Tuesday, February 27, 2024
No menu items!
HomeNewsCrimeबैंक कर्मियों की गलतफहमी से पुलिस के हाथ से बच निकले लुटेरे

बैंक कर्मियों की गलतफहमी से पुलिस के हाथ से बच निकले लुटेरे

Axis Bank Robbery: बैंककर्मियों को लगा था कि अपराधी अंदर छुपे हैं। उस आधार पर कर्मियों की ओर से पुलिस को सूचना दी गयी थी कि अपराधी बैंक के अंदर ही मौजूद हैं। कहा गया था कि लुटेरों को बैंक में बंद कर दिया गया है। इस पर तत्काल कार्रवाई करते हुए पुलिस बैंक पहुंची और गिरफ्तार करने के जुगत में लगी रही।

  • हाइलाइट :-
    • बैंक के सभी कमरों में तलाश की गयी, केवल बैंक कर्मी ही अंदर बंधक बने थे
    • गलत सूचना की वजह से अपराधी भाग निकले और पुलिस का समय बर्बाद हो गया

Axis Bank Robbery: आरा सर्किट हाउस-कतीरा रोड स्थित एक्सिस बैंक के कर्मियों की गलतफहमी के कारण अपराधी पुलिस के हाथ से बच निकले। पुलिस अपराधियों के बैंक में होने की गफलत में पड़ बैंक के गेट पर घंटों जमी रही। बाद में जब तक पुलिस को सही बात की जानकारी मिली, तब तक अपराधी काफी दूर निकल चुके थे।

दरअसल बैंककर्मियों को लगा था कि अपराधी अंदर छुपे हैं। उस आधार पर कर्मियों की ओर से पुलिस को सूचना दी गयी थी कि अपराधी बैंक के अंदर ही मौजूद हैं। कहा गया था कि लुटेरों को बैंक में बंद कर दिया गया है। इस पर तत्काल कार्रवाई करते हुए पुलिस बैंक पहुंची और गिरफ्तार करने जुगत में लगी रही।

काफी देर बाद जब पुलिस अंदर पहुंची, तो कोई नहीं था। केवल बैंक कर्मी ही अंदर बंधक बने थे। उस समय तक बैंक कर्मियों की ओर से कहा जाता रहा कि अपराधी किसी कमरे में छुपे हैं। उस आधार पर सभी कमरों में तलाश की गयी, लेकिन अपराधी नहीं मिले। तब पता चला कि अपराधी भाग चुके हैं। ऐसे में पुलिस की सारी तैयारी धरी की धरी रह गयी।

एसपी ने बताया कि सूचना मिली थी कि अपराधी बैंक में छुपे हैं। किसी बैंककर्मी द्वारा गेट पर बाहर से ताला लगाया गया है। उस आधार पर पूरी सतर्कता और त्वरित गति से अपने पुलिस फोर्स के माध्यम से घेराबंदी कर कार्रवाई की गयी। हालांकि तब तक बैंक कर्मियों को भी नहीं पता था कि महज चार मिनट के अंदर ही अपराधी फरार हो गए थे।

उन्होंने कहा कि इस तरह की घटनाओं के लिए पूर्व में बैंक के मैनेजर के साथ मीटिंग की गयी थी। उसमें तीन-चार जगह खासकर बाथरूम के आसपास इमरजेंसी अलार्म बटन लगवाने को कहा गया था ताकि किसी विशेष परिस्थिति में अलार्म बज सके, जिससे पुलिस और आम जनों के सहयोग से अपराधियों को पकड़ा जा सके। बहरहाल पुलिस अपराधियों की पहचान कर गिरफ्तारी में जुटी है। इधर, आम लोगों का भी कहना है कि गलत सूचना की वजह से अपराधी भाग निकले और पुलिस का समय बर्बाद हो गया।

- Advertisment -

Most Popular