Saturday, February 27, 2021
No menu items!
Home बिहार आरा भोजपुर सिरिस्ता में बैठकर डायरी लिखेंगे केस का अनुसंधान करने वाले अधिकारी

सिरिस्ता में बैठकर डायरी लिखेंगे केस का अनुसंधान करने वाले अधिकारी

Case diary – इंस्पेक्शन करने आरा पहुंचे शाहाबाद डीआईजी ने दिया आदेश

आरा। केस के अनुसंधान करने वाले पुलिस अफसरों को अब सिरिस्ता में बैठकर डायरी Case diary लिखनी होगी। इसके लिये सुबह नौ बजे से दोपहर दो बजे तक का समय दिया गया है। शाहाबाद रेंज के डीआईजी पी. कन्नन ने सोमवार को यह आदेश दिया। डीआईजी सोमवार को एसपी अॉफिस और पुलिस लाइन का सालाना निरीक्षण करने आरा पहुंचे थे। करीब 6 घंटे तक चले इंस्पेक्शन के दौरान उन्होंने सभी विभागों का जायजा लिया। इस दौरान पदाधिकारियों और कर्मियों का आवश्यक दिशा निर्देश दिया। इसके पूर्व उन्होंने जिले के सभी डीएसपी व सर्किल इंस्पेक्टरों के साथ बैठक की। इसमें अपराध पर नियंत्रण और फूट पेट्रोलिंग से संबंध में निर्देश दिया।

  • डीआईजी ने केस डिस्पोजल की गति में तेजी लाने का दिया आदेश

उन्होंने लंबित कांडों के डिस्पोजल पर भी जोर दिया और  अनुसंधान करने वारे सभी अफसरों को  सुबह 9 बजे से दोपहर 2 बजे तक सिरिस्ता में बैठ डायरी Case diary लिखने को कहा। वहीं केस डिस्पोजल की गति बढ़ाने का भी टास्क दिया। केसों की समीक्षा के दौरान नगर और नवादा में 500 से 1000 के बीच केस दर्ज होने के मामले सामने आये। इसे लेकर उन्होंने दोनों थाना इंचार्ज को लंबित कांडों के डिस्पोजल में तेजी लाने को कहा गया। इंस्पेक्शन के दौरान एसपी हर किशोर राय, सदर एसडीपीओ पंकज कुमार रावत, मुख्यालय डीएसपी रामपुकार सिंह, पीरो एसडीपीओ अशोक कुमार आजाद, जगदीशपुर एसडीपीओ श्याम किशोर रंजन समेत सभी इंस्पेक्टर मौजूद थे।

Khabreapki.com देखें- खबरें आपकी – फेसबुक पेज – वीडियो न्यूज – अन्य खबरें
हर्ष फायरिंग पर एसपी के तेवर तल्ख, सभी थानों को जारी हुआ आदेश

- Advertisment -
Slider
Slider

Most Popular