Wednesday, March 3, 2021
No menu items!
Home News रास्ट्रीय खबरें झारखंड में 86 लाख की धोखाधड़ी में आरोपित महिला भोजपुर से गिरफ्तार

झारखंड में 86 लाख की धोखाधड़ी में आरोपित महिला भोजपुर से गिरफ्तार

सिन्हा ओपी के छिनेगांव से गिरफ्तार कर महिला को ले गयी झारखंड पुलिस

मेडिकल जांच के दौरान आरा सदर अस्पताल से भी किया भागने का प्रयास

मशक्कत के बाद पुलिस ने पोस्टमार्टम हाउस के समीप झुग्गी से दबोचा

Woman-accused-in-police-arrest.jpg
धोखाधड़ी के मामले आरोपित एक महिला को पुलिस ने भोजपुर से गिरफ्तार कर लिया

आरा। झारखंड में बैंक से लाखों की धोखाधड़ी के मामले आरोपित एक महिला को पुलिस ने भोजपुर से गिरफ्तार कर लिया गया। बुधवार की रात उसे सिन्हा ओपी क्षेत्र के छिनेगांव से गिरफ्तार किया गया। वह झारखंड के बोकारो जिला के चास की रहने वाली दीप्ति सिंह उर्फ तृप्ति है। उसका छिनेगांव में मायका होने की बात कही जा रहा है। उस पर अपने पति के साथ बैंक के साथ धोखाधड़ी कर 86 लाख रुपये हड़पने का आरोप है। वह पति द्वारा बैंक से लिये गये 86 लाख के लोन में गारंटर थी।

गिरफ्तारी के बाद गुरुवार की सुबह भी उसने झारखंड पुलिस को खूब छकाया। मेडिकल जांच के लिये आरा सदर अस्पताल लाये जाने के बाद वह पुलिस को चकमा देकर भाग गयी। इससे पुलिस के होश उड़ गये। हालांकि कड़ी मशक्कत के बाद उसे सदर अस्पताल कैंपस में स्थित पोस्टमार्टम हाउस के बगल की झुग्गियों से बरामद कर लिया गया। बाद में पुलिस उसे अपने साथ लेकर चली गयी।

इलाज के लिये आरा सदर अस्पताल लाये जाने के क्रम में बुजुर्ग ने तोड़ा दम

झारखंड पुलिस के अनुसार दीप्ति सिंह के पति ने बोकारो जिले के चास बाईपास रोड स्थित बैंक ऑफ इंडिया शाखा से 86 लाख रुपए का लोन लिया था। उसके बाद दंपती वहां से गायब हो गया। उसे लेकर ब्रांच मैनेजर राजेश सिंह के बयान पर 7 जून 2018 को दीप्ति सिंह उर्फ तृप्ति सिंह, इसके पति रोहित राज व देवर सहित चार लोगों के खिलाफ बोकारो के चास थाने में प्राथमिकी दर्ज करायी गई थी। छानबीन में मिली जानकारी के आधार पर झारखंड की चास थाना की पुलिस बुधवार की रात भोजपुर पहुंची और स्थानीय पुलिस की मदद से उसे गिरफ्तार कर लिया।

Police-caught-after-a-lot-of-struggle.jpg
झारखंड पुलिस को जमकर छकाया

तीन-तीन पुलिसकर्मियों की अकेली महिला ने जमकर दौड़ाया

आरा। गिरफ्तारी के बार धोखाधड़ी में आरोपित महिला ने गुरुवार की सुबह झारखंड पुलिस को जमकर छकाया। उसे खोजने में तीन-तीन पुलिसकर्मियों के पसीने छुट गये। हुआ यह कि गिरफ्तारी के बाद मेडिकल जांच कराने के लिये पुलिस उसे लेकर सदर अस्पताल पहुंची। इसी दौरान मौका देख वह पुलिस की चंगुल से भाग निकली। इस दौरान वह पोस्टमार्टम हाउस के बगल में स्थित झुग्गी में छुप गयी। वहीं उसे भागते पुलिसकर्मी सकते में पड़ गये। पुलिस कर्मियों ने उसका पीछा करना शुरू कर दिया। काफी मशक्कत के बाद उसे खोज निकाला गया। आरा पहुंची झारखंड पुलिस के अनुसार दीप्ति सिंह के देवर को पूर्व में गिरफ्तार कर लिया गया है। जबकि उसका पति अभी फरार चल रहा है। उसकी गिरफ्तारी के लिये छापेमारी की जा रही है।

Police-caught-after-a-lot-of-struggle.jpg
भोजपुर पुलिस की मदद से गिरफ्तार

और भी पढ़े – खबरें आपकी-फेसबुक पेज

जिला बाल संरक्षण इकाई की सहायक निदेशक रश्मि चौधरी ने करवाया अन्नप्राशन

- Advertisment -
Slider
Slider

Most Popular