Wednesday, March 3, 2021
No menu items!
Home News भोजपुर- अंग्रेजो के जमाने के ढहे पुल का निरीक्षण करने पहुंचे अभियंता

भोजपुर- अंग्रेजो के जमाने के ढहे पुल का निरीक्षण करने पहुंचे अभियंता

बोले अभियंता: पुल को तोड़कर नया पुल बनाने का प्रस्ताव भेजा जाएगा

आरा।बिहिया(कौशल मिश्रा/दिलीप ओझा) : बिहिया – तियर पथ पर भड़सरा गांव के समीप अंग्रेजो के जमाने से बना सिंगल लेन पुल के टूटने की के खबर “खबरे आपकी न्यूज पोर्टल” पर चलाया गया था। जिसपर संज्ञान लेते पथ निर्माण मंत्री के पहल पर पीडब्लूडी के सहायक अभियन्ता सुरेश कुमार शुक्रवार को मौके पर पहुँचे। इस दौरान उन्होंने पुल और पुल के टूटे हुए भाग का बारीकी से निरीक्षण किया।

पूर्व मुख्यमंत्री विन्देश्वरी दुबे के क्षेत्र में ढ़ह गया अंग्रेजो के जमाने का बना पुल

सहायक अभियंता ने कहा कि फिलहाल पुल के जर्जर भाग को तोड़ कर रिस्टोर किया जाएगा। ताकि सुरक्षित परिचालन सुनिश्चित किया जा सके। इसके साथ ही पुरे पुल को तोड़ कर नया पुल बनाने का प्रस्ताव आगे बढ़ाया जाएगा।

कोरोना जांच की खबर नही की तो मानकर चले रिपोर्ट निगेटिव- सीएस

बताते चलें कि गुरुवार को गारा चुना से बने इस वर्षो पुराने पुल पर अचानक बड़ा होल बन गया इस दौरान वाहन होल में गिरते गिरते बचे। फिलहाल बाइक ऑटो को छोड़ सभी तरह के वाहनों का परिचालन बंद हो गया है।यह सड़क पहले आरईओ के जिम्में था।

कंटेनमेंट जोन में नियमों का उल्लंघन करने वालो के विरूद्ध प्राथमिकी दर्ज कराने का निर्देश

पूर्व मुख्यमंत्री विन्देश्वरी दुबे जब इस क्षेत्र का प्रतिनिधित्व कर रहे थे उसी समय यह रोड पीडब्लूडी को सौपा गया। गड्ढ़े में तब्दील इस सड़क का दिन लौटा भाजपा जद यु की पहली सरकार में। करोड़ों की लागत से बिहिया से तियर तक के 15 किलोमीटर लम्बी सड़क को डबल करते हुए बेहतर बनाया गया था।पर दुर्भाग्य से निर्माण एजेंसी व विभागीय अधिकारीयों ने इस पुल के भविष्य पर कोई संज्ञान नही लिया जिसके कारण पुल अपने पुराने स्वरुप में सिंगल लेन ही रह गया। बारिश के कारण इसका दक्षिणी किनारा कई दिनों से दब रहा था जिसके कारण आशंका थी कि पुल ढहेगा जो सच साबित हुआ।

और भी पढ़े – खबरें आपकी-फेसबुक पेज

- Advertisment -
Slider
Slider

Most Popular