Tuesday, November 29, 2022
No menu items!
HomeNewsCrimeआरा में दिनदहाड़े डाटा एंट्री ऑपरेटर की गोली मारकर हत्या

आरा में दिनदहाड़े डाटा एंट्री ऑपरेटर की गोली मारकर हत्या

आरा में पूर्व के विवाद में डाटा ऑपरेटर की दिनदहाड़े गोली मारकर हत्या, सनसनी
इलाज के लिए सदर अस्पताल लाने के दौरान रास्ते में तोड़ा दम
पुलिस ने शव का सदर अस्पताल में कराया पोस्टमार्टम
शहर के बस स्टैंड रोड स्थित बुढ़िया माई मंदिर के समीप गुरुवार की सुबह घटी घटना

आरा। शहर के टाउन थाना क्षेत्र के बस स्टैंड रोड स्थित बुढ़िया माई मंदिर के समीप गुरुवार की सुबह हथियारबंद अपराधियों ने एक डाटा ऑपरेटर की गोली मारकर हत्या कर दी। उसे बाए साइड सीने में गोली मारी गई है। इलाज के लिए सदर अस्पताल लाने के दौरान उसने रास्ते में ही दम तोड़ दिया। दिनदहाड़े हुई इस घटना के बाद आसपास के इलाके में सनसनी फैल गई है। जानकारी के अनुसार मृतक टाउन थाना क्षेत्र के नेहरू नगर सपना सिनेमा मोड़ निवासी मोहन प्रसाद का 35 वर्षीय पुत्र मिथिलेश कुमार है। वह विगत 5 वर्षो से डीएम ऑफिस में अनुबंध पर डाटा ऑपरेटर के रूप में कार्यरत था। उधर, घटना की सूचना मिलते ही एएसपी सह सदर एसडीपीओ हिमांशु, प्रशिक्षु डीएसपी अनुराग कुमार, टाउन थानाध्यक्ष रामविलास चौधरी, नवादा थानाध्यक्ष अविनाश कुमार सदर अस्पताल पहुंचे और मृतक के परिजनों से मिल घटना की पूरी जानकारी ली। इसके पश्चात पुलिस ने शव को अपने कब्जे में लेकर उसका पोस्टमार्टम सदर अस्पताल में करवाया। पोस्टमार्टम के दौरान मृतक के शरीर से एक बुलेट भी बरामद किया गया

भांजा बोला: पहले मारपीट की गई, उसके बाद मारी गई गोली
आरा। इधर, मृतक का भांजा सन्नी शंकर उर्फ गोलू ने बताया कि तीन दिन पूर्व उसके भाई मनीष कुमार उर्फ शाही शंकर को आरोपियों द्वारा मारपीट की गई थी। जिसके बाद जख्मी द्वारा स्थानीय थाना में लिखित आवेदन भी दिया गया था। जिसको लेकर विवाद चला आ रहा था। आज सुबह उसी विवाद को लेकर मामा मिथिलेश कुमार समझाने गये थे, कि तुम लोग अपने में झगड़ा क्यों कर रहे हो ? इसी बात को लेकर विवाद ने एक बार फिर तूल पकड़ लिया। जिसके बाद आरोपियों द्वारा पहले बांस एवं बेल्ट से सनी शंकर उर्फ गोलू की पिटाई करने लगे। जब मिथिलेश कुमार ने बीच-बचाव के दौरान इसका विरोध किया तो हथियारबंद लोगो ने उन्हें गोली मार दी। जिससे वह खून से लथपथ जख्मी हालत में जमीन पर गिर पड़ा। जिसके बाद परिजन द्वारा उसे इलाज के लिए सदर अस्पताल लाया गया जहां चिकित्सक ने देख उसे मृत घोषित कर दिया।

खटाई समेत अन्य पर लगा मारपीट व गोली मारकर हत्या करने का आरोप
आरा। दूसरी ओर मृतक का भांजा सन्नी शंकर उर्फ गोलू ने मोहल्ले के ही खटाई, आशीष उर्फ बेला, आदित्य उर्फ छोटू सहित चार लोगों पर मारपीट करने एवं खटाई द्वारा गोली मारने का आरोप लगाया है। हालांकि पुलिस अपने स्तर से मामले की छानबीन कर रही है। वही मारपीट के दौरान कोईलवर थाना क्षेत्र के गीधा ओपी अंतर्गत गीधा गांव निवासी मृतक का भांजा मनीष कुमार उर्फ साही शंकर एवं सन्नी शंकर उर्फ गोलू शामिल है।

एएसपी बोले: आरोपियों के गिरफ्तारी के लिए की जा रही छापेमारी
आरा। एएसपी सह सदर एसडीपीओ हिमांशु ने बताया कि गुरुवार सुबह मिथिलेश कुमार युवक की गोली मारकर हत्या कर दी गई है। मृतक के परिजन अभी सदमे में है। वे अभी स्पष्ट रूप से कुछ नहीं बता पा रहे है। हालांकि कुछ अपराधियों का नाम बताया गया है। उन्होंने बताया कि मृतक का कुछ लोगो से विवाद हुआ था। जिसको लेकर हत्या की गई हैं। बहरहाल पुलिस आरोपियों की गिरफ्तारी को लेकर लगातार छापेमारी कर रही है।

मासूम बच्ची के सर से उठा पिता का साया
आरा। मृतक डाटा एंट्री ऑपरेटर मिथिलेश कुमार की मौत के बाद की हत्या के बाद उनके घर में हाहाकार मच गया। परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल था। उसकी मासूम बच्ची के सर से पिता का साया उठ गया। बताया जाता है कि वह अपने दो भाइयों में बड़ा था। मृतक के परिवार में मां कांति देवी, पत्नी पूजा देवी, चार बहन किरण, मंजू, पम्मी, मुन्नी व एक भाई कमलेश कुमार एवं एक पुत्री इशिका है। घटना के बाद मृतक की मां कांती देवी पत्नी पूजा देवी एवं परिवार के सभी सदस्यों का रो-रोकर बुरा हाल था।

MD WASIM
MD WASIM
Journalist
- Advertisment -

Most Popular