Tuesday, February 27, 2024
No menu items!
Homeआरा भोजपुरशाहपुरसरपंच एवं मुखिया समर्थकों ने मचाया बवाल, भोजपुर पुलिस पर पथराव

सरपंच एवं मुखिया समर्थकों ने मचाया बवाल, भोजपुर पुलिस पर पथराव

Shahpur Police – Bariswan: भोजपुर जिले के शाहपुर थाना क्षेत्र के बरिसवन गांव में पूर्व के विवाद को लेकर बुधवार की सुबह सरपंच एवं मुखिया समर्थकों द्वारा गांव के ही भोला पासवान की जबरदस्त पिटाई कर दी गई।

  • हाइलाइट :-
    • शाहपुर थाना क्षेत्र के बरिसवन गांव में एक युवक की पिटाई का मामला
    • मुखिया प्रतिनिधि रिंकु तिवारी को शाहपुर थाना पुलिस ने किया था गिरफ्तार
    • सरपंच व मुखिया प्रतिनिधि के समर्थकों द्वारा पुलिस पर किया गया पथराव

Shahpur Police – Bariswan आरा/शाहपुर: भोजपुर जिले के शाहपुर थाना क्षेत्र के बरिसवन गांव में पूर्व के विवाद को लेकर बुधवार की सुबह सरपंच एवं मुखिया समर्थकों द्वारा गांव के ही भोला पासवान की जबरदस्त पिटाई कर दी गई। पिटाई से भोला पासवान गंभीर रूप से घायल हो गया। सूचना पर पहुंची पुलिस द्वारा घायल को इलाज के लिए शाहपुर रेफरल अस्पताल लाया गया। जहां प्राथमिक उपचार के बाद गंभीर रूप से जख्मी भोला पासवान को सदर अस्पताल आरा रेफर कर दिया गया।

वही इस घटना को लेकर जख्मी के परिजनों द्वारा स्थानीय प्रशासन से लेकर एसपी तक को फोन किया गया। जिसके बाद शाहपुर थानाध्यक्ष प्रमोद कुमार के साथ पुलिस बल घटना स्थल पर पहुंची। पुलिस ने त्वरित कार्रवाई करते हुए मुखिया प्रतिनिधि रिंकु तिवारी को गिरफ्तार कर लिया।

पुलिस द्वारा गिरफ्तार आरोपित को बरिसवन से शाहपुर लाने के क्रम में सरपंच व मुखिया प्रतिनिधि रिंकु तिवारी के समर्थकों द्वारा पुलिस पर पथराव कर दी गई। वही अपने बचाव में भीड़ को तीतर बितर करने को लेकर थानाध्यक्ष प्रमोद कुमार द्वारा तीन राउंड हवाई फायरिंग की गई। फायरिंग के बाद भीड़ में भगदड़ मच गई।

इधर, घटना के बाद जगदीशपुर एसडीपीओ राजीव चंद्र सिंह के नेतृत्व में शाहपुर, बिहिया थाना, करनामेपुर ओपी व बहोरनपुर ओपी की पुलिस बरिसवन पहुंची एवं कई घरों में घुसकर सर्च किया। सर्च के दौरान पुलिस ने एक देसी कट्टा व एक जिंदा कारतूस बरामद किया।

स्थानीय थाना पुलिस के अनुसार भोला पासवान एवं मुखिया प्रतिनिधि रिंकू तिवारी के बीच शाहपुर थाना कांड संख्या 466/23 तथा 467/23 चल रहा है। जिसमें सरकारी राशि के गबन का मामला है। कांड के पर्यवेक्षण के दौरान भोला पासवान द्वारा गवाही दी गई थी। इसके बाद से दोनों पक्षों के बीच विवाद चल रहा था। इधर घटना को लेकर पूरे दिन पुलिस एवं शाहपुर सीओ श्रेया मिश्रा एवं बीपीआरओ राजेश प्रसाद द्वारा कैंप किया गया।

- Advertisment -

Most Popular