Thursday, February 25, 2021
No menu items!
Home News जमीन विवाद में महिला के साथ मारपीट, कपड़े फाड़े

जमीन विवाद में महिला के साथ मारपीट, कपड़े फाड़े

Maujampur sinha – सिन्हा ओपी के मौजमपुर गांव की घटना

Maujampur sinha आरा। भोजपुर के सिन्हा ओपी थाना क्षेत्र के मौजमपुर गांव में शुक्रवार की शाम जमीन विवाद में मारपीट के मामले में दूसरे पक्ष की ओर से भी केस दर्ज कराया गया है। इसमें एक महिला के साथ मारपीट करने और कपड़े फाड़ने का आरोप लगाया गया है। मौजमपुर निवासी रघुवीर सिंह की पत्नी हीराझरी देवी के आवेदन पर मुखिया पति और बेटे सहित छह लोगों को आरोपित किया गया है।

मुखिया पति और बेटे सहित छह लोगों के विरुद्ध दिया गया आवेदन

थाने में दिये आवेदन में कहा गया है कि हीराझरी देवी 4 दिसंबर को अपने दरवाजे पर बैठ कर मोबाइल के जरिये अपनी बेटी से बात कर रही थी। तभी मुखिया पति राजेंद्र सिंह, चुन्नु सिंह, राजकुमार सिंह, मुन्ना सिंह, रितिक सिंह व शिवम सिंह आ धमके और मारपीट करने लगे। इस दौरान गंदी नीयत से उनके कपड़े भी फाड़ दिये गये। मोबाइल और चेन भी छीन लिया गया। शोर मचाने उनके पति सहित घर के अन्य सदस्य पहुंचे और जान बचायी। बीच-बचाव करने पर सभी आरोपितों द्वारा उनके पति सहित घर के अन्य सदस्यों के साथ भी मारपीट भी की गयी। साथ ही गोली फेंक कर उनके भतीजे अजय सिंह को झूठे मुकदमे में फंसा दिया गया।

बता दें शुक्रवार की शाम जमीन विवाद में मौजमपुर गांव (Maujampur sinha) में दो पक्षों के बीच मारपीट हुई थी। उस मामले में एक पक्ष के राजकुमार सिंह द्वारा मारपीट और फायरिंग करने का केस किया गया है। उस मामले में पुलिस ने अजय सिंह को गिरफ्तार भी कर लिया है। मौके से गोली, खोखा और बुलेट बाइक बरामद की गयी थी। उस सिलसिले में पुलिस द्वारा भी अजय सिंह सहित अन्य के खिलाफ केस किया गया है।

प्रिंस सिंह बजरंगी ने अपने खिलाफ लगे आरोप से किया इनकार,कहा कि उन्हें फसाया गया

इधर, राजकुमार सिंह और पुलिस द्वारा दर्ज केस आरोपित प्रिंस सिंह बजरंगी ने अपने खिलाफ लगे आरोप से साफ इनकार किया है। उनका कहना है कि सिन्हा ओपी (बड़हरा थाना) में फर्जी मुकदमा किया गया है। कहा कि वह घटना के समय मौके पर गये पुलिस पदाधिकारी के साथ थे। पारिवारिक बंटावारा हो रहा था। अगर वे लोग दोषी थे तो पुलिस द्वारा उस समय गिरफ्तारी क्यों नहीं की गयी? कहा कि वहां फायरिंग नहीं हुई थी। उनलोगों को पूरी तरह फंसाने के लिये षड्यंत्र के तहत केस किया गया है। प्रशासन को इसकी निष्पक्ष जांच करनी चाहिए।

Khabreapki.com देखें- खबरें आपकी – फेसबुक पेज – वीडियो न्यूज – अन्य खबरें

Bhojpur-पुलिस कंट्रोल रूम के तीन नंबरों पर करें कॉल, तुरंत मिलेगी मदद

बिहार क्रिकेट संघ के तत्वाधान में आरा में 20-20 क्रिकेट टूर्नामेंट का आयोजन 9 दिसंबर से

- Advertisment -
Slider
Slider

Most Popular