Saturday, May 15, 2021
No menu items!
HomeNewsआरा सदर अस्पताल के इमरजेंसी वार्ड में हंगामा और तोड़फोड़

आरा सदर अस्पताल के इमरजेंसी वार्ड में हंगामा और तोड़फोड़

Sadar Hospital में करीब छह घंटे इमरजेंसी सेवा ठप, डाक्टर और कर्मी भागे

भोजपुर जिले के सबसे बड़े सदर अस्पताल की घटना

महिला मरीज की मौत के बाद परिजनों ने काटा बवाल

एक सप्ताह के भीतर तीसरी बार ठप्प हुई सदर अस्पताल की इमरजेंसी सेवा

खबरे आपकी बिहार/आरा: Sadar Hospital आरा सदर अस्पताल के इमरजेंसी में शुक्रवार की रात एक महिला मरीज की इलाज के दौरान मौत होने के बाद परिजनों ने जमकर हंगामा किया। इस दौरान अस्पताल में तोड़फोड़ भी की गयी। इससे इमरजेंसी में तैनात डाक्टर व नर्सिंग स्टाफ फरार हो गये। करीब 6 घंटे तक इमरजेंसी सेवा बाधित रही। इमरजेंसी सेवा बाधित होने से शहर तथा दूरदराज इलाके से आए मरीज व उनके परिजनों को काफी कठिनाइयों का सामना करना पड़ा। एक सप्ताह के भीतर आरा सदर अस्पताल में इमरजेंसी वार्ड में सेवा ठप्प रहने का यह तीसरा मामला है।

परिजनों ने नर्सिंग स्टाफ पर लापरवाही का लगाया आरोप

मृतका के पति ने Sadar Hospital के चिकित्सक एवं नर्सिंग स्टाफ पर काम मे लापरवाही का आरोप लगाया है। उन्होने बताया कि शुक्रवार की रात करीब 12 बजे अचानक उनकी तबीयत ज्यादा खराब हो गई। जिसके बाद वह उसे इलाज के लिए सदर अस्पताल ले आए। लेकिन यहां चिकित्सक ने उसे देखा भी नही। इसके बाद इमरजेंसी ओटी में नर्स द्वारा उसे सुईं गई। सुईं देने के कुछ देर बाद उसकी मृत्यु हो गई। जिसके बाद चिकित्सक व नर्सिंग स्टाफ इमरजेंसी छोड़ फरार हो गए। सूचना मिलते ही स्थानीय थाना अपने दलबल के साथ सदर अस्पताल पहुंची। इसके बाद परिजनों को समझा-बुझाकर मामले को शांत कराया गया।

Sadar Hospital Ara
Sadar Hospital Ara

इमरजेंसी सेवाएं पूरी तरह ठप्प रही

हालांकि सुबह करीब आठ बजे तक Sadar Hospital के इमरजेंसी वार्ड से चिकित्सक व नर्सिंग स्टाफ फरार रहे और इमरजेंसी सेवाएं पूरी तरह ठप्प रही। इमरजेंसी सेवा ठप्प रहने से शहर तथा जिले के दूर-दूर से आए मरीज व उनके परिजनों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ा मरीज इलाज के लिए इधर-उधर भटकते रहे। हालांकि इस संबंध में अस्पताल प्रशासन का बयान नहीं मिल पाया है।

पढ़े :- आरा में सरेशाम युवक का गला रेता, हालत गंभीर

- Advertisment -
Slider
Slider

Most Popular