Friday, June 21, 2024
No menu items!
Homeकरियरशिक्षाबच्चों के संपूर्ण विकास में माताओं का अहम योगदान-डाॅ. अर्चना सिंह

बच्चों के संपूर्ण विकास में माताओं का अहम योगदान-डाॅ. अर्चना सिंह

Mother's Day: मातृ-दिवस के उपलक्ष्य में संभावना पब्लिक स्कूल की प्रशासिका डॉ० अर्चना सिंह ने कहा की बच्चों की पहली शिक्षक उनकी माताएं होती है।

Mothers Day: मातृ-दिवस के उपलक्ष्य में संभावना पब्लिक स्कूल की प्रशासिका डॉ० अर्चना सिंह ने कहा की बच्चों की पहली शिक्षक उनकी माताएं होती है।

  • हाइलाइट :- Mothers Day
    • माताओं को स्मृति चिह्न (ट्रॉफी) एवं पुष्प गुच्छ देकर किया गया सम्मानित
    • संभावना पब्लिक स्कूल मौलाबाग में शनिवार को मातृ-दिवस के उपलक्ष्य में कार्यक्रम का आयोजन

आरा: स्थानीय मौलाबाग स्थित ‘शारदा स्मृति संभावना पब्लिक स्कूल मौलाबाग में शनिवार को मातृ-दिवस (Mothers Day) के उपलक्ष्य में समारोहपूर्वक विभिन्न कार्यक्रमों का आयोजन किया गया। उद्घाटन विद्यालय की प्रशासिका डॉ. अर्चना सिंह तथा छात्र-छात्राओं के माताओं ने संयुक्त रूप से किया।

इस अवसर पर छात्र-छात्राओं, शिक्षकों, अभिभावकों तथा बच्चों की माताओं को सम्बोधित करते हुए विद्यालय की प्रशासिका डॉ० अर्चना सिंह ने कहा की बच्चों की पहली शिक्षक उनकी माताएं होती है। माताएं ना सिर्फ बच्चों का लालन-पालन करती है, बल्कि उनमें संस्कारों का सूजन भी करती है। बच्चों के संपूर्ण विकास में माताओं का अहम योगदान होता है, उन्होनें बच्चों से कहा कि अपने घरों में बुजुर्ग माता-पिता, दादा-दादी का हमेशा ख्याल रखना और उनका सम्मान करना। उन्होने कहा कि ऐसी परिस्थिति उत्पन्न नहीं होनी चाहिए जिसमें हमारे बुजुर्गों को वृद्धाश्रम का सहारा लेना पड़े।

‘तू कितनी अच्छी है”

मातृ दिवस (Mothers Day) समारोह के अवसर पर विद्यालय के संगीत शिक्षक धर्मेद्र कुमार और महेश शर्मा के दिशानिर्देश में समुह गीत ‘तेरी उँगली पकड़ के चला” की प्रस्तुति ने सबको भाव विभोर कर दिया। उप प्राचार्या स्वाति सिंह के नृत्य परिकल्पना पर आधारित समूह नृत्य ‘तू कितनी अच्छी है” की प्रस्तुति पर दर्शक दीर्घा में बैठे सभी लोग भाव विभोर होकर तालियों बजाने लगे। लघु नृत्य नाटिका “ओ री चिरैया पर उपस्थित सभी लोग भाव-विह्वल हो गए। विद्यालय के कुछ छात्र/छात्राओं ने अपनी माताओं के बारे में अपनी भावनाओं को भी अभिव्यक्त किया।

कार्यक्रम का विशेष आकर्षण छात्र-छात्राओं की माताओं के द्वारा अपनी माताओं के बारे में अपनी भावनाओं को व्यक्त करने का था। इस मौके पर बच्चों की माताओं की प्रतिभाएं देखने लायक थी। कार्यक्रम में उपस्थित सभी माताओं को स्मृति चिह्न (ट्रॉफी) एवं पुष्प गुच्छ देकर विद्यालय की प्रशासिका डॉ. अर्चना सिंह के द्वारा सम्मानित किया गया।

मातृ दिवस (Mothers Day) के उपलक्ष्य में छात्र-छात्राओं के बीच चित्रांकन प्रतियोगिता का भी आयोजन किया गया था। प्रतियोगिता में भाग लेने वाले सभी प्रतिभागियों को मेडल और प्रमाण-पत्र देकर पुरस्कृत किया गया। साथ ही सभी बच्चों ने अपनी माताओं को गुलाब का फूल देकर सम्मानित किया।

दुनिया में मां से बड़ा कोई रिश्ता नहीं

अध्यक्षता करते हुए विद्यालय के प्रबंध निदेशक डॉ. कुमार द्विजेन्द्र ने कहा कि दुनिया में मां से बड़ा कोई रिश्ता नहीं होता। ‘मी शब्द के उच्चारण से ही हमारे मन-मस्तिष्क में एक शक्ति का संचार होता है। हम सभी का कर्तव्य है कि अपनी माताओं का सम्मान करें, हम वैसा कोई भी आचरण नहीं करें जिससे हमारी माताओं के मन को ठेस पहुंचे।

संचालन विद्यालय की शिक्षिका विनीता शर्मा ने किया। उन्होनें कार्यक्रम के दौरान एक गीत प्रस्तुत कर शमा बांध दिया। धन्यवाद ज्ञापन प्राचार्य दीपेश कुमार ने किया। इस अवसर पर बड़ी संख्या में छात्र-छात्राएँ एवम् उनकी माताएँ उपस्थित रही। मंच परिकल्पना कला शिक्षक संजीव सिन्हा ने किया। कार्यक्रम को सफल बनाने में शिक्षक अनिल कुमार, जैनेन्द्र शर्मा, चंदन कुमार और नीलम ओझा का अहम् योगदान रहा।

KRISHNA KUMAR
KRISHNA KUMAR
बिहार के आरा निवासी डॉ. कृष्ण कुमार एक भारतीय पत्रकार है। डॉ. कृष्ण कुमार हिन्दी समाचार खबरें आपकी के संपादक एवं न्यूज पोर्टल वेबसाईट के प्रमुख लोगों में से एक है।
- Advertisment -
Ara Crime - CCTV of Firing - आरा में फायरिंग का सीसीटीवी वीडियो
Ara Crime - CCTV of Firing - आरा में फायरिंग का सीसीटीवी वीडियो
Ara Crime - CCTV of Firing - आरा में फायरिंग का सीसीटीवी वीडियो
Ara Crime - CCTV of Firing - आरा में फायरिंग का सीसीटीवी वीडियो

Most Popular