Saturday, March 6, 2021
No menu items!
Home News Crime रंगदारी नहीं देने पर मॉल संचालक को मारी थी गोली, एक गिरफ्तार

रंगदारी नहीं देने पर मॉल संचालक को मारी थी गोली, एक गिरफ्तार

Bangauti Chauri पहले बाइक को रोका, फिर बोला जाओ और मार दी गोली

खबरे आपकी आरा। भोजपुर के चौरी थाना क्षेत्र के बंगौटी (Bangauti Chauri) गांव के पास शुक्रवार की रात बदमाशों ने एक मॉल संचालक को गोली मार दी थी। उनका इलाज शहर के बाबू बाजार स्थित एक प्राइवेट अस्पताल में कराया जा रहा है। जख्मी संचालक सिकरहट्टा थाना क्षेत्र के बागर गांव निवासी विनायक राय हैं। उनका मोपती बाजार में कपड़े का मॉल है। बदमाशों की संख्या दो बतायी जा रही है। दोनों बंगौटी गांव के ही रहने वाले हैं। गोली मारने का कारण रंगदारी नहीं देना बताया जा रहा है।

आरा से घर जाने के दौरान रास्ते में रोक कर व्यवसायी को मारी गयी थी गोली

मॉल संचालक के अनुसार उनसे पचास हजार रुपये मांग की गयी थी। घटना के बाद चौरी थाना की पुलिस ने राजन कुमार नामक एक आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। जख्मी मॉल संचालक के अनुसार वह शुक्रवार की पत्नी और मां के साथ आरा आया था। रात में सभी बाइक से घर लौट रहे थे। रात करीब नौ बजे बंगौटी गांव के पास पहुंचे, तो दो अपराधियों ने बाइक रोक दी। उसके बाद उसे गोली मार दी और भाग निकले। गोली की आवाज सुन आसपास के लोग पहुंचे और इलाज के लिये आरा लाया गया।

बंगौटी गांव के दो लोगों पर आरोप, पूरी रात धरपकड़ में जुटी रही पुलिस

इस सिलसिले में जख्मी मॉल संचालक के फर्दबयान पर दो लोगों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की जा रही है। उसमें बंगौटी गांव निवासी उपेंद्र सिंह व राजन कुमार को आरोपित किया गया है। पुलिस मामले की छानबीन और आरोपितों की धरपकड़ में जुटी है। रंगदारी सहित अन्य एंगल से भी पुलिस तफ्तीश कर रही है। पुलिस के अनुसार उपेंद्र सिंह का पहले से भी दागी रहा है।

पहले बाइक को रोका, फिर बोला जाओ और मार दी गोली

आरा। मॉल संचालक विनायक राय के अनुसार शुक्रवार की देर शाम वह आरा से अपने गांव लौट रहा था। उसके साथ पत्नी और मां भी थी। पत्नी उसकी बाइक पर थी, जबकि मां दूसरी गाड़ी पर थी। रात करीब नौ बजे बंगौटी (Bangauti Chauri) स्थित आंगनबाड़ी के पास पहुंचे, तो दो लोगों द्वारा बाइक रोकने का इशारा किया गया। इस पर उसने अपनी बाइक रोक दी। तब दोनों पूछने लगे कि बाइक क्यों रोक दी? फिर दोनों कहने लगे की जाओ। इस पर उसने कहा कि आप लोग रंगदार हो क्या? उसके बाद राजन ने कनपट्टी पर पिस्टल दिया। वहीं उपेंद्र सिंह द्वारा गोली चला दी गयी, जो उसकी पंजरी में लग गयी। 

चार दिन पहले मांगे गये थे पैसे, अंजाम भुगतने की दी गयी थी धमकी

आरा। मॉल संचालक विनायक राय ने बताया कि करीब चार रोज पहले दोनों उसके माॅल में आये थे। तब दोनों ने उनसे पचास हजार रुपये की मांग की गयी थी। पैसे नहीं देने पर अंजाम भुगतने की धमकी भी दी गयी थी। कहा गया था कि पैसे नहीं देने पर मॉल चलने नहीं दिया जायेगा। तब इस बात को उन्होंने मजाक में लिया था। लेकिन इसी बीच घटना हो गयी।

soldier suicide in Ara-आरा में महिला सिपाही ने की खुदकुशी

- Advertisment -
Slider
Slider

Most Popular