Tuesday, March 2, 2021
No menu items!
Home News भोजपुर में ढ़ह गया अंग्रेजो के जमाने का बना पुल

भोजपुर में ढ़ह गया अंग्रेजो के जमाने का बना पुल

पुल के ढहने से वाहनों का परिचालन बाधित-दर्जनों गांवों का संपर्क टूटा

पुल में ऐसा बना है होल की आंखे फटी रह गई

आरा।बिहिया (जितेन्द्र कुमार) बिहिया – तियर पथ पर भड़सरा गांव के समीप अंग्रेजो के जमाने में बना सिंगल लेन के पुल पर हादसा होने से बच गया। गुरुवार को गारा चुना से बना यह पुल अचानक ढ़ह गया और इसमें बड़ा होल बन गया। इस दौरान वाहन गिरते गिरते बचे। वही बाइक ऑटो को छोड़ सभी तरह के वाहनों का परिचालन बंद हो गया।

शाहपुर कार्यपालक पदाधिकारी के खिलाफ एससी-एसटी एक्ट के तहत शिकायत

फिलहाल होल के बगल में बालू के बोरे से घेर दिया गया है।यह सड़क पहले आरईओ के जिम्में था। पूर्व मुख्यमंत्री विन्देश्वरी दुबे जब इस क्षेत्र का प्रतिनिधित्व कर रहे थे उसी समय यह रोड पीडब्लूडी को सौपा गया। गड्ढ़े में तब्दील इस सड़क का दिन लौटा भाजपा जद यु की पहली सरकार में। लगभग 8 करोड़ की लागत से बिहिया से तियर तक के 15 किलोमीटर लम्बी सड़क को डबल करते हुए बेहतर बनाया गया जिसके कारण आज भी यह सड़क राजपथ की तरह दिखती है।

भोजपुर जिले में 23 पुलिस अफसरों को थानों व ओपी में पोस्टिंग भोजपुर एसपी सुशील कुमार ने की 

पुल के ढहने से वाहनों का परिचालन बाधित-दर्जनों गांवों का संपर्क टूटा

पर दुर्भाग्य से निर्माण एजेंसी व विभागीय अधिकारीयों ने इस पुल के भविष्य पर कोई संज्ञान नही लिया जिसके कारण पुल अपने पुराने स्वरुप में सिंगल लेन ही रह गया।बारिश के कारण इसका दक्षिणी किनारा कई दिनों से दब रहा था जिसके कारण आशंका थी कि पुल ढहेगा। फिलहाल इसका होल बढ़ता जा रहा है।एक दो दिन तक छोटी गाड़ियों का परिचालन जारी रहेगा तो पुल का एक भाग जमींदोज होना तय है जिसके कारण प्रखंड मुख्यालय से दर्जनों गांव के अलावे बक्सर जिला के कई गावो का संपर्क टूट जाएगा।यह सड़क बिहिया से तियर होते हुए बक्सर जिला के बगेन कोरान सरैया डुमराँव तक जाने का शर्ट कर्ट और सुगम रास्ता है जिसका उपयोग लोग करते रहे है।

भोजपुर में ढ़ह गया अंग्रेजो के जमाने का बना पुल

कंटेनमेंट जोन में नियमों का उल्लंघन करने वालो के विरूद्ध प्राथमिकी दर्ज कराने का निर्देश

और भी पढ़े – खबरें आपकी-फेसबुक पेज

- Advertisment -
Slider
Slider

Most Popular