वाहनों की संख्या भी बढ़ती जा रही है। वहीं जिला मुख्यालय होने के कारण भी काफी लोगों का आना-जाना लगा रहता है। 

पढ़ें- एसडीपीओ के जांच रिपोर्ट पर एसपी ने की कार्रवाई,दोषी पुलिस कर्मियों पर हत्या का मुकदमा करने की मांग

बड़े-बड़े प्रतिष्ठान, मॉल और सदर अस्पताल सहित अन्य बड़े क्लीनिक भी हैं। ऐसे में खरीदारी और इलाज कराने भी काफी लोग आरा आते-जाते रहते हैं। लेकिन पार्किंग नहीं होने के कारण रोड किनारे ही गाड़ी पार्क कर देते हैं। इससे अक्सर ही जाम की समस्या उत्पन्न होती रहती है। 

जाम से निजात को पुलिस ने लागू की मास्टर प्लान

Arrah Road Jam-आरा शहर में जाम और लोगों की समस्या को देखते हुये पुलिस की ओर से पहल करते हुये मास्टर प्लान लागू की गयी है। इसके तहत वनवे, नो इंट्री, और लेन ड्राइविंग शुरू की गयी है। ट्रैफिक सिस्टम को भी काफी हद तक बदल दिया गया है। हर चौक पर ट्रैफिक पोस्ट बना दिया गया है। सिग्नल सिस्टम ट्रैफिक लागू की गयी है। नगर निगम के सहयोग से सड़क से अवैध कब्जे को हटाया जा रहा है। इसका काफी असर भी पड़ा है और जाम की समस्या काफी हद तक कम हुआ है। लेकिन पार्किंग के अभाव में अभी भी पब्लिक को परेशानी हो रही है।

पढ़ें- तयशुदा शादी जब लेनदेन में लटका – पुलिस थाने में अरेंज मैरिज बना प्रेम विवाह

पढ़ें- जब काशी विश्वविद्यालय को अस्पताल बना देने की धमकी दी थी गवर्नर ने..

- Advertisment -
ad
ad
ad
ad
ad (2)
AD
ad
ad (2)
Ad

Most Popular