Friday, December 2, 2022
No menu items!
Homeराजनीतआरा में अपराध के खिलाफ रोड पर उतरे सांसद चिराग पासवान, निकाला...

आरा में अपराध के खिलाफ रोड पर उतरे सांसद चिराग पासवान, निकाला मार्च

  • हाईलाइट
    • भोजपुर डीएम से मिलकर सौंपा ज्ञापन, बोले 9 दिनो में 9 लोगों की हत्या
    • आधा दर्जन मृतक के परिजनों से मिले सांसद, बोले: यह देख कर दुख होता है

खबरे आपकी आरा: Chirag Paswan Arrah बिहार में बढ़ते अपराध और भोजपुर में 9 दिनों में 9 हत्या की घटना से चिंतित लोजपा (रामविलास) के राष्ट्रीय अध्यक्ष सह सांसद चिराग पासवान के नेतृत्व में हजारों कार्यकर्ता गुरुवार को आरा शहर के सपना सिनेमा मोड़ से सड़क पर उतरे, इस दौरान अपराध रोको का नारा भी लगा। इसके बाद मार्च जेल रोड, टाउन थाना, भी- मार्ट मोड़ होते हुए डीएम कार्यालय पहुंचा, जहां जिलाधिकारी को चिराग पासवान के अलावे पूर्व एमएलसी हुलास पांडेय, प्रदेश महासचिव संजय पासवान ने ज्ञापन सौंपा।

Chirag Paswan Arrah

जिलाधिकारी ने भी उन्हें आश्वास्त किया की अपराध पर नियंत्रण के लिए कारगर कदम उठाये जायेंगे। इससे पहले सांसद चिराग पासवान संदेश के कोरी, पवना थाना क्षेत्र के पवार, आरा के पूर्व वार्ड पार्षद के मृत बेटे के परिजन, स्वर्ण व्यवसायी के परिजनों एवं जदयू नेता के भतीजे के परिजनों से मिले और हर संभव सहायता करने का ढांढस बंधाया। इसके बाद सर्किट हाउस में सांसद चिराग पासवान ने कहा कि बिहार में लगातार अपराध की घटना बढ़ने से अब जनमानस सशंकित है कि कहीं उसके साथ कोई अनहोनी न हो जाए.

उन्होंने कहा कि भोजपुर जिले में 9 दिनों में 9 हत्याकांड स्थिति की भयावहता बयां करती है. उन्होंने कहा कि आज उनकी पदयात्रा में शामिल होने के लिए उमड़े जनसैलाब ने यह बता दिया है कि लोग मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की कार्यशैली और उनके विफल प्रशासनिक व्यवस्था से आक्रोशित हैं. मुख्यमंत्री जी शुरू से गृह विभाग संभाल रहे हैं, पर उनसे विधि-व्यवस्था की स्थिति संभल नहीं रही है.

उन्होंने कहा कि अब तो बिहार महाजंगल राज की गिरफ्त में आ चुका है और ऐसे में यहां के लोगों के अंदर सुरक्षा का भाव पैदा करने के लिए अविलंब केन्द्र सरकार को यथोचित कदम उठाना चाहिए. पूर्व एमएलसी हुलास पांडेय ने कहा कि जिस तरह से अपराध बढ रहा है, उसको जिला प्रशासन व पुलिस प्रशासन कंट्रोल करे अन्यथा बिहार में लोग आना पसंद नही करेंगे.

Chirag Paswan Arrah:चिराग पासवान के पैदल मार्च में उमड़ा जनसैलाब

सांसद चिराग पासवान आरा के सड़क पर अपने हजारों कार्यकर्ताओं के साथ उतरे तो लोग काफी आशचर्यचकीत थे। युवाओं से लेकर बुजुर्गों की संख्या भी इस पैदल मार्च में काफी थी, जिसका नेतृत्व खुद चिराग पासवान एवं लोजपा संसदीय बोर्ड के अध्यक्ष हुलास पांडेय कर रहे थे। सबसे खास बात यह रही कि अपराध के खिलाफ निकाले गये मार्च में राष्ट्रीय उपाध्यक्ष अरूण, पूर्व मंत्री रेणु कुशवाहा की भी सहभागिता रही। शोभा देवी, गणेश उर्फ गबरू सिंह, असगर अंसारी, शशिकांत त्रिपाठी, अशोक कुमार उर्फ साधु जी सहित हजारों कार्यकर्ता उतरे थे।

