Wednesday, April 24, 2024
No menu items!
HomeNewsCrimeपंचायती होनी थी लेकिन बढ़ गई बात, बिहार में तीन लोगों की...

पंचायती होनी थी लेकिन बढ़ गई बात, बिहार में तीन लोगों की हत्या

Three murder – Fatuha Surgapar: बिहार के पटना जिले में दूध के बकाया को लेकर उपजे विवाद में तीन लोगों की हत्या कर दी गई। मामला फतुहा थानांतर्गत सूरगापर इलाके का है। यह खूनी वारदात गुरुवार देर रात करीब साढ़े 10 बजे हुई। इसके बाद पूरे इलाके में सनसनी मच गई। मृतकों की पहचान प्रदीप कुमार (35), शैलेश कुमार (40) और जय सिंह (50) के रूप में की गई है। वहीं, 22 साल का युवक मिंटूस कुमार गोलीबारी में घायल है। बेहतर इलाज के लिए उसे एनएमसीएच भेजा गया है।

Three murder – Fatuha Surgapar: दूध के बकाया रुपये को लेकर दो गुटों में खूनी वारदात

इस घटना के बारे में पटना के एसएसपी राजीव मिश्रा के अनुसार दूध के बकाया रुपये को लेकर दो गुटों में विवाद चल रहा था। एक पक्ष के लोग रुपये मांगने के लिए गए थे। इसी दौरान दोनों के बीच बकझक हुई। फिर एकाएक गोलियां चलने लगीं जिसमें चार लोग घायल हो गए। गोलियां दोनों पक्षों की ओर से चली हैं। तीन लोगों की हत्या की खबर मिलते ही मौके पर कई थानों की पुलिस पहुंच गई। फतुहा डीएसपी ने घटना की छानबीन शुरू कर दी। प्रथमदृष्टया यह बात सामने आई है कि एक पक्ष से प्रदीप जबकि दूसरी ओर से जय सिंह अगुआ थे।

23
23

जमीन विवाद के मामला सहित कई पहलू पर छानबीन
घटनास्थल पर पहुंचे फतुहा डीएसपी सियाराम यादव ने बताया कि इस घटना को लेकर कई पहलुओं पर पुलिस छानबीन कर रही है। जमीन विवाद का मामला भी सामने आ रहा है। हालांकि ग्रामीणों ने घटना का कारण दूध के बकाये पैसे को लेकर चल रहा विवाद बताया है।

फतुहा अस्पताल में लगी ग्रामीणों की भीड़
तीन लोगों की हत्या के बाद ग्रामीणों की भीड़ फतुहा अस्पताल में जमा हो गई। भारी संख्या में जमा लोग शव को पोस्टमार्टम के लिये ले जाने से रोक रहे थे। हालांकि बाद में पुलिस के समझाने में ग्रामीण मान गये। इसके बाद शवों को पोस्टमार्टम के लिए देर रात साढ़े 12 बजे एनएमसीएच भेजा गया।

दूध के रुपये को लेकर पंचायती होनी थी लेकिन बढ़ गई बात
ग्रामीणों ने बताया कि दोनों पक्षों के बीच दूध के रुपये को लेकर पंचायती होनी थी। उन्हें जानने वाले दोनों को साथ बैठाकर बातचीत के जरिए बकाये रुपये के विवाद का हल निकालने के पक्ष में थे। लेकिन इसी बीच दोनों पक्षों के बीच बात बढ़ गई।

- Advertisment -
Vikas singh
Vikas singh
sambhavna
aman singh

Most Popular

Don`t copy text!