Tuesday, December 6, 2022
No menu items!
HomeNewsरास्ट्रीय खबरेंझारखंड सीआरपीएफ कैंप से इंसास चोरी में फौजी और कार चालक गिरफ्तार

झारखंड सीआरपीएफ कैंप से इंसास चोरी में फौजी और कार चालक गिरफ्तार

Bhojpur ke News: REPORTED BY: कृष्णा कुमार EDITED BY:रवि कुमार

  • हाईलाइट
    • भोजपुर के नारायणपुर से पकड़ा गया चालक, पटना में धराया फौजी
    • मुख्य आरोपित फौजी को झारखंड पुलिस ने पटना में दबोचा
    • आठ नवंबर को आदित्यपुर सीआरपीएफ कैंप से इंसास लेकर भाग था फौजी
    • इंसास और कार पुलिस पहले ही नारायणपुर इलाके से कर चुकी है बरामद

खबरे आपकी आरा: झारखंड के आदित्यपुर स्थित सीआरपीएफ कैंप से इंसास रायफल की चोरी में फौजी और कार चालक आखिरकार पुलिस के हत्थे चढ़ गये। कर चालक को भोजपुर पुलिस, तो फौजी झारखंड पुलिस के हत्थे चढ़ गया। कार चालक परमल यादव को सोमवार को नारायणपुर से गिरफ्तार किया गया है। वह नारायणपुर थाने के सितुहारी गांव निवासी परमल यादव है।

Bhojpur ke News: भोजपुर के नारायणपुर से पकड़ा गया चालक

Bhojpur ke News:

इधर, इंसास लेकर भागने वाला फौजी रोहित कुमार उर्फ साहदेव को झारखंड पुलिस द्वारा उसे पटना से गिरफ्तार किया गया है।‌ चोरी के दोनों इंसास और लेकर भागने में इस्तेमाल कार पहले ही भोजपुर से बरामद कर ली गयी है। पीरो एसडीपीओ राहुल सिंह द्वारा दोनों की गिरफ्तारी की पुष्टि की गयी है। उन्होंने बताया कि सोमवार को सूचना मिली कि परमल यादव नारायणपुर में घूम रहा है। उस आधार पर थानाध्यक्ष नीता कुमारी के नेतृत्व में टीम ने नारायणपुर में छापेमारी कर उसे गिरफ्तार कर लिया। एसडीपीओ के अनुसार झारखंड पुलिस द्वारा फौजी को पटना से गिरफ्तार किया गया है।

बताते चलें कि आठ नवंबर को आदित्यपुर सीआरपीएफ (157 बटालियन) कैंप के कोत (आर्म्स गार्ड) का शीशा तोड़ दो इंसास राइफल की चोरी कर ली गयी थी। उसे लेकर सितुहारी गांव निवासी फौजी रोहित कुमार उर्फ सहदेव के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की गयी थी। सीसीटीवी फुटेज में फौजी को राइफल लेकर भागते देखा गया था। पुलिस के अनुसार चोरी करने के बाद फौजी कार से इंसास लेकर अपने गांव सितुहारी आ गया था।

झारखंड पुलिस की सूचना पर एसपी संजय कुमार सिंह द्वारा इंसास की बरामदगी और फौजी की गिरफ्तारी को एसडीपीओ के नेतृत्व में टीम गठित की गयी थी। टीम द्वारा 11 नवंबर को इंसास राइफल और कार को बरामदग कर लिया गया था। इंसास राइफल फौजी के घर के पीछे झाड़ीनुमा जगह पर बालू में छुपा कर रखी गयी थी।

- Advertisment -
Khabre Apki
Khabre Apki
Khabre Apki
Khabre Apki

Most Popular