चिराग ने जतायी चिंता तो, डीएम बोले, अपराध रोकने के लिए उठाया जा रहा है कारगर कदम
डीएम से ज्ञापन सौंपने के दौरान सांसद चिराग पासवान ने अपराध पर चिंता जतायी। इस पर डीएम राज कुमार ने चिराग पासवान से कहा कि अपराध को रोकने के लिए कारगर कदम उठाये जा रहे है। शहर में सौ चिन्हित स्थानों पर सीसीटीवी कैमरे से निगरानी की जायेगी। इस पर चिराग पासवान ने कहा कि यह तो अच्छी बात है, लेकिन इसमें देर क्यों लेकिन अभी तक तो लग जाना चाहिए था।

नीतीश कुमार पर बरसे चिराग
सांसद चिराग पासवान बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर जम कर बरसे, उन्होंने कहा कि लगातार हत्या हो रही है इसके बावजूद नीतीश कुमार को मृतक के परिजनों से मिलने के लिए समय नही है। इनकी पार्टी के कार्यकर्ता के परिजन की मौत हुई है। वहां भी नही गये। हां एक जगह वह जरूर जायेंगे, चुनाव प्रचार करने, अब तो समय आ गया है। उनका पेट भी ठीक हो जायेगा। मैं आशा भी करता हूं की वह जल्द ठीक हो जायेंगे।

सांसद चिराग पासवान ने संदेश के कोरी में पहुंचे जहां मृतक के आत्मा की शांति के लिए प्रार्थना की। एक सभा कर सरकार पर जमकर बरसे। उनके साथ लोजपा संसदीय बोर्ड के अध्यक्ष एमएलसी हुलास पांडेय, प्रधान महासचिव संजय पासवान, राष्ट्रीय उपाध्यक्ष अरूण कुमार, युवा के प्रदेश अध्यक्ष वेद प्रकाश, एवं पवना थाना क्षेत्र के पवार गांव के अलावे आरा के जदयू के जिला उपाध्यक्ष के मृत भतीजे के परिजनों से भी मिले। मृतक पूर्व वार्ड पार्षद के बेटे मृतक विक्की के परिजनों व मृतक स्वर्ण व्यवसायी के घर भी पहुंचे।

  • हाईलाइट
    • बिहार की जनता नीतीश से नाराज : चिराग
    • जंगलराज शब्द का नामकरण करने वाले आज उसी के साथ सत्ता में : चिराग पासवान

बिहार बचाओ यात्रा के दौरान चिराग पासवान जहां पहले वो आरा में अपराधिक घटना (Chirag Paswan Arrah) के शिकार लोगो के परिजन से मिल संवेदना प्रकट किया , जिसके बाद चिराग पासवान ने पदयात्रा किया जिसमे हजारों समर्थकों ने उनके पदयात्रा में सामिल हुए, इस दौरान जहा चिराग पासवान जिला अधिकारी से मिले जहा उन्होंने बढ़ती अपराध एवं उसके नियंत्रण को लेकर चर्चा किया।

जिलाधिकारी से चर्चा के बाद चिराग पासवान सर्किट हाउस आरा में प्रेस वार्ता किया जहा उन्होंने मौजूदा सरकार पर जम कर निशाना साधा और कहा की बिहार के मुख्यमंत्री एवं उपमुख्यमंत्री कम से कम पीड़ित परिवार के जख्म पर मलहम लगाने आए। वहीं दूसरी तरफ चिराग ने नीतीश कुमार को उनकी बात याद दिलाई जिसमे उन्होंने कहा की नीतीश कुमार ने घोषणा किया था की यदि दलित की हत्या होती है तो मुआवजा के साथ सरकारी नोकरी मिलेगी लेकिन आज तक ये नही मिला। मुख्यमंत्री सिर्फ कुर्सी की चिंता करते है न की जनता का, अपने हिसाब से समय के अनुशार गटबंधन बदलने पर चर्चा करते है ना की आमजनों की समस्या को।

चिराग पासवान ने कहा की प्रशासन अकड़ो में उलझता है ताकि उनपर कोई सवाल नही करें। नियुक्ति पत्र बाटने में भी घोटाला हुआ है, जो एक से तीन माह पहले से नौकरी कर रहें है उन्हे नियुक्ति पत्र बाट कर मौजूदा सरकार आमलोगों को भ्रमित कर रही है।

KRISHNA KUMAR
KRISHNA KUMAR
Journalist
- Advertisment -
Khabre Apki
Mantu Sonar Murder
Khabre Apki
Mantu Sonar Murder

Most Popular